23 weeks pregnant mother

Hi mam, muze 3 des.se 6 month chal rha hai,aj mere ghutno our pairo pe sujan aei hai. to mu

सवाल
सूजन के कारण हो सकते हैं जैसे कि गर्मियों की गर्मी ,अधिक देर तक खड़े रहना ,ज्यादा देर तक काम करना ,आहार में पोटेशियम की कमी कैफीन का अधिक सेवन सोडियम अधिक सेवन करना प्रेग्नेंसी में सूजन कम करने के लिए कुछ तरीके अपनाए जा सकते हैं लंबे समय तक खड़े या बैठे ना रहे अपने पैरों को चलाती रहें और पॉसिबल हो तो जब भी आप बैठे तब अपने पैरों को ऊपर उठाती रहे एक तरफ करवट लेकर सोए बाई तरफ करवट लेकर सोने से आपका किडनी भी दुरस्त रहेगा टाइट इलास्टिक वाले मोजे या स्टॉकिंग्स ना पहने आरामदायक शूज पहने अधिक से अधिक पानी पिएं नमक सीमित मात्रा में लें
  • avatar
    V S45 days ago

    Thanks you

समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Mam, mere 3 tarikh se 6 month chal rha hai. aj mere ghutno or pir pe sujan aei hai to muze kya karna chyahiye
उत्तर: aap gungune pani m pair ki sikai kare usse kafi relax lagega aapko
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mera 6 month chal rHa hai or mere pairo me sujan hai is se baby ko koi peoblem to nhi
उत्तर: हेलो डियर आप परेसान ना हों अकसर प्रेग्नेन्सी में पैर में सुजन हो जाते है ऐसे में कुछ उपायो के द्वारा आप सुजन कम कर सकती है अदिक से अदिक पानी पीएं इस अवस्था मे आप जितना अधिक पानी पिएगी उतना ही कम पानी आपका शरीर पतिधारित करेगा नियमित व्यायाम कारें जैसे चलना घूमना ऑर तऐरना सन्तुलित आहार लें ऑर नमक का कम से कम उपयोग करें नमकीन चिप्स ये सब पैकेट वाली चीज़ें ना खाएँ मलीस करवाएं पैरो की ऑर एक ही स्थिति में जादा देर खेड़े ना रहें सरीर को आराम दें जादा काम ना करें और इससे आपके beby को कोई प्रॉब्लम नहीं होगी
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Hi ma'am mera 7 month chal rha hai or mere pairo me bhot sujan hai kya kru
उत्तर: हेलो प्रेगनेंसी के दौरान होने वाले हाथ पैरों और चेहरे के सूजन को एडिमा कहते हैं। यह वाटर रिटेंशन के कारण और B P बढ़ने के कारण होता है जैसे-जैसे शिशु बढ़ता है तो उस का दबाव शरीर के निचले अंगों पर ज्यादा पड़ता है जिसके कारण निचले अंगों को ब्लड ले जाने वाली नसे दबती है। नसों के दबने की वजह से ही हाथ पैर चेहरे होंठ ब्रेस्ट नाक कूल्हों और आंखों के नीचे सूजन होता है। यह प्रेगनेंसी की एक आम समस्या है आपको बस थोड़ा एक्स्ट्रा केयर करने की जरूरत है जैसे कभी भी आप बैठे पर लटका कर ना बैठे। सोते समय हमेशा लेफ्ट करवट सोए इससे आपके निचले नसों पर दबाव कम पर पड़ता है। और ब्लड सरकुलेशन अच्छे से होता है। आप जितना ज्यादा पानी पिएंगे आपके लिए उतना ही अच्छा रहेगा। जब सूजन ज्यादा हो जाए तो सरसों के तेल या कोई भी तेल से पैरों की मालिश करवाएं। मालिश करवाते समय ध्यान रहे ऊपर से नीचे मसाज नहीं करना है नीचे से करते हुए ऊपर की डायरेक्शन पर लेकर जाना है। चेहरे पर ज्यादा सूजन होने से थोड़ा सरसो का तेल लगाकर गुनगुने नमक पानी से सेकाई करे । खाने में नमक की मात्रा धीरे धीरे कम करें। सुबह शाम वॉक करें। हल्के एक्सरसाइज भी करें
»सभी उत्तरों को पढ़ें