23 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: muje 6mhina chal raha he to nepi wex kara sakti hu kya usse bache par koi asar to nahi hota he na kara sakti hu to 9 mhine tak kya sahi he

2 Answers
सवाल
Answer: गर्भावस्‍था के दौरान हार्मोन्‍स में बदलाव के कारण बाल काले और मोटे हो जाते हैं। इसके अलावा सामान्‍य दिनों की तुलना में गर्भावस्‍था में बाल तेजी से बढ़ते हैं। हालांकि प्रसव के बाद बालों के बढ़ने की गति सामान्‍य हो जाती है। इन बढ़ते बालों से घबराकर महिलायें इनको हटाने के लिए वैक्सिंग कराती हैं। लेकिन प्रेग्‍नेंसी के दौरान सूजन और त्‍वचा की संवेदनशीलता बढ़ जाती है जिसके कारण वैक्सिंग नुकसानदेह हो सकती है। गर्भावस्‍था में शोफ यानी इडीमा के कारण ऊतकों में तरल पदार्थ जमा हो जाता है जिसके कारण सूजन होती है। इसके कारण चेहरे, घुटने, हाथ, पैर व टखने सूज जाते हैं और त्‍वचा ज्‍यादा संवेदनशील हो जाती है। इस दौरान वैक्सिंग करने से गर्भावस्‍था में ऐसे करें वैक्सिंग गर्भावस्‍था के दौरान त्‍वचा काफी संवेदनशील हो जाती है, इसलिए अनचाहे बालों को साफ करने से पहले सारी जानकारी इकट्ठा कर लीजिए। शरीर के पूरे हिस्‍से पर एक साथ वैक्सिंग बिलकुल न करें, एक बार में किसी छोटे भाग पर ही इसे आजमायें। वैक्सिंग के दौरान यदि उस हिस्‍से में खुजली, जलन या फिर दर्द होने लगे तो वैक्‍सिंग करना तुरंत ही बंद कर दें। वैक्‍सिंग करने से पहले त्‍वचा पर पाऊडर लगाएं, पावडर लगाने से सूख जाएगी और वैक्‍सिंग में आसानी होगी। वैक्‍सिंग स्‍ट्रिप निकालते वक्‍त अपनी स्‍किन को कस कर टाइट कर लीजिए ताकि त्‍वचा पर रैश के कारण कोई निशान ना पडे़। वैक्सिंग के दौरान यदि त्‍वचा से खून निकले तो उस जगह पर बर्फ या ठंडा पानी प्रयोग कीजिए। वैक्‍सिंग के बाद शरीर पर बॉडी लोशन या मॉइस्चराइजर लगाएं। शरीर को साफ करने के लिए सूती कपडे़ का ही प्रयोग करें। गर्भावस्‍था के दौरान वैक्सिंग कराने से बचना चाहिए, लेकिन अगर आपको लगे कि वैक्सिंग जरूरी है तो इसे विशेषज्ञ की देख-रेख में ही करें। निकल सकते हैं और इससे संक्रमण भी हो सकता है।
Answer: डियर डिलिवरी से पहले वैक्स नही करवानी चाहिए को की डिलिवरी से पहले वैक्स इसलिए नही करवाना चाहिए को की प्रेग्नेन्सी मि हार्मोन मि काफी बदलाव होते है जिंस कारण हमे वैक्स करवाने एस.डब्ल्यू. रशेज इचिंग ऑर रेदनेस की प्रॉब्लम हो जाती है इसलिए प्रेग्नेन्सी मि वॅक्सिंग नही करनी चाहिए
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: hii muje 3 month chal raha he or mera pett abhi tak dikh nahi raha to koi chintaa ki batt to nahi he na ??
उत्तर: हेलो डियर चिंता मत करें अगर आपका पेट नहीं दिख रहा है। शरीर में गर्भाशय किस जगह है इससे भी पेट के दिखने पर फर्क पड़ता है। अगर ये पीछे की ओर है तो ये आमतौर पर थोड़ा बाद में दिखाई देता है और अगर ये थोड़ा बाहर है तो गर्भाशय थोड़ा जल्दी दिखता है।पेट के बाद में दिखने का ये मतलब नहीं है की बच्चे सही से नहीं बढ़ रहा है। डॉक्टर बच्चे की ग्रोथ दूसरी और तीसरी तिमाही में देखते हैं। अगर आपके डॉक्टर को आपके बच्चे के विकास पर थोड़ा भी शक होगा तो वो अल्ट्रासाउंड से सब स्थिति साफ करने की कोशिश करेंगे। 
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Hitting ped kaha par milta he??usse koi nuksan to nahi hota hoga??muje kammar me bahut dard hota he me javab dijiye na.
उत्तर: हीटिंग पैड आपको कोई भी मेडिकल शॉप में मिल जाएगा लेकिन कमर दर्द के लिए नमक मिले गर्म पानी में तोलिया डालकर इस तौलिऐ से पेट व कमर में भाप लें यह दर्द का एक अचूक उपाय है अजवाइन को तवे पर धीमी आंच में से एक ने ठंडा होने पर धीरे-धीरे चबाकर खा ले ऐसा करने से दर्द में बहुत राहत मिलेगा कैल्शियम की कम मात्रा से भी दर्द होता है कमर में इसके लिए कैल्शियम युक्त चीजों का सेवन करें गर्भावस्था में कभी भी कमर को मोड़कर ना झुके हमेशा झुकने के लिए पहले अपने घुटनों को मोड़े
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Kya mein hatho par mahadi laga sakti hu es se bache pe asar to nahi hoga
उत्तर: hello डियर ,,,,हाथों पर मेहंदी लगा सकती है इसमें कोई प्रॉब्लम नहीं है लेकिन ध्यान रहे कि आप जिस मेहंदी का यूज करनी है वह हर्बल होना चाहिए क्योंकि बाजार में केमिकल युक्त मेहंदी मिलती है केमिकल युक्त मेहंदी के उपयोग से आपके हाथ को नुकसान पहुंच सकता है क्योंकि प्रेगनेंसी में बॉडी बहुत ही सेंसिटिव हो जाती है और केमिकल के रिएक्शन बहुत ही जल्द हो जाते हैं|
»सभी उत्तरों को पढ़ें