गर्भावस्था की तैयारी

Question: Hello mam muje pcos tha uska treatment karvane k bad period regualr ho gye the..but mera egg realise nahi ho raha tha..fir mene dr. Se bat karke uska treatment karvaya tha..but egg realise k davai k bad muje 10 day period late aaye h..iska reason bataye ples..and regular period k liya kuch jankari dijiye...

3 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर अनियमित पीरियड होना आम बात है,स्ट्रेस लेने से हार्मोन पर सीधा प्रभाव पड़ता है। अगर इस वजह से आपके खून में स्ट्रेस हार्मोन का लेवल बढ़ जाता है तो इसका असर आपके मासिक चक्र पर पड़ता है, जिससे आपके पीरियड या तो बहुत लंबे हो जाते हैं या बहुत छोटे हो जाते हैं।गर आप प्रेग्नेंसी कंट्रोल करने के लिए बर्थ कंट्रोल पिल्स लेते हैं तो ये भी आपके पीरियड्स को अनियमित बनाने में अहम भूमिका निभा सकता है। या फिर अगर आप बीमार हो गई थी जिसकी वजह से आपको दवाइयां खानी पड़ रही है तो इसका असर आपके हार्मोन लेवल पर हो सकता है। बियर यदि आपको यह स्टार्टिंग से प्रॉब्लम रही है तो आप इस का होम्योपैथिक इलाज ले सकते हैं अगर आप सही टाइम पर दवा खाएंगे तो आपको टाइम से पीरियड आना शुरू हो जाएंगे पर दवाइयों का कोर्स पूरा करें बाकी मैं आपके साथhomeरेमेडीज शेयर करती हूं जिससे कि आपको जरूर मदद मिलेगी धनिया के बीज को घी में भूनकर इसमें पिसी हुई चीनी मिलाकर आपको दिन में 2 बार 10 10 ग्राम लेना है इससे पीरियड की साइकिल नॉर्मल होने लगेगी इसके अलावा सूखे पुदीने के पाउडर को शहद के साथ मिलाकर लेने से भी पीरियड की साइकिल नॉर्मल होने लगती है. आशा करती हूं कि आपको जरूर इससे मदद मिलेगी
Answer: हेलो डियर अनियमित पीरियड होना आम बात है,स्ट्रेस लेने से हार्मोन पर सीधा प्रभाव पड़ता है। अगर इस वजह से आपके खून में स्ट्रेस हार्मोन का लेवल बढ़ जाता है तो इसका असर आपके मासिक चक्र पर पड़ता है, जिससे आपके पीरियड या तो बहुत लंबे हो जाते हैं या बहुत छोटे हो जाते हैं।गर आप प्रेग्नेंसी कंट्रोल करने के लिए बर्थ कंट्रोल पिल्स लेते हैं तो ये भी आपके पीरियड्स को अनियमित बनाने में अहम भूमिका निभा सकता है। या फिर अगर आप बीमार हो गई थी जिसकी वजह से आपको दवाइयां खानी पड़ रही है तो इसका असर आपके हार्मोन लेवल पर हो सकता है। बियर यदि आपको यह स्टार्टिंग से प्रॉब्लम रही है तो आप इस का होम्योपैथिक इलाज ले सकते हैं अगर आप सही टाइम पर दवा खाएंगे तो आपको टाइम से पीरियड आना शुरू हो जाएंगे पर दवाइयों का कोर्स पूरा करें बाकी मैं आपके साथhomeरेमेडीज शेयर करती हूं जिससे कि आपको जरूर मदद मिलेगी धनिया के बीज को घी में भूनकर इसमें पिसी हुई चीनी मिलाकर आपको दिन में 2 बार 10 10 ग्राम लेना है इससे पीरियड की साइकिल नॉर्मल होने लगेगी इसके अलावा सूखे पुदीने के पाउडर को शहद के साथ मिलाकर लेने से भी पीरियड की साइकिल नॉर्मल होने लगती है. आशा करती हूं कि आपको जरूर इससे मदद मिलेगी
Answer: हेलो डियर अनियमित पीरियड होना आम बात है,स्ट्रेस लेने से हार्मोन पर सीधा प्रभाव पड़ता है। अगर इस वजह से आपके खून में स्ट्रेस हार्मोन का लेवल बढ़ जाता है तो इसका असर आपके मासिक चक्र पर पड़ता है, जिससे आपके पीरियड या तो बहुत लंबे हो जाते हैं या बहुत छोटे हो जाते हैं।गर आप प्रेग्नेंसी कंट्रोल करने के लिए बर्थ कंट्रोल पिल्स लेते हैं तो ये भी आपके पीरियड्स को अनियमित बनाने में अहम भूमिका निभा सकता है। या फिर अगर आप बीमार हो गई थी जिसकी वजह से आपको दवाइयां खानी पड़ रही है तो इसका असर आपके हार्मोन लेवल पर हो सकता है। बियर यदि आपको यह स्टार्टिंग से प्रॉब्लम रही है तो आप इस का होम्योपैथिक इलाज ले सकते हैं अगर आप सही टाइम पर दवा खाएंगे तो आपको टाइम से पीरियड आना शुरू हो जाएंगे पर दवाइयों का कोर्स पूरा करें बाकी मैं आपके साथhomeरेमेडीज शेयर करती हूं जिससे कि आपको जरूर मदद मिलेगी धनिया के बीज को घी में भूनकर इसमें पिसी हुई चीनी मिलाकर आपको दिन में 2 बार 10 10 ग्राम लेना है इससे पीरियड की साइकिल नॉर्मल होने लगेगी इसके अलावा सूखे पुदीने के पाउडर को शहद के साथ मिलाकर लेने से भी पीरियड की साइकिल नॉर्मल होने लगती है. आशा करती हूं कि आपको जरूर इससे मदद मिलेगी
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Hello mam...muje pcos tha...bad me mene iska treatment karvaya tha..uske bad regular period ho gye the 28 me aa jate the period..but muje egg realise nhi ho raha tha..aur muje pragnancy rakhni thi. Fir mene dr.se bat karke uski davai karvai but egg realise k davai k bad mera period 10 days late hua h. Iska kya reason ho sakta h...
उत्तर: हेलो डियर अनियमित पीरियड होना आम बात है,स्ट्रेस लेने से हार्मोन पर सीधा प्रभाव पड़ता है। अगर इस वजह से आपके खून में स्ट्रेस हार्मोन का लेवल बढ़ जाता है तो इसका असर आपके मासिक चक्र पर पड़ता है, जिससे आपके पीरियड या तो बहुत लंबे हो जाते हैं या बहुत छोटे हो जाते हैं।गर आप प्रेग्नेंसी कंट्रोल करने के लिए बर्थ कंट्रोल पिल्स लेते हैं तो ये भी आपके पीरियड्स को अनियमित बनाने में अहम भूमिका निभा सकता है। या फिर अगर आप बीमार हो गई थी जिसकी वजह से आपको दवाइयां खानी पड़ रही है तो इसका असर आपके हार्मोन लेवल पर हो सकता है। बियर यदि आपको यह स्टार्टिंग से प्रॉब्लम रही है तो आप इस का होम्योपैथिक इलाज ले सकते हैं अगर आप सही टाइम पर दवा खाएंगे तो आपको टाइम से पीरियड आना शुरू हो जाएंगे पर दवाइयों का कोर्स पूरा करें बाकी मैं आपके साथhomeरेमेडीज शेयर करती हूं जिससे कि आपको जरूर मदद मिलेगी धनिया के बीज को घी में भूनकर इसमें पिसी हुई चीनी मिलाकर आपको दिन में 2 बार 10 10 ग्राम लेना है इससे पीरियड की साइकिल नॉर्मल होने लगेगी इसके अलावा सूखे पुदीने के पाउडर को शहद के साथ मिलाकर लेने से भी पीरियड की साइकिल नॉर्मल होने लगती है. आशा करती हूं कि आपको जरूर इससे मदद मिलेगी
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Hii mam muje pcos tha bad me period regular hone k bad ovulation k liya treatment karvaya tha...uske bad muje period nhi aaye h abhi tak..last muje 22 january period aaya tha..aaj mene check bhi kiya but nagative reasult h..mene suna h k pichle dino me garbh reh gya ho to 10-12 din me pta nhi chalta..thode din bad pata chalta h..kya ye bat sach h...
उत्तर: हेलों आपको pcos था पर ट्रीट्मेण्ट के बाद आपके पिरियड रेग्युलर हो गये आप के लास्ट पिरियड 22 जनवरी को आएं थे और अभी तक नही आएं है . आपका प्रेग्नसी टेस्ट नेगटिव है प्रेग्नसी टेस्ट पिरियड मिस होने के 7 दिन बाद टेस्ट करने से हमेशा टेस्ट सही होता है पर हो सकता है कुछ केसेस में कुछ प्रॉब्लम के कारण टेस्ट नेगटिव आएं आप एक बार डॉक्टर से सलाह ले ले ताकि आपका टेस्ट नेगटिव हो या पॉजिटिव दोनो के लिए डॉक्टर आपको सजेस्ट कर पाये ..
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Muje pcos ki bimari thi...uska treatment abhi abhi khatam hua h...bad me mene ovulation k treatment karvaya...aur ovulation k treatment k bad period nahi aaya h...kya me pragnent ho sakti hu.
उत्तर: हेलो डियर अगर आपने ovuletion का ट्रीटमेंट करवाया है तो अगर इसके बाद आपको मासिक में नहीं आ रहा है dear बेबी कंसीव करने के लिए maasik का आना बहुत जरूरी होता है , ऐसे में हर महीने समय पर मासिक आने पर ही आपको अपना ओवुलेशन डे अच्छे से पता चल पायेगा जिससे आप बेबी कन्सिव कर सकती है !
»सभी उत्तरों को पढ़ें