कुछ दिनों का बच्चा

Question: Mere baby ko piliya ho gya hai kya kre? Use 2din hospital me admit tha or piliya thoda cum ho gya hai, but phir bhi uski ankhen or muh pair pile dikh rhe hai?

1 Answers
सवाल
Answer: हेल्लो डीयर अगर बेबी को पीलिया हल्का है तो टेंशन की बात नहीं है। थोड़ा बहुत पीलिया सभी बेबी को जन्म से होता है और कुछ समय बाद चला जाता है। और यह एक हेल्थी बेबी की निशानी होती है। मां को चाहिए कि बेबी को ज्यादा से ज्यादा ब्रेस्ट फीड कराए और जॉन्डिस वाले बच्चे दूसरे बच्चों की तुलना में ज्यादा सोते हैं इसलिए जगाकर बेबी को फीड कराइए। आपको अपनी डाइट में सिर्फ तला-भुना और मसालेदार चीजों को नहीं खाना है। बाकी पानी फ़िल्टर किया हुआ प्रिया उबालकर छानकर पीये क्योंकि पानी से सबसे ज्यादा दिक्कत हो सकती है। और कुछ भी परहेज करने की कोई खास आवश्यकता नहीं है। जहाँ तक blood ग्रुप की बात है तो कोई टेंशन की बात नही होनी चाहिए
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Helo mm mere bache ko jb hua tha piliya tha doc. Ne btaya tha ab jb wo ek mahine ki ho gyi h uski aankhe ab bhi pili dikhti hai or uska toilet bhi pila hi aa rha h bt phle se km h ise km krne k liye kya kru kya use ab bhi piliya h
उत्तर: ap पीलिया jhadwa skti h usi se shi hoga mere bete ko bhi hua tha to hmne dr ko bhi dikhaya aur jhadwaya bhi
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere baby ko jukham tha but thik ho gya lekin jakadane nh ja rhe kya kru
उत्तर: बच्चे को भाप युक्त कमरे में रखें बच्चे को बलगम बन रहा हो तो आप उसे भाप दिलाएं भाप लेने से उसकी नाक और छाती खोलने में मदद मिलेगी बाथरूम में गर्म पानी का शाबर चला ले और बच्चे को अंदर ले कर बैठ जाए करीब 15 मिनट बाहर आने के बाद उसके कपड़े उतार कर सूखे कपड़े पहना दे गद्दे का सिरआना ऊंचा उठा देने से बच्चे को सांस लेने में आसानी होगी बच्चे को ब्रेस्टफीडिंग कराएं इससे kuf के कारण से निपटने में मदद मिलेगी आप गर्म सरसों का तेल लें और इसे गर्म करें लहसुन की कलियां वे उन्हें हल्का कूटे और सरसों के तेल में डालकर भुने इससे सीने और पांव की मालिश करें इससे बच्चे को काफी आराम होगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere baby ko nimoniya ke lakshan dikh rhe hai doctor ne admit krne ke liye bola hai plz kuch upchar btay jisse use admit n krna pde
उत्तर: hello dear आप इन उपचारों का उपयोग कर सकती हैं लेकिन डॉक्टर से भी सलाह ले साथ में। 2-3 लहसुन लौंग क्रश करें और अपने बच्चे की छाती पर तैयार पेस्ट लगाएं। सांस नली को साफ़ करने, सांस लेने में आसानी लाने और दर्द को कम करने के लिए छाती पर कपूर तेल लगाएं। कुछ तुलसी के पत्तों को क्रश करें और इसमें थोड़ा नीलगिरी तेल डालें । अपने बच्चे को धुएं को श्वास लेने के लिए कहें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें