3 महीने का बच्चा

Question: c section se motapa q bdhtq h

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: c section se kitne baby kr sakte h
उत्तर: डियर आप सी सेक्शन से अधिक्तम 3 बेबी ही कर सकती है . पर आप tenshon ना लें .. काय बार सी सेक्शन के बाद नॉर्मल डिलिवरी भी हो जाती है अगर आप के प्रेग्नेन्सी मे किसी तरह की कोई कॉम्प्लिकेशन ना हो to.. ओके
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hello dr. mujhe c section se baby boy hua h...
उत्तर: hello dear सिजेरियन डिलीवरी के बाद कब्ज़ की समस्या से बचने के लिए भरपूर पोषण और फाइबर युक्त आहार जैसे दलिया ,साफ धुले और कटे फल सब्ज़ियाँ, साबुत अनाज से बने उत्पाद, चोकर युक्त आटा, फ़ल, हरी सब्जियां, पत्तेदार सब्जियां, आदि खायें। माँ का दूध की सही मात्रा बनाए रखने के लिये माँ को दिन में ख़ूब तरल पदार्थों का सेवन करना चाहिये। इसके लिए आप छाछ, दूध, नारियल पानी, सूप, लस्सी आदि पीयें। दही आपके पेट के स्वस्थ बनाता है और पाचन तंत्र को सही रखता है। साथ ही इसमें कैल्शियम, प्रोटीन और कई विटामिन्स होते हैं, इसलिए दही को आहार में ज़रूर शामिल करें। अगर आप दही घर पर ही जमायें तो बहुत अच्छा होगा। फैटी एसिड से भरपूर आहार लें जैसे बादाम, सोयामिल्क, दूध, मछली आदि। यह आपके और आपके शिशु दोनों की सेहत के लिए अच्छा है। सिजेरियन डिलीवरी के बाद शरीर की प्रोटीन सम्बंधी ज़रूरतें पूरी करने साथ ही घाव के सही होने के लिए माँ को प्रोटीन से भरपूर खाने के चीजें आहार में शामिल करनी चाहिये। प्रोटीन के लिए आप दाल, अंडा, चिकन, मछली और सूखे मेवे खा सकती हैं। सीजर डिलीवरी ऑपरेशन के दौरान माँ का काफी रक्त बह जाता है, इसलिए उसके शरीर में खून बढ़ाने के लिए फॉलिक एसिड और आयरन से भरपूर आहार शामिल करें। आयरन के लिए माँ को अंजीर, पालक, मांस, और अंडे की जर्दी वगैरह खिलायें। लेकिन ज्यादा आयरन लेने से बचें क्योंकि इससे आपको कब्ज़ हो सकती है। शरीर के ज़ख्म जल्दी भरने में विटामिन सी बहुत मददगार है, साथ ही यह ऑपरेशन डिलीवरी के घाव को संक्रमण के खतरे से भी बचाता है। पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी लेने के लिये संतरा, अंगूर, टमाटर, ब्रोकली, तरबूज़ आदि खायें। अपने बेबी ब्वॉय के लिए बहुत सारी बधाइयां .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri delevary ke baad wait bad gya h .kya c section se motapa badhta h kya
उत्तर: डिलीवरी के बाद अक्सर वेट बढ़ जाता हैपर इसके लिए ऑपरेशन या नॉर्मल डिलीवरी जिम्मेदार नहीं है
»सभी उत्तरों को पढ़ें