गर्भावस्था की तैयारी

Question: सेक्स प्रॉब्लम के बेअर me puchna ठा

1 Answers
सवाल
Answer: हेलों आपका सवाल क्या है आप पूँछें हम पूरी कोशिश करेगें कि आपकी मदद कर पाये .
  • avatar
    Komal Panchal920 days ago

    मेरे पति की उमर 27 है वो सेक्स नही कर पाटें सेक्स करने की कोसीस करे तो पैन होता है

समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: 2 मंथ्स का मिसकैरेज हो ज्ञा 19 सेप को .. फर्स्ट कोनसिव ठा . आब आगे के बेअर मि bataye . ताकि jaldi.से कन्सिव हो ऑर हेल्थी बेबी के liye
उत्तर: आप बिल्कुल घबराएंगे नहीं आप डॉक्टर के निर्देशों का पालन कीजिए आपके पहले भी मिसकैरेज हो चुके हैं इसलिए आप डॉक्टर की निगरानी में बने रहिए मिसकैरेज होने का कारण जानिए और उसी सबसे प्रिकॉशन लीजिए आप डॉक्टर के निर्देशों का पालन कर सकती हैं क्योंकि उन्होंने आपका केस देखा हुआ है इसलिए पर जो भी सलाह देंगे आपके और आपके बच्चे की भलाई के लिए ही होगा आप बेड रेस्ट कीजिए और डॉक्टर से पूछते रहिए कि आपको क्या-क्या और प्रकाशन लेनी है आप गर्भपात के बाद दोबारा 5 से 6 महीने के भीतर आप अपना दूसरा गर्भधारण कर सकती हैं लेकिन इस दौरान आपको बहुत सारी बातों का ध्यान में रखना चाहिए हालांकि गर्भपात का सबसे बड़ा कारण तनाव या फिर शारीरिक समस्या हो सकती है लेकिन इसके बाद भी आप 5 से 6 महीने के भीतर गर्भधारण कर सकती हैं कभी-कभी कुछ महिलाओं को डर लगा रहता है कि एक बार गर्भपात होने के बाद दोबारा ना हो जाए इसलिए वह लंबे समय तक बहुत इंतजार करती है लेकिन 5से 6 महिना काफी रहता है इसके लिए सबसे पहले आपको यह जानना होगा कि पहली बार गर्भपात किसके वजह से हुआ और उस वजह को ध्यान में रखते हुए ही आप दूसरे बच्चे के बारे में सोचें आप कुछ बातों को ध्यान में रखते हुए abortion खतरे को कम कर सकते हो जैसे ज्यादातर गर्भपात महिलाओं के गिरने के कारण हुई है, ऐसे में महिलाएं प्रेगनेंसी के दौरान संभल कर चलें असुरक्षित सेक्स भी इसका एक कारण हो सकता है, ऐसे में इस तरह के सेक्स करने से बचें कुछ महिलाओं में उम्र का अधिक होना भी गर्भपात के कारण को पैदा करता है, क्योंकि प्रेगनेंसी के लिए भी एक उचित समय की जरूरत होती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: डिलिवरी के बेअर एम कुछ उपय
उत्तर: नॉर्मल डिलीवरी के लिए बहुत जरूरी है कि प्रेग्नेंसी में आप क्या खा रहे हैं और क्या नहीं खा रहे हैं यह भी आपके नोर्मल डिलिवरी योगदान देते हैं। ऐसी अवस्था में आप सही समय पर सही आहार खाएं। प्रेगनेंसी में आयरन और कैल्शियम की कमी नहीं होनी देनी चाहिए इसके लिए हरी सब्जियों का सेवन करना चाहिए.अपने आहार में  जूस, अंडा और फल आदि को शामिल करें। इससे आपको और आपके पेट में पल रहे बच्चे को प्रोटीन और विटामिन मिलते रहेंगे। गर्भावस्था के दौरान यह ध्यान रखिए कि शरीर में पानी की कमी न हो। पानी केवल आपको हाइड्रेटेड ही नहीं रखता बल्कि नोर्मल डिलिवरी पाने में आपकी सहायता भी करता है। गर्भवती महिला को हर दिन रोजाना 8 से 10 गिलास पानी पीना सेहतमंद होता है और पानी की कमी दूर होती है प्रेग्नेंसी में नॉर्मल डिलीवरी हो इसके लिए आप सांस लेने वाले प्राणायाम कर सकती हैं। इसका फायदा यह होता है कि उचित और पर्याप्त ऑक्सीजन बेबी को मिलती रहती है, जिससे बच्चे का सही तरह से विकास भी होता है। इसलिए नियमित रूप से ध्यान और सांस लेने वाले प्राणायाम कीजिए। अधिक से अधिक तरल पदार्थों का सेवन करना चाहिए और 10 से 12 गिलास पानी प्रतिदिन पीना चाहिए तथा नारियल पानी का सेवन प्रतिदिन करना चाहिए इससे आपका शरीर हाइड्रेटेड रहेगा और आपको जल्दी कोई संक्रमण नहीं होगा यह भी नॉर्मल डिलीवरी के लिए सहायक है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: ट्विन्स के बेअर btao
उत्तर: Hello dear. ap apna prashn poorn roop se phir se pooche aise adhe adhure prashn ko samajh pana mushkil. apko madad tabhi mil paegi jab ap apna prashn poora poochenge.
»सभी उत्तरों को पढ़ें