17 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: hello mam kya kylifelter sydroom genetic disorder mai aate h kya

1 Answers
सवाल
Answer: जी हां यह एक टाइप का जेनेटिक डिसऑर्डर है। यह डिसऑर्डर बच्चे में फादर से आता है । फादर के क्रोमोजोम्स में एक एक्स्ट्रा एक्स क्रोमोजोम्स होने से यह डिसऑर्डर आता है।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Mam mujhe bahut chakkar aate h or sas bhi fulti h kya karu mai
उत्तर: गर्भावस्था में हारमोंस के बदलाव के कारण भूख ना लगने की परेशानी होती है इसके साथ-साथ चक्कर आना और मुंह का स्वाद भी बिगड़ जाता है 1) तरल लें जैसे दूध जुस सुप छाछ और अधिक से अधिक मात्रा में पानी पिए 2) 1 दिन में तीन बार भोजन करने के बजाय 6 बार थोड़ी थोड़ी मात्रा में कुछ ना कुछ खाते रहें 3) अपने डाइट में दही और केले को स्थान दें यह कैल्शियम और प्रोटीन से भरपूर होता है 4) तेज गंध वाले और हैवी डायट न लें हल्का-फुल्का और जल्दी पचने वाला आहार लें गर्भावस्था में साँस की तकलीफ काफी सामान्य समस्या है। बच्चे के विकास के साथ यह बढ सक़ती है। तो आप कुछ उपाय कर सकती हैं।--- सुपाच्य भोजन ग्रहण करें। अधिक फैटी व तीखा भोजन ना करें।भोजन करके तुरंत न लेटें। करवट पर सोंए। सर्दी खांसी होने पर गर्म पानी की भाप आराम दे सकती है। धूल या प्रदूषित स्थान पर जाने से बचें। ।अगर सांस लेने में अत्याधिक तकलीफ हो रात में अकसर नींद में सांस लेने के लिए उठ कर बैठना पड़ता हो थोडऐा़ बहुत ही काम करने पर ही सांस भर जाता हो लेटने पर भी परेशानी हो तो डाक्टर से कंसल्ट करें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hello mam mjhe PCOD h prds tym se ni aate aur mjhe baby pln krna h plz mam btaein mai kya kru plz sggst me
उत्तर: पीसीओडी या सिस्ट की समस्या होने पर महिलाएं ठीक प्रकार से ovulate नहीं कर पाती हैं इसलिए गर्भधारण में समस्या आती है। गर्भधारण करने के 3 महीने तक यदि गर्भ ठहरा रहता है तो फिर वे एक सामान्य महिला की तरह रह सकती हैं. इस के बाद डिलीवरी में किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं आती है. पीसीओडी की शिकार महिलाओं में बारबार गर्भपात के आसार ज्यादा होते हैं. इसलिए यदि कोई बड़ी उम्र की महिला गर्भवती होती है तो हो सकता है वह प्रीडायबिटिक हो. ऐसी स्थिति में महिलाओं को चाहिए कि समयसमय पर डायबिटीज की जांच कराती रहें और यदि किसी महिला का वजन अधिक है तो उसे व्यायाम और अन्य शारीरिक कसरत से अपना वजन घटाना चाहिए ताकि गर्भधारण के दौरान महिला और उस के गर्भ में पल रहे शिशु को किसी भी प्रकार की शारीरिक समस्याओं से दोचार न होना पड़े. पीसीओडी से बचने के लिए सबसे अच्छा तरीका है दालचीनी को पीसकर रख लीजिए सुबह उसे आधा चम्मच गुनगुने पानी के साथ पीजिए इससे आपको पीसीओडी में राहत मिलेगी
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hello mam forcep delevry kya hoti h isme kitne take aate h meri forcep delevry hui
उत्तर: हेलो डियर प्रसव के दौरान कुछ कठिनाई होने पर डॉक्टर फोरसेप्स जैसे औज़ार से बच्चे के सिर को फंसाकर हल्के-हल्के खींचते हैं जिससे बच्चा बाहर निकल आता है। अगर यह बड़े ही आराम और सावधानी से किया जाए तो बच्चे को कोई नुकसान नहीं होता है।DEAR कितने TAANKE लगेंगे उस समय निर्धारित होता है इसमें घाव भरने में समय तो लगता है पर आप बिल्कुल स्वस्थ हो जाएंगी।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Iam17 week pregnent mother can we identify any genetic disorder if the baby have during pregnency
उत्तर: Hi Dear! Yes mostly the chromosomal anomaly or deformity can be identified at NT scan which is done during 13+/- 6 days of pregnancy.. This is called FTS is First Time Screening or Nuchal Translucency, the test is a specialized ultrasound with your age to find out any down syndrome in the baby, it has been able to give 98% proper result of a baby with down syndrome or chromosomal abnormality. A false positive test is what you have in healthy pregnancies. Hope this helps!
»सभी उत्तरों को पढ़ें