5 महीने का बच्चा

Question: apki bat thik hee me mana nahi kar rahi hhu ghr ke be sare upcahr karke dehk lehya hee par kuch nahi horaha hee

1 Answers
सवाल
Answer: haa anar se hemoglobin bhnta hee anar juci bhut hi best hee
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Mere bacche ko rat me bohot khasi aa rahi hai 15_20 din de dava chal rahi hai par khasi thik nahi ho rahi please Kuch home remedies bataye
उत्तर: हेलो डियर आपका बेबी अभी 8 मंथ का है ।और छोटे बच्चों को तो ज़्यादातर खाँसी हो ही जाती है इससे बचाने के लिए आप बेबी को फुल बाजू के कपडे़ पहनाये ।बेबी की साफ सफाई का ध्यान्ं रखे ।बेबी की खासी दुर करने के लिये आप निम्न्ं उपाय अपना सकती है- @थोड़ा अजवायन के बीज के साथ थोड़ा पानी उबालें और बेबी को इसे पिलाएं। इसके अलावा, अगर बच्चा ऊपर का दूध ले रहा है तो दूध उबालते समय अजवायन डाल दें इसे बेबी को दें। @सरसों के उबलते तेल में लहसुन और लौंग डालें और इसे बेबी की छाती पर लगाने से भी खांसी मे आराम मिलता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri beti 2 days se feedding nahi kar rahi he or feeding ke time roti he par usko bhukh lagi hoti he par feeding nahi kar pa rahi vo esa kayun kar rahi he ?
उत्तर: हेलो डियर , हो सकता है कि उसे मुंह में किसी तरह का इंफेक्‍शन या रैशेस हों,इस स्थिति में आप तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें. जब बच्चों के पेट में दर्द होता है तब भी वह दूध पीना पसंद नहीं करते हैं कभी-कभी बच्चों के पेट में गैस की समस्या होने पर वह रोने लगते हैं, और दूध पीना बंद कर देते हैं कुछ माँ में उचित मात्रा में दूध नहीं बन पाता है, या फिर कुछ में दूध होते भी उसका फ्लो सही से नहीं हो पाता है ऐसे में, बच्चों उचित मात्रा में दूध नहीं पी पाते हैं इन सब कारणों में से कोई एक कारण हो सकता है जिसकी वजह से आपका बच्चा दूध नहीं पी रहा है आप समझने की कोशिश कीजिए कि क्या कारण है और उसका समाधान कीजिए बच्चा वापस से दूध पीने लगेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hiii mam ham pichle 3 months se try kar rahe hee par abhitak kuch nahi hua aesa kya kare ke me jaldi se pregnant ho jau
उत्तर: हेलो डियर पीरियड्स से दो हफ्ते पहले का समय महिला के ऑवुलेशन का समय होता है। इस समय गर्भधारण करने का प्रयास करें। डॉक्टर कहते हैं कि ओवेलुशन पीरियड में गर्भधारण के चांस 60 से 70 फीसदी होते हैं। इस दौरान किए गए प्रयास के रिजल्ट में कंसीव करने की संभावना काफी बढ़ जाती है। जल्दी प्रेग्नेंट होने के लिए जरूरी है कि होने वाली मां सेहतमंद आहार खाएं और खान पान पर पूरा ध्यान दें। आयरन और केल्शियन की कमी के चलते कंसीव होने के चांस खत्म होते हैं क्योंकि फर्टिलाइजेशन प्रॉपर डाइट से जुड़ा मामला है। महिला खुश रहे और अच्छा खाना खाए तो प्रेग्नेंसी के चांस 30 फीसदी बढ़ जाते हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें