गर्भावस्था की तैयारी

Question: kesar kis month se kha sakte hai mam

3 Answers
सवाल
Answer: केसर आपpregnancy ke 4....5मंथ बाद 2..3 kadiya दूध में डालकर पी सकती हैं .. यह गरम तासीर का होता है इस्लीई इसे ज़्यादा मात्रा में ना ले वारना ये आपकी बॉडी को हीट कर देगा यह आप रात के समय सोने से पहले ले सकती है आप दूध के साथ केसर लेंगे तो आपका रक्तचाप भी अच्छा रहेगा और आपके पाचन क्षमता भी अच्छी रहेगी हमेशा प्रेगनेंसी में गर्म तासीर की चीजों से थोड़ा सा परहेज करना चाहिए लेकिन केसर बहुत थोड़ी मात्रा में लेने से इससे बच्चे गोरे और हेल्दी पैदा होते हैं इसलिए आप इसकी सीमित मात्रा ले सकती है..
  • avatar
    Ruhi jaiswal371 days ago

    tq

Answer: प्रेगनेन्सी मे केसर का इस्तेमाल हम 4 मंथ से डिलिवरी तक कर सकते है , ध्यान रहे कि केसर की एक या दो पंक्तियों का सेवन करना चाहिए, अधिक मात्रा में केसर की पंखुड़ियों का सेवन नहीं करना चाहिए. केसर दूध मे डाल कर दूध को अच्छी तरह उबाल ले , दूध का कलर बदल जाएगा , इज दूध को ठण्डा कर के सुबह या रात को आप पीये
  • avatar
    Ruhi jaiswal371 days ago

    tq maam

Answer: 7 मंथ बट जयदा नही यूज़ कड़ों कुकी केसर गरम होता hai
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: kesar kis month se kha sakte h
उत्तर: आप केसर थर्ड मंथ खत्म होने के बाद से ले सकती हैं इसका कोई नुकसान नहीं है लेकिन उसका उपयोग संतुलित मात्रा में ही करें जैसे कि आप अगर एक गिलास दूध ले रहे हैं तो उसमें दो या तीन तार ही केशर की डाले यह हमेशा ध्यान रखें कि जो केसर आप ले रहे हैं वह हमेशा अच्छी क्वालिटी का होना चाहिए हमेशा ब्रांडेड केसर ही ले केसर वाला दूध बीपी पेट दर्द की समस्या में भी आराम दिलाता है यह आपके डाइजेस्टिव सिस्टम को सुधारता है और साथ में भूख भी बढ़ाता है आप इसे रोज ले सकती हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: kesar kis mnth se kha sakte h
उत्तर: hello dear  गर्भवती महिलाएं (pregnant women) दूसरी तिमाही के बाद केसर लेना शुरु कर सकती है। गर्भावस्था केसर के सेवन का उपयुक्त समय है  इसको सुबह शाम गर्म दूध के साथ लिया जाना चाहिये। एक ग्लास दूध में एक चुटकी केसर काफ़ी होती है। गर्भवती महिलाओं के लिए बनने वाले खाने में भी थोड़ी सी केसर डाली जानी चाहिये।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: kesar konse month se kha sakte hai
उत्तर: केसर चिकित्सा गुणों से प्रचुर है । माना जाता है यह ऐंठन दूर करता है, अत: जब आप इसे गर्भावस्था में लेंगी तो हो सकता है की आपको ऐंठन और पेट दर्द से कुछ आराम भी मिले। साथ ही यह भी माना जाता है की पाचन-प्रणाली को सुधारने के अलावा यह गर्भवती महिला की भूख की वृद्धि भी करता है। बहरहाल, आप इसे गर्भावस्था में किसी भी समय लेना आरंभ कर सकती हैं। दूध प्रोटीन और कैल्षियम का उत्कृश्ट स्रोत है और केसर में प्राकृतिक चिकित्सीय गुण हैं। गर्भावस्था के दौरान दूध का एक गिलास केसर दो तार डालना ठीक है। आप स्वाद के लिए अन्य व्यंजनों में भी केसर का प्रयोग कर सकती हैं। है। बिरयानी, खीर, लस्सी और परम्परागत भारतीय मिश्ठानों में केसर एक अहम भूमिका निभाता है।  यह अवश्य ध्यान रखें की जो केसर आप खरीदती है वोह उच्च क्वालिटी का हो। केसर अक्सर मिलावटी पाया जाता है. हमेशा ब्रांडेड पैकेट खरीदें, जो आईएसआई चिह्नित हैं और और जिसे सरकार की मंजूरी दी गयी है । हमेशा लेबल को पढ़ने और समाप्ति तिथियों की जांच करें। अक्सर गर्भावस्था के दौरान घर के बढे बूढ़े प्रतिदिन केसर युक्त दूध पीने की सलाह देते हैं। कुछ लोगों का यह मानना है की ऐसा करने से बच्चे की रंगत में निखर आएगा । यह एक मिथक है तथा इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। आपके बच्चे का रंग आनुवंषिक है न कि किसी किस्म के खाने से उसका संबंध है। यदि आपकी या आपके पति या फिर आप दोनों के नज़दीकी रिश्तेदारों का रंग साफ़ है तो हो सकता है आपके बच्चे की त्वचा भी गोरी हो।
»सभी उत्तरों को पढ़ें