गर्भावस्था की तैयारी

Question: Endoscopy matlab kya

1 Answers
सवाल
Answer: एंडोस्कोपी (गुहान्त्दर्शी – Endoscopy meaning in Hindi) शब्द का सीधा मतलब है “अन्दर देखना” । अगर चिकित्सीय भाषा में समझाया जाये तो यह एक गैर-शल्य प्रक्रिया है जिसमें डॉक्टर द्वारा खास तरह के उपकरणों का इस्तेमाल कर रोगी के शरीर के अंदरूनी अंगों को देखकर उनका इलाज किया जाता है।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Ultrasound MATLAB kya
उत्तर: हैलो डियर--अल्ट्रासाउंड एक अत्याधुनिक स्कैन टेक्निक है जिसके द्वारा गर्भ में पल रहे बच्चे की स्थिति और उसके विकास की जानकारी प्राप्त की जाती है। अल्ट्रासाउंड द्वारा गर्भस्थ शिशु की कमियों की जांच करके गर्भ में ही बच्चे का सही ईलाज किया जाता है। अल्ट्रासाउंड द्वारा पहले ही निश्चित हो जाता है कि डिलीवरी नार्मल होगी या ऑपरेशन से अल्ट्रासाउंड द्वारा बच्चे का विकास हाइट वेट में भी पता चल जाता है। अल्ट्रासाउंड करने के लिए डॉक्टर अपनी आवश्यकता अनुसार गर्भवती की कंडीशन देखकर करने के लिए कभी भी कह सकते हैं ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Low placenta matlab kya
उत्तर: हेलो डियर गर्भनाल मतलब कि प्लेसेंटा नीचे की तरफ होने से प्रेगनेंसी में बेबी के लिए बहुत रिस्क है रहता है कि इससे ब्लडिंग की प्रॉब्लम हो जाती है इसलिए जब गर्भनाल नीचे की ओर हो तो कुछ सावधानियां रख से बच सकते हैं जैसे कि प्लेसेंटा नीचे होने पर बेड रेस्ट करना चाहिए किसी भी तरह का कोई काम नहीं करना चाहिए इंटरकोर्स बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए प्रेगनेंसी के शुरुआत में यदि प्लेसेंटा नीचे है तो इसकी स्थिति बदलने का चांस रहता है और बच्चे के वजन के साथ साथ यह ऊपर की ओर चले जाते हैं 9 महीनों तक भी यदि प्लेसेंटा नीचे है तो ऑपरेशन से डिलीवरी करवानी चाहिए और ड्यू डेट से पहले ही डिलीवरी करवा लेनी चाहिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: cephalic matlab kya
उत्तर: हेलो। प्रेगनेंसी के 36 से 38 हफ्ते के बीच बच्चे का सिर नीचे आकर पेल्विक पर फंसता है। इसे सेफेलिक पोजिशन कहा जाता है। इस पोजीशन पर नॉर्मल डिलीवरी के चांसेस ज्यादा रहते हैं। जब बच्चा इस पोजीशन पर आ जाता है तो बच्चे की मूवमेंट कम हो जाती है। और पेट कम दिखाई देता है और जो मूवमेंट का एहसास होता है वह हमारे सीने के नीचे वाले हिस्से पर होता है जो कि बच्चे के पैर का मूवमेंट होता है। सेफेलिक पोजिशन एक आइडियल पोजिशन होती है इससे बच्चा आसानी से नार्मल पैदा होता है,और 9 मंथ पूरे होने के बाद ही डिलीवरी होती है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: ओवुलेशन मतलब क्या ह ?
उत्तर: ओवुलेशन का मतलब उन दिनों से होता है जिन दिनों मे प्रेग्नेंट होने के चांस, आम दिनों के मुकाबले ,ज्यादा होते हैं .... इन दिनों में रिलेशनशिप बनाने से कंसीव करने के चांस बहुत ज्यादा बढ़ जाते हैं ... जो कपल्स प्रेग्नेंट होना चाहते हैं वह इन दिनों में पक्का ट्राई करते हैं ... ओवुलेशन डे को फर्टाइल डेज भी कहा जाता है .... यह आपका अगला पीरियड शुरू होने के 12 से 14 दिन पहले होते हैं ..
»सभी उत्तरों को पढ़ें