17 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: double marka test kya hota h ku kraya jata h

2 Answers
सवाल
Answer: 35 इयर्स से ऊपर की औरतों का प्रेगनेंसी टेस्ट कराने को कहा जाता है ताकि उनकी कण्डिशन प्रॉब्लम ना हों
Answer: ये टेस्ट बेबी का ब्रेन के विकास को बताता है की अच्छे से हो रहा है या नही कोई परेशानी तो नही है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: डबल मार्कर टेस्ट क्या होता है और क्यों कराया जाता है
उत्तर: हेलो भ्रूण में क्रोमोजोम्स के डेवलपमेंट को देखने के लिए डबल मार्कर टेस्ट किया जाता है यह 8 में से 14 हफ्ते के बीच किया जाता है डबल मार्कर टेस्ट की आवश्यकता तब पड़ती है जब मां की उम्र 35 वर्ष से अधिक हो अल्ट्रासाउंड और ब्लड टेस्ट का कॉन्बिनेशन होता है इसमें क्रोमोजोम्स की असमानताए को देखी जाती है गर्भ में जुड़वा बच्चे होने पर भी यह टेस्ट किया जाता है इस टेस्ट में अल्ट्रासाउंड के साथ स्क्रीन पर तस्वीर बनती है जिससे पता चलता है कि खून किस तरफ प्रवाहित हो रहा है। इससे बच्चे की सेहत और तंदुरुस्ती का पता चलता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: double marker test kya hota h mam dr. ne kraya hai blood test ke sath
उत्तर: हेलों आप 14 वीक प्रेगनेट है Double मार्कर टेस्ट स्क्रीनिंग टेस्ट है जो गर्भावस्था के पहले तिमाही में किया जाता ह इसका यूज़ गर्भ में बेबी के क्रोमोसोमल विषमता को पता लगाने के लिए किया जाता है यह इस बात का भी पता लगाने में मदद करता है कि आपके होने वाले बच्चे को डाउन सिंड्रोम जैसी कोई बीमारी तो नही है जो मूल रूप से क्रोमोसोमल विकारों से होती हैं। यह विकार बच्चे में गंभीर मानसिक दोषों को जन्म दे सकता है ये टेस्ट कराने के बाद हम निशिन्त हो सकते है कि हमारा बेबी हेल्थी ग्रो हो रहा है इस टेस्ट के माध्यम से बेबी को डाउन सिंड्रोम तो नही है पता चलता है डाउन सिंड्रोम के साथ बच्‍चे को ये प्रॉब्लम हो सकती है जैसे असामान्य चेहरे की विशेषताएं, तिरछी आँखें और छोटे कान और बौद्धिक परेशानी का होना।सुनाइ ना देना दिखाई ना देना हार्ट प्रॉब्लम,फ़ेफ़डो का कम विकसित होना lमहिलाओं की adhik उम्र से उसके होने वाले बच्चे में डाउन सिंड्रोम के होने की संभावना रहती है। इसलिए 35 साल की उम्र से अधिक गर्भवती महिलाओं को निश्चित रूप से Double मार्कर टेस्ट ज़रूर करवाना chahiye.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: NT scan ku kraya jata h
उत्तर: हैलो आप ये एन टी स्कैन करवा ।ये आमतौर पे बच्चे के स्वास्थ जैसे एनीमिया हदय की समस्याबच्चे मे डाउन सिडोम की समस्या कोजानने के लिए करवाया जाता है । यह स्कैन गभावस्था के पहली तिमाही मे भी करवा सकते है आप अपने डाक्टर से भी परामस करे।।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
Healofy Proud Daughter