8 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: Obotion 5 jan...or 18 fab ko..pegnensi positiv thi..to mujhe kya krna chahiye ...डिलेवरी me koi problams aa skti hai ...

1 Answers
सवाल
Answer: हेलों आप का 5 जनवरी को अबोर्सोन हुआ और 18 फेब्रुअरी को टेस्ट पॉजिटिव था . आप श्योर थी कि अबॉर्शन हुआ था . अगर हा तो बॉडी में प्रेगनेंसी होर्मोन 2 महीने तक रहते है जिस कारण पिरियड ना आने पर आपने टेस्ट किया हो और आपका टेस्ट पॉजिटिव निकला हो . पर हम कोई रिस्क नही ले सकते है आप डॉक्टर के पास जायें उन्हें सारी बात क्लियर करे . अगर आप प्रेगनेट है तो वो आपको सलाह दें सकती है कुछ मेडिसिन सजेस्ट कर सकती है . आप स्ट्रेस ना ले और आप अपने खान पान पर धयान दे अपना धयान रखें .
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: meri beti ko subha 102 or dopehr me 101 fever hai maine cochin di thi ab mujhe kya krna chahiye
उत्तर: हेलो बच्चे को फीवर की जो भी दवा दे बिना डॉक्टर के सलाह के ना देख उनसे अच्छे से सलाह लेने के बाद ही दें इसके अलावा म कुछ होम रेमेडी ट्राई कर सकते हैं: * बच्चे के आसपास प्रॉपर हाइजीन मेंटेन करके रखे बच्चे के कपड़े बिस्तर dettol में जरूरत धोएंl * बच्चे को ज्यादा से ज्यादा आराम करने दें और धूप में ना ले जाए उसे ठंडी जगह पर नार्मल टेंपरेचर पर रूम में ही रखेंl * बच्चे के सर पर ठंडे पानी की पट्टियां रखिए काफी हद तक बच्चे की फीवर को कम करने में हेल्पफुल होता हैl * बच्चे को स्पंजी बात दे सकती है मींस दिन में आप दो बार उसका शरीर गर्म पानी में कपड़े को निचोड़ कर क्लीन करके उसे साफ सुथरे कपड़े पहनाईएl *पानी बॉईल करके ठंडा करके ज्यादा से ज्यादा दे l *ओ आर एस का घोल ज्यादा से ज्यादा देl * कोकोनट वाटर बच्चे कोde.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: khansi aa rhi hai or gla chhil rha hai mujhe kya krna chahiye plz btaye
उत्तर: डोंट वरी डियर मौसम चेंजिंग की वजह से और आपकी हार्मोन की वजह से ऐसा होना स्वाभाविक है इसमें कुछ परेशानी वाली बात नहीं है इसमें आप किसी तरह की दवाई ना ले तो आपके लिए अच्छा है इसके लिए आप घरेलू उपाय अपना सकते हो अदरक शहद का बनाकर आप ले सकते हो और भी आप बहुत घरेलू उपाय अपना सकते हो
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mem mujhe normal delivry ke liye kya kya krna chahiye meri pirioud date 18 aug thi
उत्तर: हेलो डीयर सबसे पहले आप खुब active रहें। अच्छा आहार ले। रोज वॉक करें। डॉक्टर के पास नियमित चेक अप के लिये जाएं। डॉक्टर से पूछकर योगा और व्यायाम करें। आपको अगर किसी तरह की कोई भी दिक्कत नही होगी तो नॉर्मल delivery हो जाएगी।
»सभी उत्तरों को पढ़ें