11 महीने का बच्चा

Question: हेलो मैं मेरा बेबी बनाना मिल्क ज्यादा खाता है तो उसे दिन में कितनी बार दे सकती हूं

1 Answers
सवाल
Answer: आपको दिन भर में उसे एक बार ही देना है और उसे आप रोज भी ना दे आपको उसे हफ्ते में तीन बार दे सकते हैं बहुत ज्यादा खाने से बच्चे की छाती में कफ बन सकता है और उसे तकलीफ हो सकती है फिलहाल में बारिश शुरु है और ठंडक माहौल में ज्यादा है इसीलिए आप थोड़ा सा ध्यान रखें
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेबी 6 महीने का हो गया है उसे खाने में मैं क्या दे सकती हूं और कितनी बार
उत्तर: हेलो डियर अब आपका बेबी 6 महीने का हो गया है अब आपको सॉलिड फूड शुरु करना चाहिये। अगर बेबी को हर 2 घन्टे मे आप कुछ खाने को देती हैं तो बेबी का वजन भी बढ़ेगा और बेबी का विकास भी होगा। आप दिन में 3 बार भोजन दे सकती हैं जिसे अच्छी तरह से पकाया जाना चाहिए। 8-- बजे - बीएम / एफएम सुबह 9 बजे रावा इडली , ओट्स रागी डोसा, सूजी खीर, केला, दलिया, पेन्केक सेब प्यूरी (कोई भी एक) सुबह 11बजे-- बीएम / एफएम 12बजे-- मसला हुआ केला, दही, 1बजे-- Khichdi, आलू और गाजर Khichdi, दही चावल, रागी दलिया, veggie के साथ suji upma 3बजे-- बीएम / एफएम 5बजे--कोई नरम फल, दही, उबले हुए आलू, सेब प्युरी 7बजे-- उत्तम, सूजी खीर, चावल के साथ मूंग दाल, कच्चे केले का दलिया, जौ अनाज, गेहूं अनाज दलिया। अन्य खाद्य पदार्थ जो आप 6 महीने के बेबी को खिला सकती हैं। रागी या बाजरा दलिया, रागी खीर, दाल पानी, चावल का पानी, ऐप्पल और केला, ऐप्पल प्यूरी, चिकू प्यूरी, कद्दू प्यूरी, गाजर प्यूरी, ब्रोकोली प्यूरी, आलू मैश, मीठे आलू प्यूरी, आलू और गाजर के साथ दलिया दलिया सूप, वेगी खिची, एवोकैडो प्यूरी, सब्जियों के सूप, मखाना खीर पपीता प्यूरी, तरबूज, ऐप्पल खीर, सूजी और केले दलिया। आदि।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बच्चा सिक्स मंथ का है मैं उस दिन में कितनी बार सॉलि़ड फूड खाने को दे सकती हूं
उत्तर: हेलो डियर सुबह के समय आप अपने शिशु को अपना दूध पिलाएं, क्योंकि इस समय शिशु के लिए स्तनपान सबसे अच्छा माना जाता है। इसलिए शिशु के उठते के साथ ही आप उन्हें स्तनपान कराएं। जब आप शिशु को मालिश के लिए ले जा रही हों यानि कि नहाने से पहले तब आप उन्हें दाल का पानी पीने के लिए दे सकती हैं। क्योंकि यह उनके लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। लेकिन, इस बात का ध्यान रहे कि शिशु को इस समय सिर्फ उबला हु दाल का पानी दिया जाना चाहिए, बिना तड़का लगा हुआ। नहाने के बाद आप अपने शिशु को अपना ही दूध पिलाएं, क्योंकि इस समय शिशु स्तनपान करते करते ही गहरी नींद में सो जाते हैं। क्योंकि, मालिश और नहाने के बाद बच्चे का बॉडी रिलैक्स हो जाता है। दोपहर के समय आप अपने शिशु को घर का बना हुआ ताज़ा जूस या सूप दे सकती हैं। क्योंकि, इस समय जूस देने से शिशु में जुकाम का खतरा नहीं रहता है। लेकिन, इस बात का जरूर ध्यान रखें कि आपअपने शिशु को घर का निकला हुआ ही जूस दें। क्योंकि, बाहरी या डिब्बाबंद जूस से संक्रमण होने का खतरा रहता है। शाम के समय आप अपने बच्चे को मूंग दाल की खिचड़ी दे सकती हैं, क्योंकि इससे शिशु का पेट भरा-भरा सा रहेगा, और साथ ही इसे पचने में भी आसानी होगी। रात में सोने से पहले कोशिश करें कि आप अपने बच्चे को सूजी की खीर या दलिया दे सकती हैं। क्योंकि, इससे शिशु का पेट तो भरा रहेगा ही साथ ही रात में वह बार-बार स्तनपान की डिमांड नहीं करेगा और वह आसानी से सोया रहेगा। क्योंकि, अक्सर बच्चे भूख के कारण ही रात में उठते हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेबी सिक्स मंथ का हो गया है मैं उसे सेरेलैक कितनी बार दे सकती हूं
उत्तर: हेलो डियर आप आप के बेबी को सरलेक्स दिन भर में दो से तीन बार मे थोड़ा थोड़ा दे सकती है इज़के अलावा आप उसे दाल का पानी , चावल का पानी , पतली खिचड़ी , पोहा उपमा ये सभी चीजें खिला सकती है ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें