15 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: hlw mam mujhe अल्ट्रा kab karwana chaiye

2 Answers
सवाल
Answer: abi apka 4th mnth cmplte hone me 1week remaning h..ap 5th mnth k 2week me ultrasound kra le jisme baby ki full body exmine ki jayegi ..
Answer: sbi ek b ultrasnd nhi kraya
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: अल्ट्रा साउंड kab karwana he mam mujhe 9 weak हो gye
उत्तर: हेलो डियर आपको अपने प्रेगनेंसी का पहला अल्ट्रासाउंड स्कैन प्रेगनेंसी के दूसरे महीने में कर सकते हैं आप अभी अपना स्कैन जरूर कर सकते हो . स्कैन की मदद से आप की बेबी की हार्ट बीट बन गई है कि नहीं इसका पता लगाया जाता है , यह काफी जरूरी होता है आप अपना ध्यान जरूर कर सकते हो अभी , अपना ख्याल रखे और स्वस्थ रहे .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मैम मुझे अल्ट्रासाउंड कब करवाना चाहिए
उत्तर: हेलो डियर, आपको प्रेग्नेंसी मे ऐसे मे हर तीसरे तिमाही पर सोनोग्राफी करवाना चाहिए आपको ऐसे मे तीसरे तिमाही पर एक सोनोग्राफी करवाना चाहिए ऐसे मे आप सोनोग्राफी करवाने से आपको ऐसे मे होने वाले बेबी की पोजीशन का अच्छे से पता चलता है और ऐसे मे कंडीशन का भी अच्छे से पता चलता है.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मैम मुझे 3रद अल्ट्रासाउण्ड कब करवाना चाहिए
उत्तर: हेलो डियर उल्त्रसौन्द डियर देखिए यह तो मैं आपको कंफर्म नहीं बता सकती हूं किस मंथ में कितने दिन के बीच में अल्ट्रासाउंड होना चाहिए क्योंकि हर किसी की प्रेगनेंसी में अलग अलग तरह से अल्ट्रासाउंड होते हैं और कई प्रकार के होते हैं डॉक्टर पेशेंट की सिचुएशन के अकॉर्डिंग उसकी बॉडी को एग्जामिन करके अल्ट्रासाउंड की टाइमिंग बताते हैं वैसे मेरा अल्ट्रासाउन्ड डॉक्टर ने 36 वीक मे कराया था उसमें बेबी ग्रोथ काफी लेवल बेबी पोजिशन और कोर्ड की सिचुएशन पत्ता चलता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: 2nd ultrasound kab karwana chaiye
उत्तर: हेलो डियर,,,, अल्ट्रासाउंड बेबी की स्थिति को देखने के लिए डॉक्टरों की सलाह पर ही कराना चाहिए हालांकि पहला अल्ट्रासाउंड फर्स्ट सेमेस्टर में कराना बेहतर होता है इससे बेबी की स्थिति का पता चलता है दूसरा अल्ट्रासाउंड आप 5 से 7 महीने के बीच करा सकते हैं इसके अलावा डॉक्टर की सलाह पर अगर बेबी का की स्थिति देखने के लिए आठवें से नौवें महीने व जन्म के समय भी अल्ट्रासाउंड कराने में कोई प्रॉब्लम की बात नहीं होती है अधिक अल्ट्रासाउंड कराने से कोई प्रॉब्लम नहीं होती है इससे बच्चे किसी भी प्रकार से कोई नुकसान नहीं होता|
»सभी उत्तरों को पढ़ें