14 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: Me therd month ki pregent hu me dhahi or matha kha sakti hu

1 Answers
सवाल
Answer: हेलों हाँ आप दही छाछ पी सकती है .दही घर का बना हुआ फ्रेश हो और खट्टा ना हो तों बेहतर होगा दही कैल्सीअम से भरपूर probiotic है जो पेट और पाचन सिस्टम सही रखता है ये ब्लड प्रेसर नॉर्मल रखता है हैlगर्भावस्था के दौरान हार्मोन्स के असंतुलन के कारण पिगमेंटेशन और शुष्क त्वचा जैसी समस्याएं आ सकती हैं। दही में विटामिन ई प्रचुर मात्रा में होता है जो स्किन अच्छी रखता है छाछ,विटामिन बी 12, प्रोटीन और कैल्शियम होता है। कैल्शियम आपकी और बच्चे के हड्डियां मज़बूत करेंगी। आप एक ग्लास बटरमिल्क दोपहर के खाने के साथ ले सकती हैं
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Me therd month की pregent हु mere kamar dard h bohut
उत्तर: हेलो डिअर, प्रेग्नेंसीय में कमर दर्द होना यूट्रेस के बढ़ जाने की वजह से होता हैं कमर दर्द होने पर आपको कुछ इस तरह से घरेलू तरीके से ठीक किया जा सकता है आप सरसो के तेल में अजवाइन , लहसुन डालकर पका दे जब लहसुन अच्छी तरह से पक जाए तब आप उस तेल से अपने कमर की मॉलिश करे आपको फायदा होगा , कमर दर्द में आप गरम पानी से सिकाई भी कर सकती है , कोई भी चीज को उठाने के लिए कमर के बल से ना झुके बल्कि अपना घुटना मोड़ कर ही झुके , ज्यादा देर तक कुर्सी पर ना बैठे थोड़ी देर लेट भी जाये , कोई काम ज्यादा देर तक एक ही पोजीशन में होकर ना करे ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: किया में दही खा सकती हूँ
उत्तर: हेलो डियर ,,,, आप34 वीक की प्रेग्नेंट है..प्रेगनेंसी में दही खा सकते हैं दही में कैल्शियम व प्रोटीन होता है जो कि बेबी के विकास में हेल्प करता है प्रेगनेंसी में दही के उपयोग से पेट को शीतलता मिलती है पाचन क्रिया में सुधार होता है बीपी की समस्या भी कम होती है प्रेगनेंसी में होने वाले तनाव में कमी आती है दही में प्रोबायोटिक्स होता है जो कि बेबी को गर्भ के अंदर किसी भी प्रकार की बीमारियों से लड़ने के लिए एनर्जी देता है दही का प्रयोग प्रेगनेंसी के दौरान मां और बेबी दोनों के लिए बहुत ज्यादा बेहतर होता है|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: में ढही खासक्ति हूँ
उत्तर: हेलो डियर ,,,, आप 17वीक की प्रेग्नेंट है..प्रेगनेंसी में दही खा सकते हैं दही में कैल्शियम व प्रोटीन होता है जो कि बेबी के विकास में हेल्प करता है प्रेगनेंसी में दही के उपयोग से पेट को शीतलता मिलती है पाचन क्रिया में सुधार होता है बीपी की समस्या भी कम होती है प्रेगनेंसी में होने वाले तनाव में कमी आती है दही में प्रोबायोटिक्स होता है जो कि बेबी को गर्भ के अंदर किसी भी प्रकार की बीमारियों से लड़ने के लिए एनर्जी देता है दही का प्रयोग प्रेगनेंसी के दौरान मां और बेबी दोनों के लिए बहुत ज्यादा बेहतर होता है|
»सभी उत्तरों को पढ़ें