21 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: hi mem mujhe aciditi प्रॉब्लम bhot jyada he mera roj rat ko pet dard hota he me kya kru

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डिअर, आप प्रेग्नेंसीय मे कुछ इस तरह से देखभाल कर सकती है आप इस तरह से एसिडिटी के लिए घरेलू उपाय कर सकती है आप तैलीय या मसालेदार खाना , और चॉकलेट, खट्टे फल, शराब और कॉफी, ये सभी चीजे एसिडिटी को बढ़ाने के लिए जाने जाते हैं। एक गिलास ठंडा दूध या एक कटोरी दही का सेवन एसिडिटी के लिये पुराना इलाज माना जाता है। एक कप अदरक की चाय भी आपको राहत पहुंचा सकती है। केला खाने से भी इसमें फायदा होता है। थोड़ी मात्रा में, लेकिन बार-बार खाना खाती रहें।खाना को अच्छी तरह चबाकर खाएं खाना खाने के दौरान लम्बा गैप रखे खाना के दौरान बहुत ज्यादा मात्रा में पानी न पीएं। गर्भावस्था के दौरान रोजाना आठ से 12 गिलास पानी पीना जरुरी हैं कोशिश करें कि रात को आप सोने से करीब तीन घंटे पहले अपना भोजन कर लें, एसिडिटी होने पर आप ग्लास पानी मे एक चम्मच जीरे को डाल कर खौला ले फिर इसको पिये इससे भी बहुत आराम मिलता है एसिडिटी में ,आप इसमें 10 , 12 पुदीने की पत्तियों को रोज चबाये इससे भी फायदा होता है , रोज रात को खाना खाने के बाद गुड खाये इससे आपका खाना पच जायगा और जलन नही होगी सुबह खाली पेट एलोवेरा जेल खाये या थोड़े पानी मे डालकर पिये इससे भी आराम हो जाएगा !
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Mere ko pet me or kamar me bahut dard hota he roj to kya kare ham
उत्तर: हेलो डियर, आपने यह नहीं बताया कि आपको पेट के किस हिस्से में दर्द होता है. प्रेगनेंसी में पेट में मोस्टली गैस की वजह से दर्द होता है अगर या ऊपरी हिस्से में हो तो अगर आपके पेट के निचले हिस्से में दर्द हो रहा है और दर्द हल्का हल्का है तो ऐसा होना नॉर्मल है लेकिन आपको कभी ऐसा लगे कि आपका पेट दर्द बढ़ रहा है तो आप देर ना करें और डॉक्टर से मिले प्रेगनेंसी में ज्यादा वजन उठाने वाला काम या कोई ऐसा काम जिसमें आपको थकावट ज्यादा लग गई तब पेट में दर्द बढ़ सकता है इसलिए आप ज्यादा भारी काम या ज्यादा झुकने वाले काम ना करें सोने की पोजिशन भी ऐसे रखें जिससे आपको पीठ और पेट में दर्द कम हो जैसे कि आप left सोए ,पीठ के बल सोने से आपकी यह तकलीफ बढ़ सकती है कोशिश करें कि ज्यादा देर खड़ी भी ना रहे एक ही पोजीशन में ना बैठे , अपनी पोजीशन बदलते रहे साथ ही अगर आप हील वाली चप्पल या सैंडल पहनती हैं तो अवॉयड करें जब भी आप सो कर उठे तो एकदम से ना उठे हैं पहले करवट ले फिर उठे हैं. प्रेगनेंसी में कमर, पीठ में दर्द होना बहुत ही नॉर्मल बात है ,ज्यादातर महिलाओं में प्रेगनेंसी में कमर दर्द की शिकायत होती ही है कमर में दर्द होने का कारण एक तो हारमोंस में बदलाव होता है दूसरा पेट में बढ़ रहे भार का हो सकता है जिसके कारण मांस पेशियों में खिंचाव होता है और कमर में दर्द हो सकता है कमर, पीठ दर्द को कम करने के लिए आप कोशिश करें कि अपनी बाइ और सोए सीधे पीठ के बल ना सोए घुटनों के बीच में तकिया लगाकर सोने से भी आपको कमर दर्द में आराम मिलेगा अगर आप हाई हील की सैंडल , शूज पहनते हैं तो ना पहने यह भी एक कमर दर्द का कारण हो सकता है साथ ही प्रेगनेंसी में dheele सूती के कपड़े पहनने चाहिए जिससे शरीर में खून का प्रवाह आसानी से हो और हम अनेक तरह के दर्द से बचेगे अपना ध्यान रखें अपने खाने-पीने का ध्यान रखें.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam mujhe roj fiver ata h rat me aor pairo me dard bhot hota h kya kre mam
उत्तर: हेलो डिअर , प्रेग्नेंसीय में हार्मोन चेंज होने पर हल्का फुल्का बुखार हो जाता है ऐसा होना नार्मल बात है आप टेशन न ले , आपको अगर अपनी प्रेग्नेंसीय में फीवर आता है तो आप गुनगुने पानी से नहाए इससे शरीर का तापमान ठीक रहेगा , आप ज्यादा से ज्यादा आराम कर , पानी खूब पिये जिससे आप डिहाइड्रेट रहे, नीबू पानी का सेवन करे , गर्म और ठंडे पेय पिये जिससे आपको आराम करे , गर्म और ठंडे पेय पिये जिससे आपको आराम मिले, आप बुखार होने पर ठंडी पट्टी से अपने शरीर को पोछ दे , पर अधिक तेज बुखार होने पर आपको डॉक्टर को दिखा देना चाहिए , प्रेग्नेंसीय होने के बाद एक समस्या पैरो के दर्द की होती है प्रेग्नेंसीय के दौरान रक्त प्रवाह बढ़ने के कारण पैरो में दर्द होता है प्रेग्नेंसीय में आपका वेट जैसे जैसे बढ़ता है वैसे वैसे बॉडी का भार पैरो पर आने की वजह से भी पैरो में दर्द होने लगता है ऐसे में सास लेने में भी परेशानी होती है ऐसा होना नार्मल बात है , आप अपने पैरों की सरसो के तेल से मालिश करे आपको आराम मिलेगा आप अपने पैरों को गुनगुने पानी मे नमक डालकर धो दे इससे भी आपके पैरों का दर्द कम हो जाएगा , ज्यादा हाई हील सैंडिल न पहनें क्योंकि इससे आपके पैरों में और भी दर्द हो सकता हैं , आप अपने पैरो की एक्सरसाइज करें पैर दर्द में बहुत लाभ होगा ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mera har roj rat ko pet dard karta hai
उत्तर: हेलो डियर गर्भावस्था के दौरान पेट में दर्द, पीड़ा और मरोड़ होना सामान्य बात है।  गर्भ में शिशु के होने की वजह से आपकी मांसपेशियों, जोड़ों और नसों पर काफी दबाव पड़ता है। इससे आपको पेट के आसपास के क्षेत्र में काफी असहजता महसूस हो सकती है। थोड़ी देर के लिए बैठ जाएं।जिस तरफ दर्द हो रहा हो, उसके दूसरी तरफ होकर लेट जाएं और आराम करें।हल्के गर्म पानी से नहाएं।जहां दर्द हो रहा हो उस क्षेत्र में गर्म पानी की बोतल या गेहूं की छोटी पोटली से सिकाई करें। अगर आप गर्म पानी की बोतल का इस्तेमाल करें, तो इसमें गर्म पानी भरें (खौलता हुआ पानी नहीं) और ध्यानपूर्वक इसे तौलिये या किसी मुलायम कपड़े में लपेट लें। वहीं दूसरी तरह, गेहूं की पोटली एक कपड़े की पोटली होती है जिसमें गेहूं की भूसी भरी होती है। इस पोटली को माइक्रोवेव में कुछ मिनटों तक गर्म करना होता है। यह पोटली आपके शरीर के आकार के अनुसार ढल जाती है और एक घंटे या इससे ज्यादा के लिए गर्म रहती है।आराम करें
»सभी उत्तरों को पढ़ें