4 months old baby

hello मेरी beti 3 nd 18 days ki h wo apni neck left side rkhti h aisa toh nhi uski neck jb lg jaygi toh टेड़ी hi ho kya kru m

सवाल
ap rai ka pillow lijiye online milta hai usme baby k sir ko kbi left kbi right kbi sidha rakho isse baby k sir ka shap sahi rehta hai or koi problem nahi hoti
ans कोई b ni deta yha
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: meri beti 3 month 11 days ki h wo theek se doodh nhi peeti .. srf 5min hi peeti h kse pta kru ki uska pet bhara ki nhi
उत्तर: hello अगर बच्चे का पेट नहीं भरता है तो वह रोता है आप बच्चे को दूध पिलाने से पहले उसके पेट को छूकर देखें वह नरम रहेगा और दूध पिलाने के बाद छूने से थोड़ा टाइट लगेगा दूसरा लक्षण है बच्चे के सूसू पाॅटी में कमी अगर बच्चे का पेट अच्छे से नहीं भरेगा तो वह सुसु कम करेगा और पाॅटी भी रोज नहीं करेगा । छोटे बच्चों का वजन रोज 20 ग्राम बढ़ता है अगर बच्चे का वजन नहीं बढा इसका मतलब बच्चे का पेट नहीं भर रहा है। भूखे होने पर बच्चे को नींद नहीं आती। बच्चा पेट भरकर दूध पीता है तो गहरी नींद सोता है। अगर बच्चा सोते समय थोड़ी थोड़ी देर में उठ जाए तो समझे कि बच्चा भूखा है उसका पेट नहीं भरा है। इन सारी बातों को ध्यान रखें आपको समझ में आ जाएगा कि आपके बच्चे का पेट भरा है कि नहीं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri beti 3 months 26 days ki h wo ulti bahut krti h main kya kru
उत्तर: 1)भी-कभी बच्चों की उल्टी करने का एक कारण पेट का दबना है कभी कबार अगर बच्चे की पेट सोते उठाते समय दब जाता है तो वह उल्टी कर देते हैं 2) कभी-कभी अधिक दूध पी लेने पर भी बच्चे उल्टी कर देते हैं इसलिए बच्चों को एक ही बार में दूध ना पीना है बल्कि थोड़ी थोड़ी देर में स्तनपान कराते रहें जिससे बच्चे को उल्टी ना हो 3) अक्सर बच्चों में गैस की समस्या होने का एक कारण मां के खान-पान भी है 4) सर्दी जुकाम खांसी बुखार होने पर भी बच्चे उल्टी कर देते हैं 5)बच्चों के मुंह में उंगली डालने के कारन भी उल्टी होती है। 6) बच्चों के उल्टी और कभी-कभी बच्चे उल्टी करते हैं तो प्रेशर के कारण नाक से भी दूध निकल जाता है इसमें घबराने वाली कोई बात नहीं बस ध्यान रखें कि बच्चे को स्तनपान के बाद डकार जरूर दिलाएं अगर किसी कारणवश बच्चा डकार नहीं ले रहा है तो उसे कंधे पर चिपका कर 10से15 मिनट पीठ को सहलाते रहें जिससे दूध गले से पेट में उतर जाएगा और बच्चे को उल्टी नहीं होगी और बच्चे के सर को थोडा़ उपर करके सुलायें इससे भी बच्चे को उल्टी नहीं होगी।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mai jab bhi apni beti ko apple puri khilati hu uske baad wo kuch bhi nhi khati peeti 2. 3 din aisa q hota h wo 8 mahine ki h aur uska wait bhi nhi badh raha
उत्तर: कभी कभी बच्चों को कुछ टेस्ट पसन्द नही आता . आप जबर्दस्ती नही करे खिलाने मे . अगर बच्चा नही खा रहा है तों कुछ और कोशिश करे खिलाने की .1 हफ़्ते बाद फ़िर से ट्राइ करे बच्चो का भी स्वाद बदलता है . आप ध्यान रखे आपका बचा दिन में ४ बार याने उठते साथ , दोपहर में ,शाम को , और रात में सोने से पेहल।। आपका दुध ले और ३ टाइम याने नाश्ता , दोपहर का भोजन फिर रात का खान।। जो भी आप ताज़ा बनाये वह थोड़ा थोड़ा खै। आप डेरी प्रोडक्ट दिया करे। जैसे घर का बना दही , पनीर ।। आप बाकी ये सब दे सकती है।। Chawal kheer , सूजी की kheer , गाजर की kheer ,ल्वाकि की kheer।। मूँग दाल की खिचडी मासूर दाल की खिचडी दाल चवाल दाल रोटी दुढ रोटी केला शीक फ्रुइट्स की स्मूथिएस काधी चवाल आते का हल्वा सूजी का हल्वे सब्जीयू का सूप काऊ मिल्क याने gaay का दुध pine नहीं द. बच्चे के 1 साल होने के बाद है उसे गाय का दूध देना चाहिए .6 महीने तक के बच्चे के लिए आप जो भी खाना बनाती हैं उसमें आप गाय का दूध इस्तेमाल कर सकते हैं. पर दूध पीने के लिए बिल्कुल भी ना दें. गाय के दूध में पर्याप्त मात्रा में आयरन नहीं होता. जिससे कि उसके शरीर एनिमिक होने की समस्या हो सकती है . मां के दूध में और फार्मूले में गाय के दूध की तुलना में आयरन ज्यादा होता है इसलिए आप 1 साल तक गाय का दूध बिल्कुल भी ना दें . 1 साल के बाद अगर आप गाय का दूध देना भी चाहती हैं तो आप ध्यान रखें कि दूध अच्छी तरह उबला हो और ताजा हो साथ ही दूध की मात्रा 350 ml से 400 ml तक ही दें .गाय के दूध में प्रोटीन कैल्शियम मैग्नीशियम और विटामिन बी12 बी2 होता है. आप जब भी गाय का दूध दे वह मलाई सहित दे मतलब की फुल क्रीम दूध दे. गाय का दूध अगर आप ज्यादा देंगे तो बच्चे को सॉलिड आहार लेने के लिए पेट में जगह नहीं बचेगी .जिससे कि उसका पूरा पोषण तत्व मिलना कम हो जाएगा और शरीर कमजोर होने लगेगा.
»सभी उत्तरों को पढ़ें