33 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: एमनीओटिक फ्लूइड ज्यादा होने से कोई प्रॉब्लम होती है क्या

1 Answers
सवाल
Answer:  ही डियर,  एमनीओटिक फ्लूइड या बेबी के आसपास का पानी एडुक्विटी मात्रा में होना बहुत ज्यादा जरूरी होता है ज्यादा होने के कई कारण हो सकते हैं जैसे कि बेबी की बॉडी में फ्लूड का जम जाना , बेबी का एक्ष्केस में यूरीन पास करना बेबी का सही से एमनीओटिक फ्लूइड एबसोर्ब ना करना मां का डायबिटिक होना बेबी का डाइजेस्टिव ब्लॉकेज होना इसके बहुत सारे कारण हो सकते हैं इससे बच्चे की डिलीवरी प्रीटर्म हो सकती है बच्चे को एनआईसीयू में भी रखना पड़ सकता है इससे एक्सेसिव ब्लीडिंग हो सकती है आपको और अंबिलिकल कॉर्ड से बच्चे को खतरा भी हो सकता है लेकिन घबराइए नहीं इसके कुछ उपाय भी है आप डॉक्टर से लगातार संपर्क में रहे यदि ज्यादा मात्रा में आपका फ्लूड एक्सेस नहीं है तो कुछ उपाय भी हो सकते हैं इसके लिए एयर ट्रीटमेंट किया जाता है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: प्रेगनेंसी में लूज मोशन ज्यादा होने से कोई प्रॉब्लम है क्या
उत्तर: हेलो डिअर, प्रेग्नेंसीय के समय बहुत सी सावधानिया बरतनी पड़ती है नही तो बच्चे और माँ दोनो को मुसीबतों का सामना करना पड़ सकता है उनमे से एक समस्या प्रेग्नेंट लेडी को दस्त आना भी है दस्त को ठीक करने के लिए कुछ घरेलू उपाय इस तरह से करे , आपको ऐसे में आपको अधिक से अधिक पानी पीना चाहिए , आप पानी मे नमक , चीनी का घोल बना भी पी सकती है इससे आपको पानी की कमी नही होगी , नाभि के आस पास अदरक का रस मलने से दस्त बंद हो जाएगा सौफ और सफेद जीरा दोनो बराबर वजन लेकर तवे पर भून लें और बारीक पीस कर 3 ग्राम को मात्र से 2 या 3 घंटे की अंतर से पानी के साथ ले इससे दस्त कम हो जाएगा थोड़ी मेथी , हींग , और काला नमक बराबर मात्रा में लेकर पानी के साथ खा ले इससे भी दस्त कम हो जाता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: क्या वजन ज्यादा होने से कंसीव करने में प्रॉब्लम होती है
उत्तर: हेलो डियर वजन ज्यादा होने की वजह से बेबी प्लानिंग करने में प्रॉब्लम आती है इसलिए आप सबसे पहले अपना वजन यदि ज्यादा है तो उसे नॉर्मल करें उसके बाद प्रेग्नेंसी रखने के लिए इंटर कोर्स करने का सही समय जरूर ध्यान में रखना चाहिए पीरियड के 28 दिन में जो 14 माँ दिन होता है वह ओवुलेशन का होता है और यह पीरियड शुरू होने के बाद गिना जाता है इसलिए यदि आप बेबी प्लान करना चाहते हैं तो इसी 12 से 18 दिन के अंदर इंटर कोर्स करना चाहिए ऐसा करने से प्रेग्नेंसी जल्दी होती है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: ब्रीच बेबी होने से क्या प्रॉब्लम होती है
उत्तर: डियर बीच बेबी का मतलब होता है कि सर ऊपर और पांव नीचे ... इस केस में नार्मल डिलीवरी होना पॉसिबल नहीं होता इसीलिए सिजेरियन करनी पड़ती है इससे बच्चे को कोई भी प्रॉब्लम नहीं होती है और ना ही आपको ब्रेअच बेबी भी आम बच्चों की ही तरह हेल्दी होते हैं .....
»सभी उत्तरों को पढ़ें