2 महीने का बच्चा

Question: Meri beti ko ankh mr pani bahot ata hai plz..koi upay btae...

1 Answers
सवाल
Answer: hello डियर ,,aapka baby2 month ka hai.. बेबी की आंखों से आंसू आना ,पानी आना बहुत ही नॉर्मल है बेबी के जन्म में कुछ ग्रंथियां पूरी तरह से खुली होती हैं इसके कारण वहां से आंसू या पानी निकलता है आप बेबी की आंखों के पास अपने अंगूठे से उसके आंखों केpor को पकड़कर हल्की-हल्की मसाज दिन में तीन से चार बार करें धीरे-धीरे खुली ग्रंथियां एडजस्ट हो जाएंगी और आंखों से पानी निकलना बंद हो जाएगा अगर 15 दिन तक आप इसे मसाज देते रहें ,उसके बाद भी अगर आंसू या पानी आना बंद नहीं हुआ तब आप डॉक्टर से कंसल्ट कर सकते हैं|
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Meri beti ko nozi aayi hai muze ghrelu upay btae
उत्तर: हेलो डियर जैसे ही मौसम चेंज होता है बच्चों को सर्दी जुकाम होना नॉर्मल है डियर आप चिंता नहीं करें आप नीचे दी गई रेमेडी को फॉलो करें जैसा कि मैं देख पा रही हूं आपका बच्चा 1 साल से ऊपर का है उसी के हिसाब से मैं आपके साथ नीचे होम रेमेडीज शेयर करने जा रही हूं आप फॉलो करें आपकी बेबी को जरूर राहत मिलेगी: अपने बच्चे को अपना दूध पिला आएंगे बच्चा उतनी जल्दी अच्छे से रिकवर होगा और अपने बच्चे को गर्म कपड़े सही से पहनाकर के बाहर ले जाते समय टोपी अवश्य पहनाए और socks तो हमेशा पहना कर रखें क्योंकि ठंड हमेशा पैरों से जल्दी चढ़ती है -कप सरसों के तेल में अचवाइन और लहसुन की 10 कलियां लेकर उसे पकाएं, थोड़ा ठंडा होने पर उससे बच्चे की मालिश करें। इससे बच्चे को काफी राहत मिलेगी। दरअसल सरसों के तेल, लहसुन और अजवाइन में कीटाणु रोधक और विषाणु रोधक गुण होते हैं। इसके अलावा आप सरसों के तेल में जायफल भी डाल सकती हैं। जायफल गर्म होता है, ऐसे में इसके मिश्रण वाले तेल से हुई मालिश से जुकाम खत्म होगा। -लहसुन की एक छोटी कली लेकर उसे पीसें। इसके बाद थोड़ा शहद मिलाकर पेस्ट बनाएं। दिन में एक या दो बार इसे बच्चे को दें। -अजवाइन का काढ़ा पिलाएं। -जुकाम के दौरान सूप काफी फायदेमंद होता है। बच्चे को सब्जियों का गर्म सूप चम्मच से आराम से पिलाएं। इससे काफी राहत मिलेगी।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri beti ko bohot khansi arahi hai mai kya karu or uski ankh se pani ata hai
उत्तर: हेलो डियर आप परेशान ना हो आप के बेबी को ठण्ड लगी है | छोटे बेबी मे रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है जिसके कारण उन्हें सर्दी जुखाम बुखार बहुत जल्द हो जाता है आप बेबी को ठण्डी हवाओं से बचाकर रखें बेबी को गरम कपड़े टोपी मोज़े पहना कर रखें | 1)बेबी को daily 10 से 20 मिनट की धूप अवश्य दें | 2)घी मे सेन्धा नमक मिला कर बेबी के सीने पर लगायें ये बलगम को ढीला करता है | 3)बेबी को भाफ़ दें |4) सरसों के तेल मे 1 चम्मच अजवाइन 6लहसुन की कलियां डाल कर गरम करें ठण्डा होने पर छान कर रख लें और इसी oil से बेबी की मालिश करें |5) अजवाइन को भून कर एक सुती कपड़े मे बाँध कर पोटली बना लें और उस सें बेबी के छाती , पीठ , पसलियों की सीकाई करें पर ये ध्यान रखें की पोटली बहुत गरम ना हो |
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hello mam meri beti ke ankh se bahut pani ata h plz kuch batdye
उत्तर: इंफेक्शन के कारण हो सकता है.. छोटे बच्चों को ऑय में इन्फेक्शन बहुत जल्दी होती है क्युकी हम उन्हें प्यार करने के लिए अक्सर अपना मुह उनके पास ले जाते हैं और बच्चा हमेशा अपना हाथ से आँखों को मलता है जिससे हमारे मुह या उनके हाथों से आई इन्फेक्शन हो सकता है । ऐसे स्थिति मेंं बच्चे के हाथ साफ कर सोप से धुला कर रखे ।। आप उन्हें बाजार मे मिलने वाले हाथों मे पहनने वाला मोजा भी लगाकर दे सकती है ।।।आप उनके आँखों को अच्छे साफ कॉटन के कपड़े से साफ करे और इन्फेक्शन से दूर रखें ।।।ज्यादा तकलीफ हो तो जरूर डॉ को दिखाए।। वह बच्चे के आँखों को देखकर सलाह देंगे।
»सभी उत्तरों को पढ़ें