34 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: Muze gale me kuch bhi khane se jalan hoti he

3 Answers
सवाल
Answer: 🙏 अक्सर महिलाओं को पहली बार गर्भावस्था के दौरान एसिडिटी और छाती या पेट में जलन और गैस होती है।गर्भावस्था के दौरान सीने में जलन और एसिडिटी शरीर में हॉरमोनल बदलावों के कारण होती है।ऐ तैलीय या चटपटा मसालेदार खाना चॉकलेट, खट्टे फल, चाय और कॉफी, एसिडिटी को बढ़ाते है। एक गिलास ठंडा दूध या एक कटोरी दही लेने से एसिडिटी और जलन में आराम मिलता है। गर्भावस्था मे 12 गिलास पानी पीना चाहीये। एसीडिटि से बचने के लिये सोने से करीब तीन घंटे पहले खाना खा लेना चाहिए जीर्ण भोजन न करें जल्दी पचने वाले हल्के और सुपाच्य भोजन और फल फुल जूस हरी सब्जियां आदि लें। खाना खाने के कम से कम एक घंटे बाद ही सोना चाहिए जादा परेशानि होने पर डाक्टर से सलाह लें। Take care💐
Answer: एसिडिटी की वजह से हार्टबर्न हो सकता है एक गिलास ठंडा दूध या एक कटोरी दही का सेवन एसिडिटी और हार्टबर्न का सदियों पुराना इलाज माना जाता है,एक कप अदरक की चाय भी आपको राहत पहुंचा सकती है, केला खाने से भी इसमें फायदा होता है. थोड़ी मात्रा में, लेकिन बार-बार भोजन खाती रहें। खाना को अच्छी तरह चबाकर खाएं। एक खाना से दूसरे खाना के बीच लंबा अंतराल होने से भी एसिडिटी बनने लगती . गर्भावस्था के दौरान रोजाना आठ से 12 गिलास पानी पीना जरुरी है, कोशिश करें कि रात को आप सोने से करीब तीन घंटे पहले अपना खाना खा लें,कई बार लेटने से भी छाती में जलन होने लगती है. खुब पानी पिय .
Answer: एसिडिटी की वजह से हार्टबर्न हो सकता है एक गिलास ठंडा दूध या एक कटोरी दही का सेवन एसिडिटी और हार्टबर्न का सदियों पुराना इलाज माना जाता है,एक कप अदरक की चाय भी आपको राहत पहुंचा सकती है, केला खाने से भी इसमें फायदा होता है. थोड़ी मात्रा में, लेकिन बार-बार भोजन खाती रहें। खाना को अच्छी तरह चबाकर खाएं। एक खाना से दूसरे खाना के बीच लंबा अंतराल होने से भी एसिडिटी बनने लगती . गर्भावस्था के दौरान रोजाना आठ से 12 गिलास पानी पीना जरुरी है, कोशिश करें कि रात को आप सोने से करीब तीन घंटे पहले अपना खाना खा लें,कई बार लेटने से भी छाती में जलन होने लगती है. खुब पानी पिय .
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मैंने 6 मंथ प्रेग्नेंट हूँ मुजहे कुछ भी खाने से गले में जलन होती h
उत्तर: ऐसा प्रेगनेंसी में होता h एक का m करे आप एक बार में खाना ना खाये हर एक घंटे में थोड़ा थोड़ा खाये और खाने के तुरंत bad रेस्ट ना ले कुछ देर वाक करे ज्यादा से ज्यादा पानी पीती रहे Kam से Kam 10,12 ग्लास ज्यादा तेल मिर्च मसलेदर वोजन ना ले रोज एक कटोरी दही खाये सुबह या दोपहर खाने के bad इससे अओका दीगेस्तीवे सिस्टम अच्छा होगा फ्रेश फ्रूट जूस ले आफ्टर ब्रेकफास्ट जैसे नारियल पानी गन्ने Ka जूस मौसमी जूस पेट की ठंडा रखने की कोशिश करे कुछ एक्षेर्सिसे करे हर रोज सुबह साम 30 मिंट वाक करे हल्के फुल्के Kam करे हमेशा लेफ्ट करवट में सोने की कोशिश करे.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो मैम मेरे गले में जलन शाम को होती ह शाम को कुछ भी खाने का मन नहीं होता
उत्तर: हेलो प्रेगनेंसी के दौरान सीने में गले में जलन एक आम समस्या है गले की और सीने की जलन जरूरी नहीं हमारे खान-पान के ही कारण हो। ये जलन हमारे अनियमित दिनचर्या के कारण भी हो सकता है। जैसे समय पर ना सोना पूरी नींद नहीं लेना। जल्दी उठना या देर से उठना। समय पर नहीं खाना। और शरीर में पानी की कमी होने से पेट में सीने में और गले में जलन की प्रॉब्लम आती है। जलन से बचने के लिए आप एक ही बार में ज्यादा खाना ना खाएं थोड़ा थोड़ा करके दिनभर खाती रहें। ज्यादा से ज्यादा पानी पीएं ज्यादा देर तक एक ही पोजीशन पर बैठे ना रहे। खीरा ककड़ी तरबूज खरबूज मुसम्मी का जूस और नारियल पानी पिए अगर आप दूध पीती होंगी तो गर्म दूध ना पिए ठंडे दूध में रूह अफजा डालकर पिए। दूध के जगह छाछ पीने से पेट शांत होता है जलन नहीं होती
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो मुझे ना थोड़ा भी मसाला वाली सब्जी कहने से गले मैं जलन होती है
उत्तर: हेलो डियर आप ने बताया कि आपको थोड़ी सी भी मसालेदार सब्जी खाने से गले में जलन होती है तो हो सकता है कि आपके गले में इंफेक्शन हो गया हो जिसकी वजह से ऐसा हो रहा है क्योंकि गले में जलन तभी होती है जब आपके गले में छाले पड़ गए हो या फिर इन्फेक्शन हो इसके लिए आप डॉक्टर से पूछ कर कोई ऑइंटमेंट ले सकती हैं जिससे कि आपको गले में आराम हो जाएगा इसके अलावा आप जब भी खाना खाए खाना खाने के तुरंत बाद पानी बिल्कुल भी ना पिए क्योंकि अगर आप तुरंत पानी पी लेंगे तो इससे आपका खाना डाइजेस्ट नहीं होगा और आप को गले में जलन होगी इसलिए आप खाना खाने के 1 घंटे बाद पानी पीजिए इसे आपके गले में जलन की समस्या काफी कम हो जाएगी
»सभी उत्तरों को पढ़ें