31 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: dr.mera 8th month chal raha hai per bachche ki movment din me kam kam time samajh ati hai meri sugar badhi rahti hai ish karan to movment kam nahi ho rahi jabki me insulin bhi le rahi hun per abhi ish month sugar badh rahi hai

2 Answers
सवाल
Answer: खाने में अलग-अलग तरह के अन्न खाएं। भोजन और अन्य नाश्ता नियमित रूप से करें। हर भोजन में और नाश्ते में कार्बोहाइड्रेट युक्त अन्न (स्टार्च) जैसे कि अनेक तत्वों से बनी डबलरोटी, पास्ता, फल और सब्जियों का प्रयोग करें। बड़ी मात्रा में चीनी डाले हुए अन्न और पेय को न लें। कम चर्बी वाली रसोई पकाएं और कम चर्बीवाले उत्पादन चुनें। गर्भकालीन मधुमेह में आहार तथा विहार की योजना कैसी हो : कैलरी ठीक मात्रा में मिलती रहे, जो वजन सही रखने में मदद करे, जिससे गर्भधारण के सही परिणाम प्राप्त हों । भोजन को चबा-चबाकर लें, वरना पेट में स्थित अंगों को अतिरिक्त मेहनत करनी पड़ सकती है। यही अनियमितता मधुमेह का कारण बन सकती है। भोज्य पदार्थ को बिना चबाए न निगलें। बिना पकी सब्जियों (सलाद) अंकुरित अनाज का अधिक सेवन करें। गर्भकालीन मधुमेह में चपाती, ब्रेड, आलू, दलिया जैसे कार्बोहाईड्रेट-युक्त आहार लें। मौसमी फलों तथा सब्जियों (सलाद) का सेवन अवश्य करें। उपवास से बचें। गर्भकालीन मधुमेह में अधिक चिकनाईयुक्त भोजन से बचें। भुना आहार लें – गुड़, चीनी, शहद, केक, चाकलेट के अधिक सेवन से बचें। हर भोजन के बाद पैदल चलें, चाहे घर ही में क्यों न हो, इससे रक्त में भोजन के बाद बनने वाली शर्करा के स्तर में सुधार होगा। धूम्रपान तथा शराब से दूर रहें। – शुगर-लेवल बराबर चेक कराते रहें। – दवाइयां आप वैसे ही लेते रहें, जैसे चल रही हैं। व्यायाम में टहलना, किसी एक्सपर्ट की देखरेख में योग (सूर्य नमस्कार) करें, अति लाभदायक होगा, खाली पेट व्यायाम न करें। हलका नाश्ता लेकर ही करें | बाहर के खाने से बचे। बहुत पानी पीएं। यदि आहार और नियमित व्यायाम से गर्भावस्था का मधुमेह नियंत्रण में न आए तो गर्भावस्था के बचे हुए समय के लिए इंसुलिन की सुइयां लेना आवश्यक होगा। ये मां और उसके बच्चे, दोनों के लिए सुरक्षित होती है। मधुमेह का उपचार कर
Answer: hiii aaisa nh ki apki sugar badhi ke karan movement kam ho garbh ka size badh jati ah uske karan bache ko jaga kam pad jati hai is liye uski movement kam feel hoti ah
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: hello madam, mere 8th month chal rha h or roz ji ghabra h abhi abhi kuch din se eska kya karan hai?
उत्तर: hello dear Aksar mahilaon ko लो बीपी होने के कारण थोडी़ परेशानी होती हैं, क्योंकि बीपी लो होने के कारण घबराहट उल्टी धड़कन तेज होना और व अन्य समस्याएं होने लगती हैं। BP. लो होने पर महिलाओं अधिक से अधिक आराम करना चाहिए बीपी की समस्या से बचने के लिए औरतों को आरामदायक और कंफरटेबल कपड़े पहनना चाहिए। और खुली हवा में सांस लेना चाहिए एक गिलास पानी में थोड़ा सा नमक और थोड़ा सा चीनी मिलाकर पिए लो बीपी होने पर डॉक्टर अधिक नमक का सेवन करने की सलाह देते हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: 8th month me baby ka movement jayada rahata hai ya kam ho jata hai plz bataye mai 2 din se kam movment feel kr rahi hu..
उत्तर: हेलो . डियर शिशु की हलचल गिनने के लिए आप करवट mei लेट जाएं और अपने पेट के नीचे सहारे के लिए तकिया या कुशन लगा लें.. स्थिर रहें और कुछ घंटों तक ध्यान दें..इस दौरान आपको अलग-अलग कम से कम 10 हलचल महसूस होनी चाहिए.. अगर आप की बेबी की मूवमेंट आप को कम लग रहे हैं तो आप ठंडा पानी पी सकती हैं या mitha ya ठंडा drinks पी सकती हैं.. अच्छी तरह खाना खा कर आराम करिए जिससे आपके पेट मैं बेबी की मूवमेंट आपको ठीक तरह से पता चलेंगी और करवट हो कर so जाइए अधिक शोर आप करें या सुने जैसे म्यूजिक सुने या दरवाजे को पीते कई बार शोर के कारण भी बच्चे सोते रहते हैं तो उठ जाते हैं.. और अगर फिर भी बेबी की मूवमेंट आप को पता ना चले तो आप डॉक्टर से संपर्क करें. ओके टेक केयर डियर
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Me abhi 4 month pregnent hu,10 din se bahut khasi ho rahi hai,homeopathi medicine le raji hun magar kuch kam nehi ho raha hai,is se baby ko koi problem nehi hoga na?
उत्तर: हेलो, अगर आपको खांसी आ रही है और कफ की प्रॉब्लम बहुत हो रही है तो गर्म पानी में हल्का नमक डालकर तीन या चार बार दिन में गरारे लें ।इससे गले की सिकाई होगी और खांसी कम होगा| आप चाय में तुलसी की पत्तियां डालकर पिएं| तुलसी की पत्ती का रस निकालकर उसमें शहद डालकर तीन या चार बार चाटती रहे ध्यान रहे अदरक का रस बिल्कुल ना डालें| प्रेगनेंसी के दौरान अदरक का रस गर्म करता है| सादे पानी का भाप लें| सोते समय गले में सीने में विक्स या बाम लगाएं| एकदम ठंडा पानी ना पिएं| ज्यादा ठंडी चीजें ना खाएं| जब खांसी आए तोआराम से बैठकर खांसे खड़ी ना रहे| खड़े होकर खांसने से पेट पर तनाव पड़ता है| जिससे पेट में और शरीर में दर्द होता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें