7 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: kya 6 वीक ki pregnancy के ultrasound mei twince baby के hone ka pta lg skta एच

2 Answers
सवाल
Answer: Hello...dear आमतौर पर पहली तिमाही में दो स्कैन किए जाते हैं। छह से नौ सप्ताह के बीच डेटिंग व वायबिलिटी स्कैन और 11 और 13 सप्ताह के बीच अर्ली मोर्फोलॉजी स्कैन या एनटी स्कैन। आपको गर्भावस्था की पुष्टि के लिए स्कैन की जरुरत नहीं होती है, मगर शुरुआती हफ्तों में स्कैन कराने से निम्न बातों का पता चलता है: #गर्भाशय में शिशु सही स्थिति में है या नहीं #स्कैन के दौरान आप शिशु की धड़कन सुन सकती हैं, शिशु का दिल आमतौर पर छह हफ्तों के आसपास धड़कने लगता है। #शिशु के जन्म की सही नियत तिथि का पता लगाना। #अगर, आपको कोई रक्तस्त्राव या खून के धब्बे हो रहे हैं, तो इनका कारण पता लगाना। #यह पता लगाना कि आपके गर्भ में कितने शिशु पल रहे हैं...Ok take care ...dear
Answer: जी हां.. सबसे पहला स्कैन बच्चे की संख्या गर्भाशय में उसकी स्थिति बच्चे की हार्ट बीट जाने के लिए की जाती है ... इसमें आपकी twince प्रेगनेंसी का पता चल सकता है।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: kya 6 week ki pregnancy k ultrasound mei twins baby hone ka pta chl jata h ?
उत्तर: हेलो डियर 6 वीक के अल्ट्रासाउन्ड में ये पता चलना की आपको ट्विन्स है ये मुशिक्ल होता है ये 10-11 वीक के अल्ट्रासाउन्ड में पता चलता है kai बार ये पहले तिमाही के अल्ट्रासाउन्ड में पता लगा पाना मुशिक्ल होता है क्योकी एक गर्भाशय एक दूसरे के आगे पीछे होते है ऐसे में हम दूसरे तिमाही में ही पता लगा पाते है कि गर्भ में सिंगल बेबी है या ट्विन्स
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: प्रेगनेंसी टेस्ट किट में गर्भपात होने का pta lg जाएगा
उत्तर: प्रेगनेंसी टेस्ट किट से प्रेगनेंसी का पता लग जाता है गर्भपात होने का पता नहीं लगता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: प्रसव के बारे एम कैसे पता लग सकता ः की अब बेबी की डिलेवरी होने वाली ः
उत्तर: हेलो 39 वीक की प्रेगनेंसी चल रही है परेशान ना होl ड्यू डेट के आसपास आपको लेबर पर होगा जिसके कुछ विशेष लक्षण होते हैं जिसके आधार पर आपको यह स्पष्ट हो जाएगा कि डिलीवरी का टाइम आ चुका है लेबर पेन के समय आपको पीरियड के समय जिस प्रकार पेट में दर्द होता है उसी प्रकार का दर्द का अनुभव होने लगेगा |पेट में खराबी ,लूज मोशन ,बार बार पॉटी जाने का अनुभव होने लगेगा| सफेद पानी का अधिक मात्रा में निकलना या फिर सफेद पानी के साथ हल्के गुलाबी रंग का द्रव भी बाहर निकलने लगेगा |कमर में दर्द' बैक व कमर में दर्द का एहसास बढ़ते जाएगा |पेट में रुक रुक कर दर्द होने लगेगा और कभी दर्द में कमी होगी और कभी दर्द तेज रूप से होगा |अगर इस प्रकार के लक्षण आपको अनुभव हो तो आप तुरंत ही अपने चिकित्सक से संपर्क करें|
»सभी उत्तरों को पढ़ें