18 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: Kesar konse mahine se pina chahiye??

2 Answers
सवाल
Answer: हेलो आप केसर प्रेग्नेन्सी की पहली तिमाही के बाद मिल्क के साथ ले सकती है लेकिन इसका सेवन सिमित मात्रा में करे lएक दो रेशे केसर ही paryapt है ,इसका अधिक सेवन करने से गर्भवती महिला और उसके बच्चे को नुकसान भी हो सकता है।गर्भावस्था के दौरान शरीर में हार्मोन में बदलाव आने की वजह से उन्हें हैवी फूड नहीं पच पाता जिस वजह से अक्सर महिलाओं का पेट खराब रहता है। ऐसे में केसर वाला दूध पीने से पाचन मजबूत होती है प्रैग्नेंसी के दौरान महिलाओं को तनाव की वजह से ब्लड प्रेशर की समस्या हो जाता है। केसर दूध का सेवन करने से ब्लड प्रेशर संतुलित रहता है l
Answer: प्रेगनेंसी के टाइम पर केसर वाला दूध पांचवे महीने से ही लेना चाहिए एक गिलास में केसर के चार रेशे ही काफी 1 दिन में गर्भावस्था के दौरान आपको केसर वाला दूध जरूर पीना चाहिए इससे गर्भावस्था में होने वाली घबराहट कम हो जाती है केसर का दूध पीने से बच्चे का रंग साफ होता है इससे ब्लड प्रेशर भी संतुलित रहता है जिससे आंखों के लिए फायदा होता है आपकी नजर कभी भी कमजोर नहीं होगी डाइजेशन को मजबूत बनाते हैं नार्मल डिलीवरी के चांस बढ़ जाते हैं
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: kesar or dudh konse mahine se pina chahiye, kyu pina chahiye, 1 glass dudh me kitni kesar dalni chahiye
उत्तर: आप केसर का दूध प्रेगनेंसी के शुरूआती पी सकते हैं और एक गिलास दूध में आपके सर की 23 कलिया ही डालें ज्यादा इसका उपयोग बिल्कुल ना करें| प्रेगनेंसी में केसर खाना बहुत अच्छा माना जाता है लेकिन इसे एक लिमिट में लेना चाहिए केसर एक गर्म प्रकृति का होता है इसलिए इस के ज्यादा सेवन से कभी-कभी लूज मोशन जैसे समस्याएं होने लगती है केसर खाने से गर्भवती महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान होने वाली तकलीफ से छुटकारा मिलता है इससे आपके बच्चे पर भी असर होता हैअगर आप प्रेगनेंसी में केसर खा रही है तो बहुत सारी समस्याओं से छुटकारा पा सकती हैं जैसे अगर इस समय आपको कब्ज और गैस की प्रॉब्लम हो रही हो जो की पाचन क्रिया सही nhi होने के कारण होता हैगर्भावस्था के दौरान महिला को अक्सर पेट में ऐठन और मरोड़ जैसा लगता है बेबी केसर वाला दूध पीने से ठीक हो जाता है केसर शरीर में पाए जाने वाले बहुत सारे विषाक्त पदार्थ को शरीर से बाहर निकालने में मदद करता हैकभी-कभी प्रेगनेंसी के दौरान आंखें लाल हो जाती है या फिर सूजन भी हो जाती है तो अगर आप अगर की शेर वाली दूध पी रहे हैं तो यह ठीक हो जाता है केसर वाली दूध ब्लड प्रेशर को सामान्य रखने में भी मदद करता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: केसर वाला दूध कौन से महीने से पिना चाहिए और rat को पिना चाहिए या सुबे
उत्तर: हेलो डियर दूसरे तिमाही से केसर लेना शुरू कर सकती हैं। केसर को दूध के साथ शाम को सुबह में अच्छी तरह से खाया जा सकता है।केसर का सेवन ब्लड प्रेशर और गर्भावस्था में होने वाली घबराहट को कम करने का काम करता है. एक गिलास दूध में केसर के दो धागे डालना ठीक होगा. *केसर अक्सर मिलावटी पाया जाता है. हमेशा ब्रांडेड पैकेट खरीदें, जो आईएसआई चिह्नित हैं और और जिसे सरकार की मंजूरी दी गयी है ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: konse mahine se kesar vala dudh pina chahiye
उत्तर: hello dear garbhavastha के छठे महीने से गर्भवती स्त्री केसर वाला दूध पी सकती है। केसर के फायदे अनेक हैं ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है पाचन तंत्र मजबुत बनाता है बच्चे की त्वचा सुंदर होता है।और गर्भवती महिलाओं के लिये गर्भावस्था केसर के सेवन का उपयुक्त समय है  इसको सुबह शाम गर्म दूध के साथ लिया जाना चाहिये। एक ग्लास दूध में एक चुटकी केसर काफ़ी होती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें