24 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: 6मंथ प्रेग्नेंट हूँ मुझे पेट के ऊपरी हिस्से और पसलियों एम दर्द रहता है सोते टाइम और बैक में भी दर्द रहता है नाईट में फिर एम सरसों के तेल से थोड़ा मालिश करा लेती हूँ अपने हस्बैंड से इससे कोई प्रॉब्लम तो नहीं है मालिश के बाद मुझे थोड़ा आराम रहता है और एम ठीक से सो भी पाती हूँ

1 Answers
सवाल
Answer: डियर प्रेग्नेंसी मैं इज तरह के दर्द होना नॉर्मल है इज ये तो प्रेग्नेंसी के कॉमन चैलेंजेज है आप बिल्कुल मालिश करिये हम यही सजेस्ट करते है की मेडिसिन प्रेग्नेंसी मैं अवॉयड करनी है मालिश मसाज से बहुत आराम मिलता है दर्द मैं जैतॅऊन के तेल को गरम करके उससे भी मालिश कर सकती है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: हेलो मैम क्या एम अलग अलग तेल से मालिश कर सकती हूँ जैसे सुबह सरसों के तेल से और साम को जोहंशंस बेबी ऑयल से
उत्तर: हाय डिअर इस समय गर्मियों का समय चल रहा है आप बच्चे की नारियल तेल से मालिश करें सर वह बच्चे के लिए बहुत अच्छा होता है यदि आप अलग-अलग तेल से मालिश करेंगे से बच्चे के दाने निकल आएंगे बच्चे की स्क्रीन खराब होती है !
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: m 16 वीक se pregnent hu or mujhe pet k nichle hisse me drd rhta h ......... plz btaye
उत्तर: अगर आपके पेट के निचले हिस्से में दर्द हो रहा है और दर्द हल्का हल्का है तो ऐसा होना नॉर्मल है लेकिन आपको कभी ऐसा लगे कि आपका पेट दर्द बढ़ रहा है तो आप देर ना करें और डॉक्टर से मिले प्रेगनेंसी में ज्यादा वजन उठाने वाला काम या कोई ऐसा काम जिसमें आपको थकावट ज्यादा लग गई तब पेट में दर्द बढ़ सकता है इसलिए आप ज्यादा भारी काम या ज्यादा झुकने वाले काम ना करें सोने की पोजिशन भी ऐसे रखें जिससे आपको पीठ और पेट में दर्द कम हो जैसे कि आप left सोए ,पीठ के बल सोने से आपकी यह तकलीफ बढ़ सकती है कोशिश करें कि ज्यादा देर खड़ी भी ना रहे एक ही पोजीशन में ना बैठे , अपनी पोजीशन बदलते रहे साथ ही अगर आप हील वाली चप्पल या सैंडल पहनती हैं तो अवॉयड करें जब भी आप सो कर उठे तो एकदम से ना उठे हैं पहले करवट ले फिर उठे हैं. अपना ध्यान रखें अपने खाने-पीने का ध्यान रखें.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mujhe seene se neeche or pet k uper wale hisse m drd rhta h kya kru
उत्तर: अभी आप २२ वीक प्रेग्नेंट हो. प्रेगनेंसी में कभी कभी पेट में और आपकी छाती में या स्तन में दर्द होना आम बात है| प्रेग्नेंसी के दौरान आपका गर्भाशय बड़ा हो रहा है जिसकी वजह से डायाफ्राम पर भी प्रेशर आता है| डायाफ्राम पेट और छाती को अलग करने वाली एक पतली सी झिल्ली है| तो इस वजह से आपको ब्रेस्ट में थोड़ा पेन हो सकता है| प्रेग्नेंसी के दरमियान ब्रेस्ट का कद भी थोड़ा बढ़ता है और इस प्रक्रिया के दरमियान भी थोड़ा दर्द होता है| प्रेगनेंसी में पेट और छाती या ब्रेस्ट में दर्द का दूसरा कारण इनडाइजेशन या गैस की समस्या हो सकता है| प्रेगनेंसी में कई चीजों खाने से इनडाइजेशन हो सकता है और जिससे गैस की समस्या से कारण पेट या तो फिर छाती में दर्द या जलन होता है| ऐसा ना हो इसके लिए आप खाने में ध्यान रखें| ज्यादा ऑइली य स्पाइसी फूड ना खाएं| और जब भी खाना खाए थोड़ा-थोड़ा करके ज्यादा बार खाए एक बार बहुत सारा खाना ना खाए|
»सभी उत्तरों को पढ़ें