11 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: kon kon se month me सोनोग्राफी hoti h

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर प्रेगनेंसी पूरे 9 महीनों की होती है तो उन 9 महीनों में देना तिमाही में सोनोग्राफी कराया जा सकता है मगर हमेशा डॉक्टर के सलाह से ही प्रेगनेंसी में सोनोग्राफी करवाना चाहिए
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: scaning kitni bar hoti h pregnacy me or kon kon se month me
उत्तर: यदि आप की प्रेगनेंसी नॉरमल और हेल्दी चल रही है तो पूरी प्रेगनेंसी में 3 अल्ट्रासाउंड होते हैं पहला अल्ट्रासाउंड आपको 6 से 9 सप्ताह के बीच में कराना चाहिए इससे आपको डिलीवरी की अनुमानित तारीख का पता चलता है और भ्रूण की धड़कन की जांच होती है और यह भी जांच की जाती है कि प्रेगनेंसी सही जगह पर है या नहीं। दूसरा अल्ट्रासाउंड आप 18 से 22 सप्ताह के बीच करा सकते हैं इस अल्ट्रासाउंड में यह देखा जाता है कि बच्चे का विकास ठीक प्रकार से हो रहा है या नहीं। तीसरा अल्ट्रासाउंड आप की डिलीवरी होने के पहले किया जाता है इस अल्ट्रासाउंड के विषय में आपके डॉक्टर आपको पहले बता देंगी कि आपको कब कराना है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: ulti kon se month tak hoti h
उत्तर: हेलो डियर प्रेग्नेन्सी में उलटी कभी कुछ महिनो तक ही होती है तो कभी कभी किसी को पूरे 9 महिनो तक होटी है ऑर यह बिल्कुल नॉर्मल है इसके लिए आपको बल्कुल भी परेशान होने की आवश्कता नही किन्तु ध्यान देने की बात यह है कि आपको अपने खानपान मे और भी जादा सतकता रखनी पढेगी ताकि आपका बेबी पूरी तरह स्वथ रह सके इसके लिए आप पूरी तरह से संतुलित आहार ले तथा उल्टी होने की स्थित मे कोशिश करे कि जादा तला भुना ना खाए जितना हो सके हल्का भोजन करे एक ही बार मे पेट भरकर ना खाऐ दिन भर मे थोढा थोढा करके खाऐ इससे आपका पेट जादा नही भरेगा और खाना को पचने मे आसानी होगी और आप जादा उल्टी होने से बच पाये। तथा तरल वस्तुओ का इस्तमाल जादा से जादा करे ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam सोनोग्राफी kon se month me kar bani chahiye
उत्तर: हेलो डियर ,,,अब तक आपने पहली तिमाही में सोनोग्राफी कराई है मतलब पहले महीने से तीसरे महीने के बीच में सोनोग्राफी कराई है उसी प्रकार आपने दूसरी तिमाही 3 से 6 माह के बीच आपने सोनोग्राफी krani होगी |अगर इसमें किसी भी प्रकार की कॉन्प्लिकेशन नहीं है और आपकी प्रेगनेंसी सामान्य अवस्था में चल रही है तो आपको सोनोग्राफी कराने की आवश्यकता नहीं है लेकिन यदि आपको किसी भी प्रकार की परेशानी या चिकित्सक के सुझाव से आप साथ देते नौवें महीने के बीच भी सोनोग्राफी करा सकती हैं क्योंकि अगर प्रेगनेंसी में कोई परेशानी आए आए तो इसका पता केवल सोनोग्राफी के द्वारा ही पता चलता है|
»सभी उत्तरों को पढ़ें