गर्भावस्था की तैयारी

Question: hi....meri 2yr 2 month ki beti h...kuch dino se meri beti theek se khana nahi kha rahi h..

1 Answers
सवाल
Answer: छोटे बच्चो को खाना खिलlने के लिए हमें पहले उन्हें प्रोत्साहित करना चाहिए. आप उसे सिर्फ घर का बना अलग अलग खाना दो. उसे अपने आप खाने के लिए प्रोत्साहित करे. इससे उसका खाने के प्रति रूचि बढ़ेगी. घर के सlरे सदस्य एक साथ खाने बैठे. बच्चे हमें देख कर ही खाना सीखते है. उसे खाने के लिए किसी प्रकार की जोर जबरदस्ती न करे. हो सकता है वो शुरू शुरू में खाने से खेले पर जल्द ही खाना सिख जायेंगे. उसे नए नए फ्रूट्स खाने में दे. घर का बना सब पौष्टिक खाना दे. आप उसे कहानी सुनाकर या उसकी पसंद की बाते बनाकर भी खाने का महत्व समजा सकते हो और खाने के लिए प्रेरित कर सकते हो.
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: meri beti 6 month 18 days ki h 2 din se theek se doodh nahi pi rahi wo upar ka doodh nahi piti aur na hi kuch kha rahi h .. mai kya karu active h aur susu pitty bhi theek se kar rahi h bas feed nahi kar rahi theek se mai kya karu
उत्तर: आप परेशान ना हो , बच्चे इज उमर मे ऐसा करते है , आप कोशिश करते रहें बच्चे को खिलाने की , बच्चा खाने लगेगा .. खाना खिलाते समय बच्चे का आप धयान खाने से हटा दे , जब भि खाना खिलऐ बच्चे को एक जगह बिठा दे , बेबी के साथ कोई गेम खेले या कोई गाना गाये , बीच बीच मे बच्चे को खिलऐ , बच्चा पुरा नही खाता है तो फोर्स ना करे , कुछ देर बाद फिर खिलायें .. बच्चें को मां के दूध के साथ-साथ फ्रूट जूस जैसे- संतरा, मौसमी,सेब का जूस इत्यादि दिया जा सकता है, लेकिन ध्यान रखें कि जूस घर पर ही निकाला हुआ हो, बाजार का न हो. चावल, सूजी की खीर व दलिया को दूध में पका कर खिला सकती है लौकी, गाजर, आलू जो उसे पसंद आए, उस का सूप बना कर दें। इन सब्जियों को मूंग की दाल की खिचड़ी में भी मिला कर दे सकती हैं. चावल और मूंग की दाल मिला कर प्लेन खिचड़ी दे सकती हैं ग्लूकोज बिस्कुट और दूध.maa ka dudh yaa formula मिलाकर दें. इन सब ठोस आहार के साथ पानी हमेशा उबाल कर ठंडा कर के ही दें. और कम से कम डेढ़, 2 साल तक बच्चे को ब्रैस्ट फीडिंग कराएं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Meri beti 8 month ki hai.3 din se kuch Nahi kha rahi hai.
उत्तर: हैलो डियर-छोटे बच्चे अगर दूध नहीं पी रहा और कुछ खा भी नही रहा हैं तो उसका कारण आप को जानना चाहिए कभी-कभी बच्चे बच्चों या तो दांत आ रहे होते हैं या उन्हें सर्दी बुखार की वजह से गले में दर्द होता है इसलिए कभी-कभी उन्हें मुंह में छाले वाले की परेशानी भी होती है इसलिए आप छोटे बच्चों पर विशेष ध्यान दें क्योंकि वह अपनी परेशानी बता नहीं सकते अगर उनके दूध ना पीने और न खाने का कारण नहीं समझ आ रहा है तो आपको डॉक्टर से कंसल्ट करना चाहिए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी 2 दिनों से पॉटी नहीं कर rahi है
उत्तर: मुझे रिप्लाई क्यों नहीं दी रहे सुबह से एक क्वेश्चन पूछा हुआ है क्या मतलब है यही 😡😡
»सभी उत्तरों को पढ़ें