29 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: hello mam mera 7 month chal rha h mam mere pairo me sujan h kya karu

2 Answers
सवाल
Answer: sarso ka tel garam karke halke hatho se malish kare
Answer: nrml hai aap sarso k oil se hlk hath se massag kte
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: 7 month chal rha h mera mere pairo m sujan aa rhi h kyu
उत्तर: हैलो डियर आप परेशान न हों हाथ पैरों में सुजन होने पर आप कुछ घरेलु उपाय कर सकती हैं। आप हल्के गुनगुने पानी में थोडा़ नमक डालकर अपना पैर डूबोकर कुछ देर बैठ सकती हैं इससे भी आराम मिलेगा अपने पैरों के बीच और नीचे एक तकिया रखकर सोयें सूजन और दर्द से राहत के लिए आप हीटिंग पैड का भी इस्तेमाल कर सकते हैं या फिर आप किसी बोतल में गुनगुना पानी भरकर सिकाई भी कर सकती हैं इससे पैरों कर दर्द और सूजन तुरंत कम होने लगेगी. गर्भावस्था में शरीर में सूजन होने पर आप अधिक से अधिक आराम करें पानी और लिक्विड की मात्रा अधिक ले खाने में नमक की मात्रा कम करें कम चलें।गुनगुने पानी से नहायें हो सके तो हल्के गुनगुने तेल की मालिश लें जिससे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन सही ढ़ंग से हो और सुजन कम होगी।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hello mam mera 8th month chal रहा h mere pairo me sujan hai
उत्तर: हैलो डियर आप परेशान न हों हाथ पैरों में सुजन होने पर आप कुछ घरेलु उपाय कर सकती हैं। आप हल्के गुनगुने पानी में थोडा़ नमक डालकर अपना पैर डूबोकर कुछ देर बैठ सकती हैं इससे भी आराम मिलेगा अपने पैरों के बीच और नीचे एक तकिया रखकर सोयें सूजन और दर्द से राहत के लिए आप हीटिंग पैड का भी इस्तेमाल कर सकते हैं या फिर आप किसी बोतल में गुनगुना पानी भरकर सिकाई भी कर सकती हैं इससे पैरों कर दर्द और सूजन तुरंत कम होने लगेगी. गर्भावस्था में शरीर में सूजन होने पर आप अधिक से अधिक आराम करें पानी और लिक्विड की मात्रा अधिक ले खाने में नमक की मात्रा कम करें कम चलें।गुनगुने पानी से नहायें हो सके तो हल्के गुनगुने तेल की मालिश लें जिससे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन सही ढ़ंग से हो और सुजन कम होगी।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam mera 7 month chal rha h mere pairo me bhut sujan ho gyi h mai kya kru kuch ghrelu upay btaiye
उत्तर: इसे एडिमा या शॉप कहा जाता है आम भाषा में यह वाटर रिटेंशन यानी पानी प्रतिधारण के नाम से जाना जाता है अतिरिक्त तरल आपके हाथों और पैरों या घुटनों में सूजन का कारण बनता है प्रेग्नेंसी के दौरान यह होना काफी आम है जैसे-जैसे आपका बेबी बढ़ता है शरीर के दाहिने हिस्से में बड़ी नस जिसे निचले अंगों में रक्त प्रवाह होता है पर गर्भाशय दबाव डालता है इससे ब्लड सरकुलेशन धीमा हो जाता है शरीर के निचले हिस्से में खून इकट्ठा हो जाता है इस फंसे हुए रक्त का दबाव पानी को छोटी-छोटी नलिकाओं के जरिए नीचे की तरफ धकेलता है और यह आपके पैरों और घुटनों के दर्द में आ जाता है यह पानी आमतौर पर शरीर द्वारा एग्जाम कर लिया जाता है मगर क्योंकि आप गर्भवती हैं आप ज्यादा पानी प्रतिधारित करती है जिससे सूजन बढ़ती है सुबह के समय ठीक रहती है क्योंकि आप बिस्तर में लेटी हुई थी दिन गुजरने के साथ-साथ यह और ज्यादा बढ़ती जाती है गर्भावस्था के अंतिम चरण में पहुंचने पर यह सूजन आपको हाथों पर भी असर डालती है प्रेगनेंसी के दौरान face ,हाथों और पैरों में थोड़ी सूजन होना सामान्य है मगर यदि आपको सूजन ज्यादा लगे तो अपने डॉक्टर से बात करें पैरों की सूजन के लिए ऐसे बहुत से उपाय हैं जो आप आजमा सकती हैं जब भी समय हो अपने पैरों को थोड़ी ऊंची सता पर रखकर बैठे ऑफिस में अपनी बॉक्स रखकर पैरों को उस पर रखें बीच बीच में थोड़ा चलें और उठे घर में जब भी संभव हो अपने बाएं तरफ करवट लेकर लेटे सुबह बिस्तर से निकलने से पहले socks भी पहने ताकि खून को आपके घुटनों के पास इकट्ठा होने का मौका ना मिले खूब सारा पानी पिएं नियमित व्यायाम करें खासकर चलना फिरना पोषण संतुलित आहार खाएं पर ज्यादा नमक वाले फूड प्रोडक्ट्स नमकीन चिप्स ना खाएं
»सभी उत्तरों को पढ़ें