37 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: baby ke head down position me hone ke bad kb tk डिलेवरी hoti hai ,,

1 Answers
सवाल
Answer: गर्भ में बच्चा अपनी पोजीशन बदलता रहता है यानी कि बच्चे समय पूरा होने पर बच्चा अपनी पोजीशन ले लेता है यानी के बच्चे का सर नीचे और पैर ऊपर की तरफ जिसे cefalic पोजीशन कहते हैं जन्म के समय बच्चे को सिर की तरफ से निकाला जाता है ऐसे बहुत ही कम होता है कि बच्चे का सिर ऊपर हो इस पोजीशन को ब्रीच पोजीशन कहते हैं यह पोजीशन डिलीवरी के लिए safe नहीं होती है इस पोजीशन में से सर अटकने का खतरा बना रहता है इसमें बच्चे को ऑक्सीजन की कमी का भी खतरा होता है बच्चे की गर्भनाल पर भी दबाव पड़ता है जिससे ऑक्सीजन बंद हो जाती है ऐसी पोजीशन में ही सिजेरियन की एडवाइज दी जाती है ऐसा नहीं है कि इसमें नॉर्मल डिलीवरी नहीं हो सकती है पर बच्चे का सर शुरुआत में बड़ा होता है और धड़ छोटा होता है इसलिए डिलीवरी के दौरान अनहोनी से बचने के लिए सर्जरी की सलाह दी जाती है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: बेबी हेड डाउन krne के bad डिलीवरी कब तक होती
उत्तर: 9ve महीने में कभी भी आपकी डिलीवरी हो सकती है ,या फिर कुछ महिलाओ की डिलीवरी 9 महीने के बाद भी होती है, ap धैर्य रखें और आपको डॉक्टर से चेक up karwate रहना चाहिए .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Baby head down position me kb aata hai
उत्तर: hello डियर 36 से 37 सप्ताह के बीच शिशु का सिर नीचे की स्थिति में आ जाती हैं पर जो औरतें दूसरी बार मां बन रही हैं शिशु अंतिम क्षण में सर नीचे वाली स्थिति में आता है कभी-कभी बच्चा नीचे आने पर पेट के निचले हिस्से में हल्का दबाव और दर्द महसूस होता है और ऊपरी हिस्सा हल्का और खाली सा महसूस होने लगता है कभी कभी पीठ के पीछे नहीं चली और दर्द भी होता है बार बार बाथरूम जाने की इच्छा होती है क्योंकि इस समय मूत्राशय पर अधिक दबाव पड़ने लगता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: baby kitane week me head down position leta haiaur usake kitane din bad delivery hoti hai
उत्तर: hello डियर 36 से 37 सप्ताह के बीच शिशु का सिर नीचे की स्थिति में आ जाती हैं पर जो औरतें दूसरी बार मां बन रही हैं शिशु अंतिम क्षण में सर नीचे वाली स्थिति में आता है कभी-कभी बच्चा नीचे आने पर पेट के निचले हिस्से में हल्का दबाव और दर्द महसूस होता है और ऊपरी हिस्सा हल्का और खाली सा महसूस होने लगता है कभी कभी पीठ के पीछे नहीं चली और दर्द भी होता है बार बार बाथरूम जाने की इच्छा होती है क्योंकि इस समय मूत्राशय पर अधिक दबाव पड़ने लगता है ऐसा लगने पर चार-पांच दिन के अंदर डिलीवरी होने की संभावना होती है
»सभी उत्तरों को पढ़ें