5 महीने का बच्चा

Question: 14mahine ke bachche ko kiyna dudh pilana chahiyr

1 Answers
सवाल
Answer: हेल्लो डीयर जहां तक मैं जानती हूं 14 महीने के बेबी को कम से कम 3 से 4 कप दूध पिलाना चाहिए यानी 800 से 900 ml जिससे बेबी का विकास सही ढंग से हो सके । आप बेबी को फुल क्रीम युक्त दूध पिलाएं इससे बेबी की ग्रोथ अच्छी होगी और उसका वजन भी बढ़ेगा । क्योंकि दूध में कैल्शियम होता है जो हड्डियों के लिए बहुत अच्छा होता है ।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: 14mahine ke bachche ko kitna dudh pilana chahiye?
उत्तर: हेलो डियर सभी बच्चे अलग अलग होते हैं और सभी बच्चों की रिक्वायरमेंट भी अलग-अलग होती है इसलिए निश्चित रूप से यह नहीं कहा जा सकता कि छोटे बच्चों को कितनी बार दूध पिलाना चाहिए आपको बस इस बात का ध्यान देना है कि आपका बच्चा खेल रहा है या नहीं आपका बच्चा चिड़चिड़ा तो नहीं हो रहा है या फिर वो तो नहीं रहा है ज्यादा अगर ऐसा हो रहा है तो इसका मतलब है कि बच्चे का पेट नहीं भर रहा है बच्चे का कोई टाइम फिक्स नहीं होता है आप ज्यादा से ज्यादा बच्चे को स्तनपान कराती रहे घबराने की आवश्यकता नहीं है कि बच्चे को ज्यादा दूध पिलाने से उसका पेट खराब हो जाएगा इस बारे में आप बिल्कुल भी चिंता ना करें आप बच्चे को ज्यादा से ज्यादा स्तनपान कराती रही इससे बच्चे का इम्यूनिटी सिस्टम भी मजबूत होगा और उसका वजन भी बढ़ेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: odacet do mahine ke bachche ko kitni bund pilana chahiye
उत्तर: हेलो डियर , आपका बेबी जितने टाइम दूध पिता है उतने टाइम उसको दूध पिलाओ . बेबी जब भि रोयें उसको दूध पिलाओ बेबी की भुक पुरी हुई तो बेबी अछेसे सो ज़ात है .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Night ke samay baby ko kitni bar dudh pilana chahiye
उत्तर: बेबी को हर 2 घण्टे में दुद पिलाना चाहिए .. ... चाहें वो सोया हाइ क्यू ना हो ... बेबी को जागा के दुद pilaye
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: बच्चे को घुट्टी पिलाना बेहतर है या नहीं?
उत्तर: हेलों आपका बेबी 3 महीने का है बच्चों को घुटी नही देना चाहिए लेकिन अगर आप चाहती है तो 6 महीने पूरे होने के बाद ही बच्चे को घुटी दे .6 महीने तक माँ का ढूध या फॉरम्यूला मिल्क ही पिलाये .ै माँ के ढूध से ही बच्चे को सारे न्यूट्रिशन मिल जाते है आप अपना खांना हेल्थी और संतुलित रखें ताकि बच्चे को पूरा न्यूट्रिशन मिल सकें माँ का ढूध बच्चे का इम्यूनिटी पावर बढ़ाता है और बच्चे को बीमारी से दूर रखता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें