ाव मुस्तेरेद ऑयल बेस्ट ः एंड समर में ऑलिव से करिये
9 महीने का बच्चा0 Answers
सवाल
हेलो डियर आप कौन सा भी प्रोडक्ट इस्तेमाल कर सकती है लेकिन बेबी को 2 साल के बाद बॉर्नविटा या डी एच ए दिया जाता है लेकिन आप एक बार बेबी को देकर देख लीजिए यदि बेबी को वह अच्छे से हजम हो पाए बेबी को कोई परेशानी ना हो तो आप बेबी को लगातार दे सकते हैं अपना और बेबी का ख्याल रखना
हेलो डिअर, आपके बेबी को अगर फोड़ा फुन्सी हो जाता है तो आप कुछ धरेलू इलाज से ठीक कर सकती है, फोड़े या फुन्सी पे रूई में गाय का देसी घी या सरसो का तेल में भिगो कर रूई को निचोड़ दे इसके बाद फोड़े वाली जगह पर बांध कर पट्टी कर दे इससे फोड़ा फुट जाता है , फोड़े वाले जगह पर नीम का लेप भी लगा दे इससे भी फोड़ा जल्दी सही हो जाता हैं, बरगद की पत्तियों को गर्म करके फोड़ा वाली जगह को बांध दे इससे भी फोड़ा जल्दी फुट जाता हैं , ऐसा भी कर सकती हैं बच्चे को अच्छे से नहलाकर नारियल के तेल में कपूर डाल कर लगाने से भी फोड़ा ठीक हो जाता है।
आप जिंजर तुलसी की चाय का सेवन करें इससे आप को आराम होगा
हेलो डिअर , आप अपने बेबी को दिन में 3 बार भोजन दे सकते हैं जो अच्छी तरह से पकाया गया हो, सुबह के समय , रावा इडली, ओट्स रागी डोसा, सूजी खीर, केले मैश किया हुआ। पेनकेक्स, सेब प्यूरी (कोई भी एक) खिला सकती है फिर थोड़े अंतराल पे मिल्क पिलाये दोपहर को अगर बेबी को जुखाम हो हुआ हो तो केला खिला सकती हैं 1 बजे खीच्दी, आलू और गाजर खीच्दी, दही चावल, रागी दलिया, वेगीए का सूजी उपमा , फिर थोड़े अंतराल पे मिल्क दे 5 बजे कोई भी मुलायम फल, दही, उबला हुआ मीठा आलू, सेब पुरी 7 बजे उत्तपम, सूजी खीर, चावल के साथ मूंग दाल, कच्चे केले की दलिया, जौ अनाज, गेहूं अनाज खिला सकती है और दिन भर में बीच बीच मे मिल्क भी पिलाये ।