17 महीने का बच्चा

Question: हेलो mem मेरी बेटी खाना नहीं खाती h क्या करूं

1 Answers
सवाल
Answer: छोटे बच्चे अकसर खाने को लेकर बहुत परेसान करते है इसलिए आप भुक लगने पर ही बेबी को खानें के लिए दें कभी कभी बेबी रोज एक ही जैसा टेस्ट के खाने से बोर हो जाते है इसलिए कुछ अलग खिलाने की कोसिसि करें लिक्विड चीज़ें दें जैसे की ताजे फ़लो का जूस इस्से बेबी का पेट भि भेड़ेगा ऑर ताकत भि मिलेगी कुछ भि खिलाते टाइम बेबी का दयान किसी खिलोने या कुछ ऑर में लगवा सकती है जिस्सर बेबी खेलने में बिजी रहे तो आप उस वक्त खाना खिला सकें एक ही बार में जादा खिलाने की कॉशस ना करें थोड़ी थोड़ी करके खिलाते रहें
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी बेटी कुछ खाना नहीं खाती क्या करूं kyq बनाके दूं अभी 10 मंथ की है
उत्तर: आप बच्चे को उसके मन पसंद का खाना बनाकर दे सकते हैं बच्चे आलू के पराठे आराम से खा लेते हैं आप बच्चों को बॉयल्ड आलू मैश करके खिला सकते हैं बनाना खिला सकते हैं इसके अलावा सूजी की खीर बनाकर दे सकते हैं बेसन का चिल्ला बनाकर दे सकते हैं सूजी का हलवा बनाकर दे सकते हैं और वेजिटेबल सूप पीला सकते हैं एक टाइम दलिया जरूर खिलाएंगे चाहे आप मीठा दलिया बना देya नमकीन दलिया बना दे ऐसे चेंज कर करके बनाकर खिलाएं इससे बच्चे आराम से खा लेते हैं और बच्चे को कलरफुल प्लतेस mein खिलाए और खेल-खेल में ही खिलाना पड़ता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी खाना नहीं खाती है क्या करे
उत्तर: अगर आपका बेबी खाना नही खता है तो आप उसे खाना खिलाने के लिए निम्न उपाय कर सकती है-आप अपने बच्चे को सेहतमंद खाना दें और उसे ऐसे दें कि देखने में अच्छा लगे और उसका खाने का मन करे।खिलाते समय बच्चे को कभी मत डालिए इससे बेबी के मन में डर बैठ जाता है।आप एक ही समय में बेबी को ज्यादा खिलाने की कोशिश ना करें उसे थोड़ी थोड़ी देर में खिलाते रहे।बच्चे को खाने के साथ दही जरूर खिलाएं।सौंफ का पानी रोजाना बच्चों को पिलाने से उनकी भूख बढ़ती है।बच्चे को भूख न लगना या बच्चा कुछ नहीं खाता एक सामान्य सी बात है और यदि आपका बेबी स्वस्थ है खुश है और ऐक्टिव है तब आपको चिंता करने की जरूरत नहीं ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी बेटी खाना नहीं खाती किया करूं में
उत्तर: अगर आपकी बेटी खाना नहीं kha रही है तोह आप use थोड़ा थोड़ा खिलने की कोशिश करे और वही खिलाए जो आपकी बेटी को अच्छा lge khane में
»सभी उत्तरों को पढ़ें