17 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मेरा पेट फुल्ने जैसा महसूस हो रहा h.और बेचेनी जैसी हो rahi h.इसका क्या कारण हो सकता h

1 Answers
सवाल
Answer: अक्षरा प्रेगनेंसी टाइम औरतन को बहुत ज्यादा गैस बनने की प्रॉब्लम होती है Jइजke कारण बेचैनी और खुला हुआ पेट महसूस होता है इज समय आप को अधिक से अधिक पानी और लिक्विड चीजें लेनी चाहिए Tel मिर्च नमक मसाले mein daal जंक फ़ूड चाय कॉफ़ी कोल्ड ड्रिंक जैसी चीजें नहीं लेनी चाहिए आप is समय एक लीटर पानी Mein एक चम्मच एन्जॉय नोबेल kar थोड़ी थोड़ी मात्रा main आईज पंग to आपको राहत होगा
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mujhe sardi jaisi lg rahi h or fever jaisa v feel ho raha h..mai kya karu
उत्तर: जैसे ही महिलाएं गर्भवती होती हैं उन्हें जल्दी इन्फेक्शन हो जाता है। क्योंकि उनकी बॉडी बहुत ही सेंसिटिव हो जाती है प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है 1) सर्दी खांसी से खुद को बचाने और गर्भावस्था में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए आपको अपने डायट में ताजे फल सब्जियां और साबुत अनाज शामिल कर सकती हैं। 2) तरल पदार्थों का अधिक से अधिक सेवन करना चाहिए जैसे अदरक वाली चाय हर्बल चाय और फलों का जूस 3) ज्यादा थके नहीं आराम करें आप जितने आराम से रहेंगे आपको इन्फेक्शन उतना ही कम होगा 4)खासी आने पर ईलायची मुंह में लेखर चुसें। उपाय-- सर्दी होने पर अक्सर नाक बंद हो जाता है तो आप गर्म पानी गर्म पानी का मशीन से भाप ले सकती हैं इसमें आप दो तीन बूंद नीलगिरी का तेल डाल ले इससे सिर के ऊपर तो लिया ढक कर अपना सर बर्तन के ऊपर झुकाकर भाप लें इससे आपकी बंद नाक खुल जाएगी और सर दर्द कम हो जायेगा और सर्दी से भी राहत मिलेगी साथ ही अगर गले में भी दरद या टांसील हो तो गरम पानी में नमक डालकर दीन में चार पांच बार तो राहत मिलेगी आप तुलसी अदरक का रस आधा आधा चम्म्च लेकर शहद मीलाकर पी सकती हैं।इससे सर्दी खांसी में राहत मीलेगी। गुनगुने गर्म पानी में शहद और नींबू डालकर आप इसे पी सकती हैं अगर आपकी सर्दी खांसी ठीक नहीं हो रही है और आप को तेज बुखार है तो आप को बिल्कुल भी देर नहीं करना चाहिए डॉक्टर से कंसल्ट करें और अपनी मर्जी से कोई भी दवाई ना ले Take care
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: सास फूलने का क्या कारण हो सकता ह मेरा कल से बहुत सास फूल रहा ह और घबराहट हो raहi h
उत्तर: घबराहट होना सामान्य लक्षण है। गर्भावस्था में होने वाले रसायनिक परिवर्तन, बीपी का उतार-चढ़ाव, रक्त में शर्करा की अस्थिरता, पर्याप्त नींद ना होना, pulmonary दिय्फ्रग्म के ऊपर विकासशील गर्भाशय का भार पड़ने से श्वास की तकलीफ इत्यादि भी घबराहट पैदा कर सकते हैं।अनेमिया रक्त में प्रोटीन एवं आवश्यक तत्वों की कमी, हृदय, फेफड़े या रक्त संबंधित रोग एवं विकार भी अप्रत्याशित घबराहट पैदा कर सकते हैं। गर्भावस्था में घबराहट से निपटनें के सरल उपाय कर सकते है। दैनिक नियमित व्यायाम करे,अल्प अंतराल में उचित आहार ग्रहण करे, पर्याप्त विश्राम एवं निद्रा ग्रहण करे,अंतरध्यान, प्राणायम, ऊँ उच्चारण करे,ढीले कपड़े पहने,आरामदायक, सुविधापूर्ण, शीतल वातावरण में रहे,कर्ण प्रिय व शांत संगीत सुने,अच्छी ज्ञानवर्धक किताबें पढ़े,प्रेरणादायक व सकारात्मक व्यक्तियों की संगत ले।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mera pet me halki halki dukhan ho rahi h.pet khicha khicha sa mehsus ho raha h
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी में पेट में दर्द होना आम बात होती है प्रेग्नन्सी के दौरान हमारे शरीर में बहुत सारे हारमोनल परिवर्तन होते हैं जिसकी वजह से कभी पेट दर्द कभी उल्टी कभी कोई समस्या उत्पन्न हो जाती है आप परेशान मत हो। इस अवस्था में विशेषकर पेट के निचले हिस्से में हल्का-हल्का दर्द भी हो सकता है प्रेगनेंसी के समय में ज्यादा वजन नही उठना चाहिए और ना ही ज्यादा झुकना चाहिए। जमीन पर क्रॉस लेग करके नहीं बैठे वरना दर्द ज्यादा बढ़ सकता है पीठ के बल सोने की बदले साइड की करवट लेकर सोना चाहिए  हील वाली सेंडिल नही पहनना चाहिए हमेशा हमेशा स्लिपर ही पहने ज्यादा देर तक एक स्थिति में खड़े ना रहे  जिस तरफ दर्द हो रहा हो, उसके दूसरी तरफ होकर लेट जाएं और आराम करें
»सभी उत्तरों को पढ़ें