2 महीने का बच्चा

Question: hello dr mujhe pils ho gya h plz kuch treatment btaye

1 Answers
सवाल
Answer: hello dear अक्सर डिलवरी के बाद कब्ज कि परेशानी होती है जिस वजह से पाईल्स(बवासीर) हो सकती है पौटी में ब्लड आना और पौटी वाले जगह पर मसा जैसा होना ईसी कि निशानी है । अगर पाइल्स हो जाए तो हमें अपने खानपान पर ध्यान देना चाहिए जितना हो सके सरल और सुपाच्य भोजन करना चाहिए खासकर फाइबर युक्त भोजन और फल ले जिससे आपको कब्ज की परेशानी ना हो क्योंकि पाइल्स का मेन कारण कब्ज है इसलिए आपको कब्ज ना हो इसका ध्यान देना चाहिए अगर पाइल्स हो गया है तो अधिक मात्रा में लिक्विड और पानी लें। छाछ बवासीर के इलाज का एक बेहतरीन उपाय है। एक चौथाई अजवाइन का पाउडर और 1 ग्राम काला नमक 1 गिलास छाछ में मिलाकर रोजाना दोपहर का खाना खाने के बाद एक गिलास छाछ लें। इससे आपको बवासीर की समस्या से काफी आराम मिलेगा। मल त्याग के बाद और पहले उस स्थान पर केस्टर आईल लगायें आराम मिलेगा।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Hello dr. Mujhe bhut srdi jukham ho gya h plzzz Koi upay btaye
उत्तर: हेलो डिअर, आपके बेबी को अगर जुखाम हुआ है तो ऐसे में आप अपने बेबी को सरसों के तेल में अजवाइन , लहसुन डाल कर तेल पकाए और ठंडा होने पर उस तेल से मॉलिश करे , बेबी के हाथ और पैर के नाखूनों में हींग का लेप लगाएं इससे अच्छे से सर्दी खिंच लेगा , अजवाइन को तवे पर सेक कर कॉटन कपड़े में अजवाइन baadh कर पोटली बना कर बेबी को सुघाये इससे भी बेबी को राहत मिलेगी , बेबी के अच्छे से कपड़े पहना कर रखे , गैप करके नहलाये जुखाम होने पर ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hello dr meri dlvry ko 1 month ho gya but mera pet bilkul km nhi hua plz kuch btaye plz
उत्तर: हेलो डिअर, आप अपना पेट कम करने के लिए कुछ इस तरह से करे जिससे आपका पेट कम होगा , आप अपना रोज खाना खाये ,खाना छोड़ना या फ़ास्ट करना आप के पेट कम करने के लिये सही नही होगा , तीन टाइम भर पेट खाना खाने की बजाये, आप इसे छह छोटे टुकड़ों में बाँट के दिन में छह बार अलग-अलग समय पे खाना खाएं  मिठाई, मीठे भोजन और जंक फ़ूड से दूर रहें, अपने फ़ूड में फल और हरी सब्जिय को सम्मलित करें, ज्यादा कैलोरी वाले फ़ूड कम खाएं और उनके बदले ऐसे फ़ूड खाये जिसमें कैलोरी कम हो आप के फ़ूड में ओमेगा 3 फैटी एसिड, कैल्शियम, प्रोटीन और फाइबर से भरपूर हों, साथ ही नियमित हल्की फुल्की एक्सरसाइज करते रहना चाहिए , और वॉक करना चाहिए । .रोज एक्सरसाइज करें योगा करे , कपालभाति करे आपको फर्क पड़ने लगेगा इस तरह से आप धीरे धीरे अपना वेट कम और पेट कम हो जाएगा ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mera sir bhaut bhari rehta h aur mujhe 4month start ho gya h kuch upaaye btaye plz..
उत्तर: इस दौरान सिर में दर्द होना आम बात है। ऐसा हार्मोन में बदलाव के कारण होता है।  तनाव, भोजन कम करने और नींद की कमी जैसे कारणों की वजह से भी सिरदर्द होता है।  सिरदर्द की दवाएं आपके होने वाले शिशु को नुकसान पहुंचा सकती है। साथ ही बच्चे के विकास पर इसका बुरा प्रभाव पड़ सकता है। गर्भवस्था के दौरान थकान होने से बचें, और ज्यादा से ज्यादा आराम करें। गर्भावस्था के दौरान किसी भी प्रकार का तनाव ना लें। अगर सिरदर्द हो रहा हो तो किसी अंधेरे, शांत से कमरे में थोड़ी देर के लिए आराम करें। यदि आप काम कर रहे हैं, तो कोशिश करें कि अपनी आँखें बंद करें और अपने पैरों को 15 मिनट के लिए फैलाकर बैठें, 20 मिनट के लिए अपनी गर्दन को पीछे कर लें और सर पर ठंडे पानी का सेक लें, इससे आपको आराम मिलेगा। योग करें। सिरदर्द को कम करने के लिए भाप लें। कोशिश करें कि ऐसी स्थिति में भीड़भाड़ वाली जगह में ना जाए। ज्यादा से ज्यादा पानी पीयें, और सही से भोजन करें, जिससे आपको कमजोरी ना हो। दिन भर में थोड़ा-थोड़ा लगातार खाना खाते करें। इससे सिर दर्द को रोकने में मदद मिल सकती है। राज पैदल चले, या अन्य सौम्य एरोबिक व्यायाम करें, इससे सिरदर्द नहीं होगा। नियमित रूप से प्रर्याप्त नींद लें। नींद की कमी के कारण भी कई बार सिरदर्द होता है। गर्भवस्था के दौरान अपने कंधे और गर्दन की मालिश करें, इससे आप आराम महसूस करेगीं। साथ ही तनाव से भी मुक्ति मिलेगी।
»सभी उत्तरों को पढ़ें