9 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: 3 मंथ प्रेगनेंसी h मुझे लिकोरिया की प्रॉब्लम h किया krun

1 Answers
सवाल
Answer: डियर ल्‍यूकोरिया का इलाज आप बहुत ही आसानी से कर सकती है इसके इलाज केलिए आपको आमला का इस्तेमाल करना है क्योंकि आमले में विटामिन सी होता है जो शरीर को ताकत और शक्ति प्रदान करता है. साथ ही यह वेजाइना यानी योनि के बैक्‍टीरिया का भी खात्‍मा करता है जो यह ल्‍यूकोरिया की परेशानी पैदा करता है. इसलिये आपको नियमित रूप से अपने आहार और नाश्ते में आमले का सेवन करना चाहिये. ये आपकी सफेद पानी की समस्या को मिटाता है.बाकी अभी आप प्रेग्नेंट है अगर ज्यादा प्रॉब्लम होती है तो डॉक्टर से जरूर इस बारे में कंसल्ट करें
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: muje likoriya ki problem h daily din me 2 3 bar hoti h
उत्तर: हेलो डियर अगर आपको ल्यूकोरिया है तो आप अपना अच्छे से ट्रीट्मेण्ट करवाये और खुब पानी पिये , रोज सुबह उठ कर नींबू पानी पिये ऐसा करने से आप के बॉडी में विषाक्त चीज़ें बाहर निकल जाएगी ल्यूकोरिया की समस्या होने पर आपके बेबी को प्रॉब्लम हो सकती है इसलिए आप अपना अच्छे से खयाल रखें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: 6 month chl rha h mughe 5 we month se likoriya ki problam h prewgncy
उत्तर: गर्भावस्था में निकलने वाले सफेद पानी को या तो सर्वाइकल म्यूकस कहते हैं या लिकोरिया कहते हैं या गर्भावस्था में अक्सर दिखाई देता है इसमें डरने वाली कोई बात नहीं यह गर्भ में पल रहे बच्चे की सुरक्षा के लिए होता है यह पूरे गर्भावस्था में हल्का फुल्का पानी कभी-कभी दिख सकता है जिसका कारण स्ट्रेस सेक्स या फिर भारी काम करने की वजह से हो सकता है लेकिन कभी-कभी यह बहुत अधिक मात्रा में निकले और दरद भी हो तो यह घबराने वाली बात हो सकती है इसलिए अगर यह यह आपको बाथरूम की जगह अगर यह अधिक मात्रा में स्त्रावित हो या पेट में दरद हो और स्मेल हो तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए Take care
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मैम मुझे 10 वीक की प्रेगनेंसी ह मुझे rat को टॉयलेट बहुत ata ह जिसकी वजह से एम सो भी नहीं पाती किया करूं
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी के दौरान ह्यूमन क्रोनिओनिक गोनैडोट्रोपिन हार्मोन के स्त्राव के कारण शरीर में ब्लड फ्लो काफी बढ़ जाता है। इसके कारण किडनी में भी ब्लड की मात्रा ज्यादा पहुंचती है जिसे किडनी प्यूरीफाई करता है और ख़राब टोक्सिन को बाहर निकालता है। इस वजह से भी ऐसा महसूस होता है जैसे तेज पेशाब लगी हो।जैसे-जैसे शिशु गर्भाशय में बड़ा होता जाता है वैसे ही ब्लैडर पर दवाब बढ़ता जाता है। जिस वजह से आपको बार बार ऐसा महसूस होता है कि आपको तेज पेशाब लगी है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें