5 महीने का बच्चा

Question: क्या बेबी के पेट में किरा हो सकता है ese kaise ठीक क्या जाता h

1 Answers
सवाल
Answer: छोटे बच्चों के पेट में अक्सर कीड़े हो जाते हैं बच्चे मीठा ज्यादा खाते हैं या मिट्टी खाते हैं इससे बच्चों को कीदे बन जाते हैं पेट में इसके लिए कीड़ों के लिए मेडिसिन आती है आप बच्चे को हर छह महीने बाद वह मेडिसिन रिपीट कर सकते हैं इससे बच्चे ठीक हो जाते हैं पॉटी के रास्ते से कीड़े निकल जाते हैं
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: 1 साल के बेटी को पेट में कीड़े हो गया में क्या करूं
उत्तर: पेट के कीड़ों की समस्या घुटनों के बल चलने वाले बेबीज व इनसे बड़े बच्चों में होती है, क्योंकि ज़मीन पर चलने, खेलने, चीजें मुँह में डालने से ये कीड़े या उनके अंडों के सम्पर्क में आ जाते हैं.सेंधा नमक और लाल टमाटरों को काटकर उस पर सेंधा नमक लगाकर खाली पेट खिलाएं। इसको खिलाने के 2 घंटे बाद तक बच्चे को कुछ भी नहीं खिलाएं। बीच बीच में तरल पदार्थ पिलाते रहें, इस प्रक्रिया को एक सप्ताह तक नियमित दोहराएं। इससे पेट के सभी कीड़े ख़त्म हो जाएंगे और बच्चे का स्वास्थ्य ठीक हो जायेगा।आधा ग्राम अजवाइन का चूर्ण पतली लस्सी, मट्ठे या छाछ के साथ पिलायें। ध्यान रहे आप बच्चे को ये सुबह के समय ना पिलायें। ये पिलाने से बच्चों के पेट के कीड़े खत्म हो जाते हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: क्या ma के पेट में गैस की बरोबलम होne से बेबी को v ho सकती h ese kaise ठीक kr skte h
उत्तर: हेलो फ्रेंड अगर आप बच्चे को ब्रेस्ट फीड कराती हैं तो आपको अगर गैस की प्रॉब्लम है तो आपके बच्चे को भी हो सकती है इसके लिए आपको अपना टाइम टेबल ठीक करने चाहिए और डाइट में अच्छी तरह से सब कुछ इंक्लूड करना चाहिए और टाइम पर खाएं जिससे आपके पेट में गैस नहीं बनेगा आप सुबह में ज्यादा देर तक खाली पेट ना रहे इससे भी पेट में गैस बनती है और अगर आप गैस बनने वाले सामान खाते हैं जैसे चना मटर तो इन सबको बनाते वक्त उसमें थोड़ा हींग का प्रयोग करें जिससे कि गैस नहीं होगीl और जब आप बच्चे को ब्रेस्टफीड कर आते हैं उसके बाद उसे डकार दिलाने की जरूर कोशिश करें जिससे कि बच्चे को गैस की प्रॉब्लम ना होl
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरे पैरों में सूजन आ जाता ह हर समय . कैसे ठीक किया जा सकता है.
उत्तर: डियर परेशान ना हो प्रेग्नेंसी में पैरो मे स्वेलिंग आना बहुत नॉर्मल है। जब प्रेगनेंसी में पेट बहुत बढ़ जाता है तब शरीर का पूरा भार पैरों पर पड़ता है और वजन भी बढ़ता है उसका भी भार पैरों पर ही पड़ता है और सूजन आ जाती है। दूसरा रीज़न है की प्रेग्नेंसी मे ब्लड सर्कुलेशन बढ़ जाता है। जिससे सूजन आती है आप ज्यादा से ज्यादा आराम करें और बहुत देर के लिए ना तो खड़ी रहे और ना तो बैठी रहे हैं और ना ही पैरों को लटका कर बैठे कहीं। गर्म पानी में थोड़ा सा नमक डालें और उसमें पैरों को डाल कर रखें सरसों के तेल में अजवाइन और लहसुन गर्म करें और उससे पैरों की मालिश करवा ले।
»सभी उत्तरों को पढ़ें