6 महीने का बच्चा

Question: मेरी बेटी bht टाइट पॉटी kr रही h..उसको bht पेन भी होता h..और वो चिलाती भी h...m क्या करूँ

1 Answers
सवाल
Answer: बेबी के पार्टी कड़ी होने का प्रमुख कारण कब्ज की प्रॉब्लम है आप बेबी को सुबह उठे साथ हल्का गुनगुना पानी पिलाएं रात को भीगे हुए किशमिश ,मुनक्का babyको अच्छी तरह से मसलकर खिलाए ,बेबी के खाने में तरल चीजें जरूर दें नारियल पानी ,फलों का जूस deऔर बेबी को दिन में दो-तीन बार पानी थोड़ा,-थोड़ा करके पिलाते रहें , विभिन्न प्रकार के फल व दलिया अवश्य खिलाएं जिसने फाइबर होता है जिसके कारण कब्ज की समस्या धीरे-धीरे बेबी को कम होने लगेगी|
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Meri beti kuch din se boht tight potty kr rhi h Kya kru 9 mnth m chl rhi h
उत्तर: हेलो डियर आप बिल्कुल भी परेशान ना हो छोटे बच्चों में अक्सर कब्ज की प्रॉब्लम हो जाती है मैं आपको सबसे अच्छा तरीका बता रही हूं जिसकी मदद से आप अपने बेबी के कब्ज से छुटकारा पा सकते हैं उसका अच्छे से पेट भी साफ होगा और उसको पॉटी करने में प्रॉब्लम भी नहीं होगी बेबी के पेट का अच्छे से मालिश करें जिस तरह से घड़ी गोल गोल घूमती है उसी तरह से आप अपने हाथों से बेबी का गोल गोल करके मालिश करें कम से कम 5 से 10 मिनट तक कैसे मालिश करें आप सुबह और शाम दोनो टाइम बेबी के पेट का मालिश करें इसका असर आपको दूसरे ही दिन दिखेगा बेबी का पेट अच्छे से साफ होगा और उसको पॉटी करने में प्रॉब्लम भी नहीं होगी बेबी को दूध या डेरी प्रोडक्ट का ज्यादा उपयोग ना करें आप बेबी को दूध पिला सकती हैं मगर कम मात्रा में ही पिलाएं 1 दिन में कम से कम 1 गिलास ही दूध पिलाएं क्योंकि दूध भी बच्चों के लिए जरूरी होता है और बेबी के पेट की मालिश अरंडी के तेल से करें बेबी को पानी अधिक मात्रा में पिलाएं क्योंकि पानी के कमी के कारण भी कब्ज की प्रॉब्लम होती है खाना खिलाते समय बीच-बीच में पानी ना पिलाए जरूरत पड़ने पर ही पिलाएं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri beti ek sal ki hai usko kuch bhi khilao potty kr deti h kya kru
उत्तर: हेलो डियर छोटे बेबी को दस्त की प्रॉब्लम हो जाती है और यह अधिकतर 6 महीने से 2 साल तक के बेबी को ज्यादा होती है इसके लिए आप घबराएं नहीं और कुछ घरेलू उपाय करके देखें जिससे बेबी को दस्त में आराम मिलेगानमक ऑर चीनी का घोल बनाए नमक चीनी को समन मात्रा मि मिलना बार बार इस घोल को पिलाएं मगर याद रखें की घोल ताजा रहे दूसरे दिन उस घोल का उपयोग ना करें जायफल को पानी में घिस्कर आधा चम्मच दो तीन बार piलाएं बेबी को बनाना सीखना है क्योंकि केला खाने से भी दस्त में आराम मिलता है आप चाहें तो बेबी को खाली अकेला भी खिला सकते हैं और आराम ना होने पर डॉक्टर से सलाह ने
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Meri beti bahut patla potty kr rhi h kya kru
उत्तर: हेलो , आप घबराइए मात . जैसे जैसे बच्चे baदे होते है, बच्चे कुछ भी उठा कर मुँह भी डालने लगते है. जिसकी वजह से इन्फेक्शन हो जाता है पेट में. कई बार उनका खाना डाइजेस्ट नहीं हो पाता, जिसकी वजह से बच्चे का पेट ख़राब हो जाता है और लॉस मोशन होने लगते है. आप बच्चे को ors पीलाए अगर वो ना हो to नमक चीनी का घोल पीलाए, हल्का खाना खिलाए जिसे खिचड़ी , दलीया , उसको जबरज़स्ती कुछ भी ना खिलाए, साफ़ सफाई का ध्यान दे, नाऋयल पानी पीलाए, अनार का जूस भी de सकती है, छछ पीलाए या दही खिलाए, केला खिलाए. इज सब चीजो को खिलाने से बच्चो में दस्त डोर हो जाते है
»सभी उत्तरों को पढ़ें