20 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: मुझे बाथरूम करते टाइम निचे पेट मे बोहोत दरद हो रहा मे क्या करु कोई प्रॉब्लम की बात है ??

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर , प्रेग्नेन्सी में दर्द होना आम बात है .प्रेग्नेन्सी में हर्मोन्स चेंज होने के कारण पेट में kamar में दर्द होता रहता है . प्रेग्नेन्सी में वज़न बढनां और हर्मोन्स चेंज होना ,मांसपेशियां अलग होना , टेंशन लेना ,सही तरहसे ना बैठना इन करनोसे प्रेगनेन्सी में कमर दर्द और पीठ दर्द होता रहता है .और इसे राहत पाने के लिए आप व्यायाम भि कर सकती हों डॉक्टर के सल्ले के नुसार ,आप पीठ की और कमर की मालिश कर सकते हों , आप सही मुद्रा में उठें और बैठे , आप मैटर्निटी बेल्ट भि लग सकती है , भारी सामान मत uthaiye ,और पेट के बल ना ज़ुके .और आपका दर्द सहन करने जैस न हों तों आप अपने डॉक्टर से कन्सल्ट कीजिए .ख्याल रखें डियर .
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मुझे कल रात से पेट मे दरद हो रहा है कोई प्रॉब्लम की बात तो नही
उत्तर: हेलो डियर वैसे तो प्रेगनेंसी में पेट में दर्द होना सामान्य बात है लेकिन यदि आप की प्रेग्नेंसी के नौवें महीने में आपको पेट में दर्द महसूस हो रहा है तो आपको डॉक्टर से सलाह जरूर लेना चाहिए ताकि यह पता चल सके कि आपको पेट में दर्द क्यों है और यदि आपको लगातार पेट में दिनभर दर्द महसूस हो तो हो सकता है कि आपका लेबर पेन हो इसलिए डॉक्टर से सलाह लेना बहुत जरूरी है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हाइ मुझे लागत है की बेबी निचे की और पूस कर रहा और पेट के निचले हिस्से माई दरद हो रहा है मे क्या करु ?
उत्तर: हेलो डियर ,"""'पेट के नीचे हिस्से में होने वाला दर्द नॉर्मल है बेबी के वेट और ग्रोथ के कारण पेट पर बेबी के वजन से दबाव पड़ने लगता है जिससे कि पेट में निचले हिस्से से हल्का हल्का दर्द का अनुभव होने लगताhai.. पेट के दर्द को कम करने के लिए आप एक ही स्थिति में ना खड़े रहे अपनी पोजीशन को बदलते रहे बीच-बीच में हलचल करत अत्यधिक भारी शारीरिक श्रम ना करें भारी-भरकम सामान ना उठाएं जुड़ने वाले काम ना करें नींबू पानी ,पानी ,शरबत ,जूस आदि ले उससे आपको राहत मिलेगी left side Sone Ka Prayas kare ..अत्यधिक दर्द बढ़ जाने पर डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं' |
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे ना रात मे बाथरूम करते टाइम थोड़ा ब्लीडींग हो गयी घबड़ाने की बात नही एन है
उत्तर: अभी आपको ९ वीक हुए है. और प्रेगनेंसी के शुरुआत के महीनो में हलकी सी ब्लीडिंग लगभग १५- २० फीसदी महिलाओँ को होती है. इसका कारन गर्भाशय का विस्तार , सेक्स , होर्मोनेस में चेंज , या और कोई भी हो सकता है. पर जब भी ब्लीडिंग हो , इस बात की जांच डॉ से करवाना जरुरी है.
»सभी उत्तरों को पढ़ें