23 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: Mam mera safed pani jyada jata he to kya kre

1 Answers
सवाल
Answer: pregnancy me white discharge hona normal h....agar ye jarurat se jyada ho raha hai to aap jyada se jyada aaram kre...koi bhi garam tasir wali chije khane se bache..jyada se jyada pani piye or ek baar apne Dr.se mil le..
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: पानी ज्यादा नहीं पिया जाता क्या करे
उत्तर: हेलो डियर आप टेंशन मत ले अगर आप सिम्पल पानी नहीं पी सकते हैं तो आप उसकी जगह नींबू पानी पी लीजिए ना नारियल पानी पी लीजिए पुदीने का पानी पी लीजिये, इन सब चीजों से आपके शरीर में पानी तो जाएगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hello mem muje subh subh me safed pani jata he kya yeh normal he
उत्तर: प्रेगनेंसी के आखिरी आखिरी समय में सफेद पानी आना थोड़ा सा नॉर्मल है लेकिन इस बात पर निर्भर करता है कि उसके साथ आपको किसी प्रकार का दर्द खुजली या उसमें बदबू तो नहीं है अगर ऐसी कोई और भी समस्या है तो डॉक्टर से सलाह कर ले और अगर सब थोड़ा सा सफेद पानी ही बता रहा है तो इसमें चिंता की कोई बात नहीं है तीसरा तिमाही (27 तो 40 वीक्स) में भी सफ़ेद पानी निकलता रहता है  लेकिन उसका रंग और टेक्सचर दूसरी तिमाही से थोडा सा अलग होता है।  देलीवेरय के आस पास पानी का आना इस बात का सूचक है  कि आपका शरीर बच्चे को जन्म देने के लिए खुद को तैयार कर रहा है। यदि लेबर पेन से कुछ दिन या समय पहले आपको पेशाब जैसा पतला पदार्थ निकलता हुआ महसूस हो तो आप समझ जाइए कि यह एमनीओटिक फ्लूइड का लीकेज है .अपने गुप्तांगों को अच्छी तरह से साफ़ कर लें तथा उसे साफ़ सूती कपड़े से या टिशु पेपर से पोंछ कर योनि को सुखा लें। अच्छा होगा कि डॉक्टर के बताए हुए सोप से अपनी योनि को धोकर सुखालें। ऐसा दिन में कई बार करें।साफ़ सुखा और हलके फुल्के कॉटन के अंडरवियर ही पहनें और उन्हें समय समय पर बदलते रहें।सिल्क या नायलॉन के कपड़ों को बिल्कुल न पहनें और रात को सोते समय हल्के- फुल्के कपडे पहन कर सोयें।पैड्स (पैड्स) का उपयोग भी कर सकती हैं ताकि आपको कोई परेशानी न हो और आप कम्फर्टेबले महसूस करें।अपने गुप्तांगो पर खुशबूदार अर्टिफिकल क्रीमस, स्प्रेस, लोशन्स पाउडर आदि का प्रयोग कभी भी न करें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: सफ़ेद पानी जाता ः मेरा ... ऐसे कोई खतरा ः क्या
उत्तर: हेलो डियर, वाइट डिस्चार्ज होना नार्मल है इसमें परेशान होने की जरूरत नहीं है कभी-कभी बॉडी में हारमोंस डिसबैलेंस होते हैं जिसकी वजह से वाइट डिस्चार्ज होता है और कभी कभी यूरिन इन्फेक्शन की वजह से भी वाइट डिस्चार्ज होता है लेकिन यह वाइट डिस्चार्ज होना प्लस प्वाइंट भी होता है अगर कुछ भी यूरीन इनफेक्शन है तो कुछ टाइम्स वाइट डिस्चार्ज के रूप में वो बाहर निकल जाता है तो इसमें कोई भी घबराने की जरूरत नहीं है, वाइट डिस्चार्ज अगर बहुत ज्यादा होता है या उसकी थिकनेस काफी हो या उसका कलर काफी चेंज हो तब हमें डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें