9 साल का बच्चा

Question: Mazya baby la 6 month cmplt zala ky ky dewu khayla..plz help me

2 Answers
सवाल
Answer: 6 मंथ कंपलीट होने के बाद आप बच्चे को खाना दे सकते हैं आप baby को पहली बार खाना खिला तो आप ध्यान रखें कि बच्चे को पूरी तरह से puree खाना दे ताकि बच्चे के गले में ना फंसे साथ ही बच्चे को खाना हमेशा कांच, स्टील या चांदी के bowl में खिलाए कोशिश करें कि प्लास्टिक इस्तेमाल ना करें आप बच्चे को दाल का पानी सब्जियों का purre रजैसे कि गाजर चुकंदर, फ्रूट फ्यूरी ,फ्रूट जूस घर का बना हुआ, दाल चावल की पतली खिचड़ी आप बच्चे को यह सब दे सकते हैं बस आप इस बात का ध्यान रखें कि जो भी खाना दे आप 3 दिन तक दे ताकि आपको समझ में आ जाए के बच्चे को उस खाने से किसी प्रकार का रिएक्शन नहीं हो रहा है शुरुआत में बच्चा बहुत ही कम खाएगा दो-तीन चम्मच खाएगा आप उसका ध्यान रखें कि आप बच्चे को फोर्स ना करें धीरे धीरे बच्चा अपने आप खाने लगेगा बच्चों को पानी भी जरूर पिलाएं ताकि बच्चे को कब्ज की समस्या ना हो कोशिश करें कि आप बच्चे को 2 साल तक अपना दूध जरूर पिलाएं
Answer: hello dear aapka बेबी अब आप से ठोस आहार दे सकती हैं ठोस आहार देने की शुरुआत आप दाल के पानी या चावल के पानी से कर सकती हैं धीरे-धीरे करके आप बेबी को अन्य प्रकार के भोज्य पदार्थ जैसे पपीता की प्यूरी टमाटर की प्यूरी सेब की प्यूरी चीकू फ्यूरी आदि भी दे सकती हैं आप चाहे तो बेबी को मूंग की खिचड़ी सूजी का हलवा रागी का हलवा घर में बना हुआ चावल को अच्छे से मिक्स करके या ग्राइंडर में पीसकर आप बेबी को खिला सकती हैं आप जो भी भोजन दे रही है वह अच्छे से पिसा हुआ हो क्योंकि अभी बेबी को निगलने में समस्या होती है इसके अलावा आप बेबी को पानी भी दे सकती हैं व अन्य प्रकार के फलों का जूस व नारियल पानी भी दे सकती हैं
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: divasbharat bala la ky khayla dyave
उत्तर: हेलो डियर आप अपना सवाल हिंदी या इंग्लिश में पूछे तो हमें आपको आंसर देने में सुविधा होगी आपके प्रश्न के अनुसार मुझे ऐसा लग रहा है कि आप शायद अपनी बेबी के लिए डाइट पूछ रहे हैं आपका बेबी अगर 8 मंथ का है तो आप बेबी को आप ठोस आहार देना स्टार्ट कर सकती हैं आप अपने बेबी को खाने में चpati की ऊपरी परत दाल या dhudh में भिगा कर खिला सकती है..ess k अलावा आप बेबी को डाइट mei सभी तरह क फ्रूट juice..सब्जी यो का सुप..डलियa..सuजी का उपमा या खीर..साबुड़ाने की खीर....डलिया मीठा या नमकीन रूप mei..Apple को उबल कर पक्कa kela ..मूँग दाल की खिचडी ओर oats भी दे सकती है. मगर आप बेबी को जब भी खिला है थोड़ा-थोड़ा खिलाया और बार बार खिलाएं . ओके
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मज़या बेबी ल 3 मंथ चालू आहे कय मी मैंगो एंड बनाना खाऊं शकते
उत्तर: हेलो। प्रेगनेंसी के दौरान खाने जाए जाने वाली फलों में केला सबसे अच्छा होता है। इसमें आयरन और कैल्शियम होता है जो ब्लड की कमी या एनीमिया को दूर करता है और कब्ज की प्रॉब्लम को भी हटाता है। इसमें फोलिक एसिड और एंटीऑक्सीडेंट होता है जो इम्यूनिटी सिस्टम को स्ट्रांग करके शरीर को मजबूत बनाता है। प्रेगनेंसी के दौरान जब जी मिचलाता है और कुछ खाने का मन नहीं होता तब केला खा लेने से आराम मिलता है यह बीपी ब्लड शुगर और कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल करता है प्रेगनेंसी के दौरान अचानक लगने वाले भूख में केला बहुत मददगार होता है। प्रेगनेंसी के दौरान रोज केला खाने से टेंशन दूर होता है आप गर्भावस्था के दौरान आम खा सकती हैं।  आम आयरन, विटामिन सी, विटामिन ए, विटामिन बी6, पोटेशियम और फॉलिक एसिड से भरपूर है। ये सभी गर्भावस्था के लिए महत्वपूर्ण पोषक तत्व हैं। आम में फाइबर भी प्रचुर मात्रा में होता है, जो कब्ज की रोकथाम में मदद कर सकता है। ये ऊर्जा और एंटीऑक्सीडेंट के भी अच्छे स्त्रोत हैं। लेकिन अगर प्रेगनेंसी के दौरान जेस्टेशनल डायबिटीज की प्रॉब्लम है तोmango बिल्कुल भी ना खाएं क्योंकि आम में शुगर की मात्रा बहुत ज्यादा होती है आप आम खाए लेकिन कम मात्रा में
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: 6 months nantr ky ky khayla deta yeil
उत्तर: हेलो बच्चे जब शुरुआत में दूध के बाद कुछ सॉलिड चीजें लेना शुरू करते हैं तो एकदम से उन्हें एक्सेप्ट नहीं कर पाते और खाना नहीं चाहते या तो उन्हें उनका स्वाद अच्छा नहीं लगता या उनकी थिकनेस के कारण वह नहीं खाना चाहते क्योंकि उन्हें खाना गटकने की आदत नहीं होती इसलिए बच्चों को लिक्विड के बाद डायरेक्ट सॉलि़ड ना देकर सेमी सॉलि़ड फूड देना चाहिए। सेमी सॉलि़ड फूड में सेरेलक दाल और चावल की मिक्स पतली खिचड़ी दलिया की खिचड़ी या दलिया का खीर चावल का खीर फलों की स्मूदीज या फ्रूट शेक देना शुरू करें बच्चा जब यह सब चीजें खाने लगे तो एक या दो माह बाद उसे यही सब चीजें थोड़ा गाढ़ा करके दे। और साथ में दाल चावल मसलकर और दूध रोटी मसल का या दाल रोटी मसलकर खिलाएं और जब बच्चा ऐसे भी खाने लगे तो उसके 2 महीने बाद फिर नॉर्मल खाना बच्चे को खिलाना शुरू करें स्टेप बाई स्टेप बच्चों के आहार को गाढ़ा करने से बच्चे आसानी से डाइजेस्ट कर लेते हैं और खाना भी सीख जाते हैं। इससे बेबी का वजन जरूर बढेगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mazya bala la khup sardi aani cuf hoto sarkha ky karave lagel upay sanga
उत्तर: हेलो डियर जैसे ही मौसम चेंज होता है बच्चों को सर्दी जुकाम होना नॉर्मल है डियर आप चिंता नहीं करें आप नीचे दी गई रेमेडी को फॉलो करें : अपने बच्चे को अपना दूध पिला आएंगे बच्चा उतनी जल्दी अच्छे से रिकवर होगा और अपने बच्चे को गर्म कपड़े सही से पहनाकर के बाहर ले जाते समय टोपी अवश्य पहनाए और socks तो हमेशा पहना कर रखें क्योंकि ठंड हमेशा पैरों से जल्दी चढ़ती है -कप सरसों के तेल में अचवाइन और लहसुन की 10 कलियां लेकर उसे पकाएं, थोड़ा ठंडा होने पर उससे बच्चे की मालिश करें। इससे बच्चे को काफी राहत मिलेगी। दरअसल सरसों के तेल, लहसुन और अजवाइन में कीटाणु रोधक और विषाणु रोधक गुण होते हैं। इसके अलावा आप सरसों के तेल में जायफल भी डाल सकती हैं। जायफल गर्म होता है, ऐसे में इसके मिश्रण वाले तेल से हुई मालिश से जुकाम खत्म होगा। -लहसुन की एक छोटी कली लेकर उसे पीसें। इसके बाद थोड़ा शहद मिलाकर पेस्ट बनाएं। दिन में एक या दो बार इसे बच्चे को दें। -अजवाइन का काढ़ा पिलाएं। -जुकाम के दौरान सूप काफी फायदेमंद होता है। बच्चे को सब्जियों का गर्म सूप चम्मच से आराम से पिलाएं। इससे काफी राहत मिलेगी।
»सभी उत्तरों को पढ़ें