11 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: Muze 2 months chalu hai aur muze thyroid hai t3 jyada hai to kuch prblm to nahi na hogi mere bacchu ko

2 Answers
सवाल
Answer: हेलो डिअर, प्रेग्नेंसीय में थाइरोइड के होने से हार्मोन में असंतुलन होने के वजह से आपको कई तरह से प्रभावित करता है थाइरोइड के चलते आपके होने वाले बेबी पर भी फर्क पैड सकता है आपके बेबी के विकास में बाधा भी पैदा हो सकती है इसलिए आपको हमेशा डॉक्टर की निगरानी में रहना चाहिए डॉक्टर जो भी suggest करे आप वैसा ही करे
Answer: pragnancy me aksar suger thyroid ho jata h isme tnsn wali baat nhi h aap time se dawai leti rahi
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Muze abhi 4 month chalu hai aur muze thyroid hai tsh test kiya to uska result 6.095 aya hai to ye mere baby ko koi problem nahi na hoga
उत्तर: थायराइड हार्मोन एक ऐसा हार्मोन होता है जो शरीर के दूसरे अंगों को भी सही तरीके से काम करने में मदद करता है जब इसका संतुलन शरीर पर बना रहता हैl तब तक ठीक है लेकिन संतुलन बिगड़ने पर या एक रोग जैसे हो जाता है जिसे संतुलन में लाने के लिए बहुत सारे उपचार करने पड़ते हैं| थायराइड गले की एक ग्रंथि होती है जिसमें से thyroxineनामक हार्मोन निकलता हैl जो हमारे लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है is का संतुलन शरीर पर बना रहे तो अच्छा रहता है लेकिन संतुलन बिगड़ने पर बहुत सारी परेशानियां आने लगती हैl इसके कम होने की वजह से शरीर पर मेटाबॉलिज्म बढ़ जाता है जिससे कि शरीर पर ऊर्जा जल्दी खत्म हो जाती है आप जॉब याh अधिक होता हैl तब शरीर पर ऊर्जा कम बनती है जिसे की थकान महसूस होने लगता है इसका संतुलन बिगड़ने की वजह से शरीर की मांसपेशियों पर भी असर होता हैl thyroidदो प्रकार के होता है hypothyroidismएंड हाइपरथायराइडिज्म थायराइड हार्मोन हमारे शरीर में तापमान को नियंत्रित करने का काम करता है| क्या बच्चों में शारीरिक और मानसिक विकास के लिए भी मदद करता है| थायराइड हार्मोन के असंतुलन होने की वजह से महिलाओं में डिप्रेशन आने लगता है और कुछ भी मन नहीं करता, सोचने समझने की शक्ति खत्म हो जाती है इसकी वजह से महिला पूरी तरह डिप्रेशन में चले जाती है इसलिए इसका सही समय पर इलाज कराना बहुत जरूरी होता हैl hyperthyroidismहोते हैं तो इसके कुछ लक्षण दिखाई देते हैं जैसे वजन कम होना पसीना आना हाथ पैर का कांपना और अगर हाइpoथायराइडिज्म होता है तो वजन बढ़ता है, भूख कम लगता है, और हमेशा कब्ज की शिकायत रहती हैl इसके होने के सबसे बड़ा कारण यह है कि अगर आप बहुत ज्यादा तनाव लेती है तो थायराइड gland पर इसका बुरा असर होता है l अगर आपके परिवार में किसी को इसकी प्रॉब्लम होती है तो कहता है|ki अगर आप प्रदूषण वाले जगह पर रहते हैं तो प्रदूषण के कारण थायराइड gland पर बुरा असर होता है जिसके कारण भी होता है| अगर आपको आपके शरीर पर कुछ भी लक्षण दिखाई देते हैं तो आपको सबसे पहले थायराइड का टेस्ट करवाना चाहिएl आप कुछ घरेलू उपचार करके भी इसे थोड़ा कंट्रोल कर सकते हैं और उसके उपचार के लिए हमेशा डॉक्टरों की सलाह लेनी पड़ती है लेकिन कुछ घरेलू उपचार के द्वारा भी कंट्रोल किया जा सकता है| ऐसी स्थिति में आपको खाली पेट लौकी का जूस पीना चाहिए या बहुत फायदेमंद होता है| आपको एलोवेरा और तुलसी के जूस का भी सेवन करना चाहिए l काली मिर्च का सेवन करना थायराइड के लिए बहुत अच्छा माना जाता हैl साथ में आपको लाल प्याज कभी उपयोग करना चाहिएl बादाम और अखरोट का उपयोग भी थायराइड के लिए बहुत लाभदायक होता हैl आप रोजाना आधा घंटा एक्सरसाइज करते हैं तो भी आप इससे छुटकारा पा सकती हैंl अगर आप थायराइड से गिरती है तो आपको रोजाना पानी की मात्रा को बढ़ाना चाहिए क्योंकि यह विषैले पदार्थों को शरीर से बाहर निकालने में मदद करता हैl आयोडीन थायराइड को बहुत अधिक मात्रा में कंट्रोल करने में असरदार होता है इसलिए आपको नेचुरल आयोडीन टमाटर प्याज लहसुन इनका उपयोग करना चाहिएl अगर आपको थायराइड की प्रॉब्लम होती है तो आप बाजार में मिलने वाले सफेद नमक या काला नमक का उपयोग नहीं कर सकते इससे परेशानी और बढ़ जाती हैl आरा चिंता ना करें थायराइड के द्वारा लिया जाने वाला दवाई से बच्चों पर असर नहीं होता लेकिन अगर थायराइड की वजह से आपको कोई सारी समस्या हो रही है तो बच्चे को परेशानी हो सकती है इसलिए थायराइड को कंट्रोल में करने के लिए आप डॉक्टर की सलाह दीजिए और दवाई का सही समय पर उपयोग करें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mujhe thyroid ki problem hai aur mera thyroid Bhar Gaya Hai Aise Mere baby ko koi problem to nahi hogi
उत्तर: हाय डियर इससे बचने के कुछ आसान उपाय हैं 1.अधिक तनाव लेने से भी थायराइड कम नहीं होता है अतः आप तनाव कम लिया करें 2. आप खाने में आयोडीन की मात्रा को संतुलित कर के आहार करिए 3.प्रेगनेंसी के समय में महिलाओं के शरीर में हार्मोन अल बदलाव आते हैं अतः इससे भी थायराइड की समस्या उत्पन्न हो जाती है 4.यह प्रॉब्लम वायु प्रदूषण के द्वारा भी हो सकती है अतः आप शुद्ध वातावरण में ज्यादा से ज्यादा रहिए जिससे आपको आराम मिले इससे बचने के कुछ घरेलू उपाय इस प्रकार हैं 1. आप खाली पेट लौकी का जूस पी सकती है और इसके पीने के बाद आधा घंटे तक कुछ ना खाए पिए जिससे आपको आराम मिल सकता है 2. आप दो चम्मच तुलसी के रस में आधा चम्मच एलोवेरा का जूस मिलाकर सेवन करें करें तो आपको इससे छुटकारा मिल सकता है 3. आप काली मिर्च का भी सेवन कर सकती हैं इससे आराम मिलेगा 4.रात को सोते समय आप एक चम्मच अश्वगंधा का चूर्ण गाय के दो गुनगुने दूध के साथ सेवन करें तो आराम हो सकता है 5.आप योगा से भी इस पर निजात पा सकती हैं डियर थायराइड को आफ कंट्रोल रखें क्योंकि मां के स्वास्थ्य का ही बच्चे पर प्रभाव पड़ता है आप डॉक्टर के संपर्क में भी रहे|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mujhe 9 mnth chalu hai bt mere bacchu ke neck mein ak loop around hai isse bachhu ko koi problem to nhi hogi na
उत्तर: आपके बच्चे के गले में नाल फंसी हुई है जिसने घबराने की कोई बात नहीं है । कभी-कभी बच्चे घूमते रहते हैं इस से naal निकल भी जाती है। अगर नाल नहीं निकलती है तो आपको ऑपरेशन से डिलीवरी होगा, क्योंकि बच्चे को गले को पेट में रहने से कोई भी परेशानी नहीं है, लेकिन बाहर आते समय नॉर्मल डिलीवरी में नाल के कारण बच्चे के गले में दबाव पड़ सकता है।बस इसलिए यह डिलीवरी के लिए सी सेक्शन की सलाह di जाती है। लेकिन last लास्ट में कभी-कभी naal निकल भी जाती है इसलिए आप अभी बिल्कुल भी नहीं घबराइए। अच्छा संतुलित आहार लीजिए निश्चिंत रहिए पॉजिटिव थिंकिंग रखिए सब अच्छा होगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें