33 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: हेलो mem mera 8month chal rha he ... or me kya kru ki delevery normal ho jaye

2 Answers
सवाल
Answer: hello डियर ,नॉर्मल डिलीवरी के लिए आप कुछ प्रयास कर सकती हैं *डॉक्टर द्वारा दी गई समय सभी दवाइयों का सही तरीके रेगुलर यूज करना| * नियमित रूप से मंथली चेकअप कराना * डॉक्टर द्वारा रेकमेंडेड की गई सभी प्रकार की जांच जैसे सोनोग्राफी ,अल्ट्रासाउंड आदि को समय पर कराते रहना| * संतुलित एवं पौष्टिक आहार लेना| * 10 से 12 गिलास पानी पीना | *हल्का व्यायाम ,हल्की वॉक, प्राणायाम ,योगा आदि करना *पर्याप्त मात्रा में नींद लेना ,आराम करना चाय, कॉफी, कोल्ड ड्रिंक ,मादक पदार्थों का सेवन ना करना *शरीर में एच बी की पर्याप्त मात्रा होना | *स्ट्रेस ना लेना | *मेथी का सेवन करें नार्मल डिलीवरी होने में मदद मिलती है|
Answer: आप हेल्थी बैलेन्स खाना लीजिए , अपने suppliments टाइम पे लीजिए और जितना आप से हो सकें उतना वॉकिंग कीजिए . आप जितने ऍक्टिव रहोगे उतना आपके लिए अच्छा है . अगर आपके आस पास में कोई trained योगा टीचर है तो आप उनकी मदद से प्रेग्नेन्सी योगा भी कर सकते हो , इसे आपके मसल्स रिलैक्स होते है और नॉर्मल डिलिवरी में मदद मिलती है . आप रिलैक्स रहें और जितना आपसे हो पाये उतना ही करे
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mem muje normal delevery krani he mera 7 month chal rha he to muje abhi se kya krna chahiye ?
उत्तर: डिलीवरी नार्मल होगी या ऑपरेशन से ये कोई नहीं बता सकता. अगर आपकी प्रेगनेंसी में कोई कम्प्लीकेशन नहीं है और माँ और बच्चे की तबियत ठीक है तो डिलीवरी नार्मल हो सकती है. आप कोई चिंता किये बिना पौष्टिक खाना ले. ज्यादा पानी पिए. और अगर आपकी प्रेगनेंसी में कोई कॉम्प्लीकेशन्स नहीं है तो हो सके उतना वाकिंग करे.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mem mera 4 month chal rha h mere baby me pani kam h kya kru jisse pani pura ho jaye
उत्तर: इसमें बच्चे का पूरा डेवलपमेंट होने में प्रॉब्लम हो सकती है पानी की कमी से बच्चे का भरपूर पोषण नहीं हो पाता है और इसके कारण बच्चे के बर्थ में भी देरी होती है पानी की कमी से बचने के लिए आप कुछ उपाय भी कर सकती हैं जैसे कि जितना हो सके आराम करें कम से कम 8 से 10 गिलास पानी रोजाना पीएं ऐसे फल और सब्जियों का सेवन करें जिसमें पानी की मात्रा ज्यादा हो जैसे खीरा, टमाटर, तरबूज ,पत्ता गोभी ,फूल गोभी ,पालक , अंगूर, सेब जब आप आराम करें तो बाए तरफ करवट लेकर सोने क्योंकि ऐसा करने पर ब्लड सरकुलेशन यूट्रस की तरफ बढ़ जाता है जिससे एमनीओटिक फ्लूइड बढ़ता है नारियल पानी का सेवन अधिक से अधिक करें कम से कम दिन में दो ग्लास दूध पिया लंबे समय तक बैठकर घर की साफ-सफाई झाड़ू पोछा ना करें अगर आप बीपी कंट्रोल करने के लिए दवा ले रही है तो अपने डॉक्टर को जरूर बताएं क्योंकि यह दवाइयां एमनियोटिक fluid को कम कर सकते हैं इन सब चीजों का ध्यान रखें अपना ख्याल रखिए सब ठीक होगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mem mera 8month chal rha h or mera रंग sawla hota ja rha h ye kyu ho rha h
उत्तर: प्रेग्नेंसी के समय शरीर मैं हार्मोन में बहुत अधिक परिवर्तन होता है महिलाओं में पाए जाने वाले हार्मोन जैसे एस्ट्रोजन प्रोजेस्टेरोन मिले नो साइड उत्तेजक हार्मोन और अन्य हार्मोन में बहुत परिवर्तन होने के कारण त्वचा के रंग में भी परिवर्तन आने लगता है इसके अलावा प्रेग्नेंसी में वजन बढ़ने के साथ त्वचा में स्ट्रेच मार्क भी आ जाते हैं यह ज्यादातर पेट और हाथ पैर में दिखाई देते हैं खेसारी परिवर्तन प्रेगनेंसी में आपको देखने के लिए मिलेगी लेकिन आपको चिंता नहीं करनी है kyuki yeसमस्या डिलीवरी के बाद काफी हद तक के ठीक हो जाती है प्रेग्नेंसी के समय हमारा स्किन बहुत सारे बदलाव से गुजरता है जिसकी वजह से त्वचा में कालापन आ जाता है यह सिर्फ डिलीवरी तक रहता है उसके बाद यह अपने से ठीक हो जाता है लेकिन अगर आप इनसे बचने के लिए कुछ घरेलू उपाय कर सकते हैं जैसे कच्चा दूध और टमाटर की पीढ़ी को मिक्स करके अपने त्वचा पर लगाएं कच्चा दूध दाग धब्बों को दूर करने में मदद करता है जेल भी यूज़ कर सकते हैं यह भी आपकी त्वचा को कालापन होने से बचाएगा संतरे के छिलके को धूप में सुखाकर उसका पारवारिक पाउडर बना ले और इस पाउडर को दूध में मिक्स करके लगाएं इन सारी चीजों का उपयोग करने से आपके स्किन में ग्लो और चमक दिखाई देगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mera 8month chal rha hai ar mere vergina me bahut pain ho rha hai kya kru please help me doc
उत्तर: हेलो डियर Pregnancy में प्राइवेट पार्ट में दर्द होना नॉर्मल है जैसे जैसे बेबी की ग्रोव्थ बधती है तो uterus का साइज़ भी इन्क्रीज होने लगता है और पेल्विक हिस्से की मांसपेशियों पर दबाव पड़ने लगता है और प्राइवेट पार्ट में दर्द होने लगता है प्राइवेट पार्ट का दर्द दूर करने के लिए आप ज्यादा देर तक एक जगह पर खड़ी ना रहे और ना ही ज्यादा देर तक कहीं पर बैठे। आप एक करवट में भी ना सोए ।रोज सुबह थोड़ी देर के लिए टहलने जाए ।इससे आपको प्राइवेट पार्ट के दर्द में आराम मिलेगा। इससे आपके बेबी को कोई प्रॉब्लम नही होगी।
»सभी उत्तरों को पढ़ें