15 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: sonografi kon konse month m hoti h?

1 Answers
सवाल
Answer: पहले सोनोग्राफी दूसरे महीने में होती है जो कि 7 से 9 weeks के बीच में होती है दूसरी सोनोग्राफी 18 और 20 वीक के बीच में होती है यानी पांचवे महीने में होती है तीसरी सोनोग्राफी 36 से 40 week के बीच में होती है यानी नवे महीने में होती है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: sonografi kis kis month me hoti h
उत्तर: आप डॉक्टर से लिखवये बीना सोनो graphy नही करवा सकती . पहला सोनोग्राफी बच्चे की हार्ट बीट और बच्चे की संख्या जानने के लिए 8 से 9 वीक में किया जता है ..फ़िर दूसरा स्कैन NT स्कैन होता है जो 11 से 14 वीक के andar किया जता है . जिसमें बच्चे के गर्दन के पीछे की स्किन के नीचे तरल की मात्रा नाक की हड्डी की मोटाई बच्चे की ग्रोथ . गर्भाशय ये सब चेक करने के लिए किया जाता है... फिर tesara स्कैन 18 से 21week में बच्चे के शारीरिक विकृति या anamoly स्कैन बच्चे के बॉडी पार्ट्स के विकास और विक्रिति और गर्भाशय मे कितना पानी है बच्चे का ग्रोथ यह सब चेक किया जाता है .. फ़िर chwtha स्कैन बच्चे का ग्रोथ जानने के लिए .. गर्भाशय का पानी ये सब चेक करने के लिए किया जाता है ..अगर जरुरत पड़ी तो अखिर में एक और स्कैन किया जा सकता है ... आप डॉक्टर से मिल लीजिए इससे वो आपको स्कैन लिखकर दे देंगे जो आपके वीक के हिसाब से ज़रूरी होगा ...आप परेशान ना हों ..और अपना ध्यान रखे..
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: sonografe kon konse month me hoti h
उत्तर: हेलों आप 10 वीक प्रेगनेट है आमतौर पर बच्चे की ग्रोथ का पता लगाने के लिए डॉक्टर तीन बार अल्ट्रासाउंड टेस्ट कराते हैं। अल्ट्रासाउंड टेस्ट दूसरे महीने में बच्चे की धड़कन जानने के लिए, चौथे महीने में बच्चे का विकास देखने के लिए और आखिरी महीने में बच्चे की स्थिति देख कर डिलिवरी plan करने के लिए . अगर बच्चे या माँ किसी को भी कोई हेल्थ इशू है तो डोक्टर की सलाह से 3 से ज़्यादा बार अल्ट्रासाउन्ड कराया जा सकता है एक बच्चे की हार्ट बीट 6-7 वीक्स के आसपास आती है जो कि आपके बेबी की आ चुकी होगी आप अल्ट्रासाउन्ड करवा कर बेबी ग्रोथ और हार्ट बीट क्लियर कर सकती है .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: sonografi kon konse month m hoti h?
उत्तर: हेलों आमतौर पर बच्चे की ग्रोथ का पता लगाने के लिए डॉक्टर तीन बार अल्ट्रासाउंड टेस्ट कराते हैं। अल्ट्रासाउंड टेस्ट दूसरे महीने में बच्चे की धड़कन जानने के लिए, चौथे महीने में बच्चे का विकास देखने के लिए और आखिरी महीने में बच्चे की स्थिति देख कर डिलिवरी plan करने के लिए . अगर बच्चे या माँ किसी को भी कोई हेल्थ इशू है तो डोक्टर की सलाह से 3 से ज़्यादा बार अल्ट्रासाउन्ड कराया जा सकता है अल्ट्रासाउन्ड ज़्यादा कराने से बच्चे पर कोई नेगटिव इफ़ेक्ट नही पड़ता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें