6 महीने का बच्चा

Question: Mere baby ko bukhar he kya karu ki uska bukhar kam ho jaye

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Mere baby ko loos moson or bukhar he kya karu
उत्तर: हेलो डियर आप के बेबी को अगर लूज मोशन हो रहे है ं और उसके साथ बुखार भी है तो आप उसे बुखार के लिए ऑरेंज का जूस पिला सकती है क्योंकि ऑरेंज के जूस से बेबी का बुखार चला जाता है और लूज मोशन के लिए आप बेबी को केले खिला सकती है दही खिला सकती है और ओ आर ऐसे का पानी भी पिला सकती है इससे आपका बेबी कमजोर भी नहीं होगा और उसे ज्यादा तकलीफ भी नहीं होगी यदि इन सब चीजों के बाद बेबी को अगर ज्यादा तकलीफ होने लगे तो आप एक बार डॉक्टर की भी सलाह ले . अपना और बेबी का ख्याल रखना .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mere Bete ko tej bukhar he doctor koi dava bataye ki mere Bete ko bukhar utar jaye
उत्तर: हेलो डियर यदि आपके बेबी को ज्यादा बुखार हो रहा है तो आपको उसे ऑरेंज का जूस पिलाना चाहिए उसके सर पर ठंडे पानी की पट्टी या रखनी चाहिए इससे आपके बेबी का बुखार कम हो जाएगा और आपको डॉक्टर के सलाह से ही बेबी को बुखार की दवाई देनी चाहिए ताकि बेबी को परेशानी ना हो अपना और बेबी का ख्याल रखना
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Meri bachhi ko bahut tej bukhar h m kya karu kuchh batao n jisse ani k liye kam ho jaye
उत्तर: हेलो मौसम बदलने के कारण अक्सर बच्चे बीमार पड़ते हैं बच्चे के खाने पीने का खास ख्याल रखें। दांत आने से बच्चे कोई भी चीज मुंह में डाल देते हैं जिसके कारण उन्हें इंफेक्शन होता है और दस्त होती है । कभी-कभी दांत आने से बच्चों के मसूड़ों पर दर्द होता है जिसके कारण हल्का फीवर भी हो सकता है। लेकिन अगर बच्चे को तेज फिवर है तो उसका कारण दांत आना नहीं हो सकता आप बच्चे को डॉक्टर से जरूर दिखा ले।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere baby ka wait bhut kam he to me kya karu jis se uska wait बड़ jaye
उत्तर: अब जब आपका बच्चा 10 महीने का हो चुका है तो अब आप उसको कई प्रकार के आहार दे सकती हैं। ऐसे बहुत से आहार जो आप पुरे घर के लिए बनाती हैं और जिसमे नमक और मसाला कम हो  बच्चों को रोटी या पराठा देते वक्त उसको छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़ दें। हालाँकि बच्चे हर तरह के आहार ग्रहण कर सकते हैं, फिर भी आप उन्हें आहार देते वक्त ख्याल रखें की आहार अच्छी तरह पका हुआ हो और नरम हो।  नौ महीने पुरे होने पे आप अपने बच्चे को non-vegetarian आहार भी दे सकते हैं जैसे की अंडा पिली जर्दी के साथ, chicken, और मछली।  10 महीने की आयु में, ज्यादातर बच्चे दिन में ३ आहार और एक बार थोड़ा स्नैक लेते हैं सूप  अपने बच्चे को चिकन या हैल्दी सब्जियों का सूप बनाकर दिन में तीन टाइम पिलाएं क्योंकि इनसे बच्चे तो भरपूर प्रोटीन और जरूरी पोषक तत्व मिलेंगे।  2ओट्स  ओट्स बच्चे के बेहतर पेट के लिए बैस्ट है। इससे बच्चों को कब्ज की समस्या भी नहीं होगी।  कुकीज कुकीज को 10 महीने का बच्चा आसानी से खा सकता है। बच्चे को दूध से बनी कुकीज खिलाएं, इससे बच्चे को ताकत मिलेगी।  सब्‍जियां  बच्चे को ऐसी सब्जियां खिलाएं जो आसानी से बच भी जाए और प्रोटीन बी भरपूर मिले। शकरकंद और उबली गाजर ऐसी ही सब्जियां है जो 10 महीने के बच्चे के लिए बैस्ट डाइट है।  मुलायम चावल  सादी या मीठी दही बेहतर होगा कि बच्चे को सादी दही खिलाए,अगर वह नहीं खा रहा तो उसका टेस्ट चेंज करने के लिए मीठा मिला लें। याद रखें कि दही बच्चे को हमेशा सुबह के समय ही खिलाएं। वज़न ज़रूर बढ़ेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें