30 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: chest me bhot pain rhta h....wt can i do

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर-अक्सर महिलाओं को पहली बार गर्भावस्था के दौरान एसिडिटी और छाती या पेट में जलन दरद और गैस होती है।गर्भावस्था के दौरान सीने में जलन और दरद एसिडिटी शरीर में हॉरमोनल बदलावों के कारण होती है। तैलीय या चटपटा मसालेदार खाना चॉकलेट, खट्टे फल, चाय और कॉफी, एसिडिटी को बढ़ाते है। एक गिलास ठंडा दूध या एक कटोरी दही लेने से एसिडिटी और जलन में आराम मिलता है।गर्भावस्था मे 12 गिलास पानी पीना चाहीये।एसीडिटि से बचने के लिये सोने से करीब तीन घंटे पहले खाना खा लेना चाहिए जीर्ण भोजन न करें जल्दी पचने वाले हल्के और सुपाच्य भोजन और फल फुल जूस हरी सब्जियां आदि लें।खाना खाने के कम से कम एक घंटे बाद ही सोना चाहिए जादा परेशानि होने पर डाक्टर से सलाह लें।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: kmr me pain rhta h...jisse bhot problem hoti h..kuch solution ho to bta do
उत्तर: गर्भावस्था मे कमर दरद--आपका वजन सामान्य से अधिक होना गर्भावस्था में कमर पर पड़ने वाले भार की वजह से कमर दर्द होता है तो आपको पीठ दर्द होने की संभावना अधिक रहती है।आपकी मांसपेशियों में थकान और हड्डियों पर आपके शरीर एवं शिशु का वजन पड़ने से होने वाले हल्के खिंचाव के कारण होता है।  आपको कम उचाई या फ्लैट और आरामदायक चप्पलें पहनें पैरो मे गुनगुने तेल हल्की मालीश लें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: muje bhot jyada legs pain rhta h
उत्तर: hello dear प्रेगनेंसी में पैरों में दर्द होना नॉर्मल है जैसे जैसे बेबी का वेट बधता है वैसे वैसे आपका वजन भी बढने लगता है और उसका असर आपके पैरो पर पड़ता है और आप के पैर में दर्द होने लगता है तो आप निम्न उपाय अपना सकती हैं- *आप रोज सुबह कुछ देर टहला कीजिए। *आप अपने पैरों की सिकाई फिटकारी dale गुन्गुने पानी से कर सकती है। *आप सरसो के तेल में अज्वाइन लेहसुन ड़ालकर पकाइये और ठण्डा होने पर उससे पैरो की मालिश कीजिये आपको बहुत आराम्ं मिलगा। *आप पैरों की थोड़ी स्ट्रेचिंग करके भी उसका दर्द दूर कर सकती है।आप पैरो का दर्द दुर करने के लिये कुछ एक्सरसाइज भी कर सकती है। *आप अपने खानपान्ं का भी ध्यांन रखिये।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: muje leg me bht pain hota rhta h or abi mera 6th month complet hua h to plz tell me wt i do to relief this pain
उत्तर: हेलो डियर आप परेसान ना हों पेट में बेबी होने के वजह से पूरा भार पैर पे ही पड़ता है इसलिए पैर में दर्द होता है आप पैर में गुनगुने तेल से मलीस करें ऑर उनचि हिल के सेन्दिल ना पहनें सिम्पल फ्लैट्स स्लीपर पहनें इस्से आपके पैरों ऑर एड़ियों को आराम मिलेगा व्यायाम करें ऑर मॉर्निंग वाक करें सोते टाइम पैर में तकिया लगाकर सोएं इसे आपको दर्द में कुछ आराम मिलेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Meri breast me bhot khichaw rhta h ... pain b hoti h.. koi solution??
उत्तर: हैलो डियर- आप परेशान न हो शायद आप ब्रेस्ट पेन के बारे में पुछना चाहती हैं। गर्भावस्था में स्तनों में खिंचाव के कारन खुजली और दरद होता है।ऐसा होने का कारन स्तनों मे दूग्ध ग्रंथीयों का बढ़ना होता है जिससे स्तन आकार में बढ़ने लगताऔर टाईट लगते हैं गर्भावस्था में स्तनों में दरद और खुजली सामान्य है। कई बार प्रेग्‍नेंसी के दौरान स्‍तनों में सूजन होने लगती है। इस समय स्तन जादा संवेदनशील भी हो जाते हैं।जिसमें तनाव के कारन दरद और खुजली चालू होता है। अतः खुजली और दरद को कम करने के लिये कुछ घरेलू उपाय कर सकते हैं। पानी अधिक से अधिक पिना है इससे आपको कुछ राहत होगी हल्के गुनगुने तेल से स्तनों के हल्के हाथों से मालिश करें।आप स्तनों के दर्द और खुजली और दरद से राहत पाने के लिए ठंडे और गर्म पैक का भी उपयोग कर सकते हैं जिससे आप को राहत मिलेगा।आप नारियल तेल में कपुर डालकर भी युज कर सकती हैं। जो समय के साथ धीरे धीरे ठीक हो जाता है Take care
»सभी उत्तरों को पढ़ें