6 महीने का बच्चा

Question: baby ko 6 month pura hone ke baad hi kiyu pani pilate h uske pehle pilane se kiya hota h

2 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर आप अपने बेबी को ब्रेस्टफीडिंग कर आते हैं तो उनकी पानी की जरूरत आप के दूध से ही पूरी होती है इस वजह से 6 महीने तक बच्चों को बाहर की पानी की जरूरत नहीं होती , मां के दूध में ज्यादातर मात्रा पानी की होती है इस वजह से बच्चों को पानी नहीं देते हैं आप चिंता ना करें पानी ना दे ऐसा नहीं होता है आप अपने बेबी को थोड़ा थोड़ा पानी जरूर खिला सकते हैं , आपकी बेबी को पानी पिलाने से कोई भी समस्या नहीं होगी आप जरूर पिला सकते हैं . अपना ख्याल रखे और स्वस्थ रहें .
Answer: Hi mam ; 6 month tk baby maa ka dudh pita he Or maa ke dudh me 80% pani samil hota he jise baby ke shrir me pani purta he Is liye pani ki jrurat hi nhi Ager pani pilaoge to aapke baby ka pet pani se hi bhar jata he parinam vo dudh km piyega So 6 month tk baby ko sif maa ka dudh hi dena chahiye
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: baby ko solid food kis month se dena h jab 6 month chal raha ho tab ya pura 6 months complete hone ke baad
उत्तर: soild 7 month se thoda thoda suru kre abhi puri form me do
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: sadiyo se ye log karte aye h 6 mahine k baad bachho ko daal ka pani halka juice pani pilate aaye h mere ghar k to sabhi bachhe 6 m9nth k baad se गाय ka dudh ek do chamach pani milakar pilate aaye hai yaha pe sabhi log ka jawab aata hai 1 saal baad hi de aiye me kiya kiya jaye kya sahi h kya nhi kuch samjh nhi aata h aaganbaadi me bhi 6 month bad ba hho ko daal ka pani fruits ko blend krk pilane ko bolte h.kya sahi h plz guide kare
उत्तर: पहले जब सब दाल राइस का पानी देना चालू करते थे तब बच्चो को बहार का खाना मोस्टली ४ महीने से देते थे. मतलब ४ महीने से ये सब पानी देते थे. उस टाइम बच्चा सॉलिड के लिए तैयार नहीं होता है. अब छे महीने से देते है तो पानी की बजाय हम डायरेक्ट खाना हाथ से मसलकर दे सकते है. अब आपका सवाल है की पानी क्यों नहीं? तो पानी से बच्चे का पेट जल्दी भर जाता है और बच्चा कम खाता है , तो उसे पोषण कम मिलता है. अब हुए रिसर्च से पता चला है की माँ का दूध जितने लम्बे समय तक बच्चे को दे उतना बच्चे के शारीरिक और मानसिक विकास के लिए अच्छा है. तो अगर हम बहार का दूध देना चालू कर देंगे तो बच्चा अपने आप की माँ का दूध लेना कम कर देगा. जो उसके लिए अच्छा नहीं है. अभी तो कई लोग है जो बच्चे को ४- ५ साल तक फीड कराते है. दूसरी बात की अभी के तुलना में पहले गाय का दूध इतनी मिलावट वाला नहीं था. अभी हम देखेंगे तो गाय को भी ज्यादा दूध दे उसके लिए इंजेक्शन लगाते है. ये बात भी बच्चो को नुकशान पंहुचा सकती है. तो ये सब कारन की वजह से बच्चे को १२ महीने तक गाय भैस बकरी या किसी पैकेट का दूध नहीं देना चाहिए. एक साल तक बच्चे के लिए पोषण का स्तोत्र उसकी माँ का दूध ही है. छे महीने के बाद आप घर में बनने वाला सब खाना बच्चे को हाथ से मसलकर और छोटे टुकड़ो में दे सकते हो. पर १२ महीने पुरे होने तक बच्चे के खाने में नमक मिर्ची चीनी गुड़ शहद भी नहीं मिलाना चाहिए. ये सबकी बच्चे को जितनी जरुरत होती है वो उसे माँ के दूध से मिल जाती है. तो ज्यादा देना बच्चे के लिए अच्छा नहीं है.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: 6 month start hone ke baad baby ko daal ka pani cahwal का pani de skte hai
उत्तर: hello सिक्स मंथ होने के बाद बच्चे को मां के दूध या फार्मूला मिल्क के अलावा भी कुछ और खिलाने की जरूरत पड़ने लगती है ऐसे में आप बच्चे को शुरुआत में फलो की फ्यूरी जैसे एप्पल बनाना पपाया नाशपाती खुबानी की फ्यूरी बनाकर बच्चे को खिलाएं बच्चा जब इसे खाने लगे तो 1 हफ्ते के बाद आप बच्चे को सब्जियों की पूरी जैसे गाजर पालक बींस की फ्यूरी दें। सुबह फलों की फ्यूरी और शाम को वेजिटेबल फ्यूरी बच्चे को खिलाएं बच्चा जब इसे खाना सीख जाए तब आप उसे खिचड़ी दलिया खीर पतला हलवा मसला हुआ दाल चावल दाल रोटी दूध रोटी मसलकर ओटमील की खिचड़ी आदि चीजें बदल बदल कर बच्चे को खिलाएं इससे बच्चे को सभी प्रकार के टेस्ट के खाने की आदत होती है और बच्चा जल्दी सॉलिड डाइट लेना सीख जाते हैं इन सब चीजों की शुरुआत बच्चे को एक दो चम्मच खिलाकर करें जबरदस्ती बच्चे को ज्यादा ना खिलाए धीरे धीरे आप मात्रा को बढ़ाती जाए। दूध के बाद जब बच्चा कुछ और खाना शुरू करते हैं तो आसानी से डाइजेस्ट नहीं कर पाते। इसने आप थोड़ा थोड़ा करके मात्रा बढ़ा दी जाए
»सभी उत्तरों को पढ़ें