34 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: हेलो मेम मुझे पेट और कमर में दर्द रहता है क्या ये नॉर्मल है

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो जैसे प्रेगनेंसी के शुरुआती एक दो महीने तकलीफ देह होते हैं वैसे ही प्रेगनेंसी के आखिरी एक दो महीने तकलीफ देह होते हैं। और आप इन्हीं महीनों से गुजर रही है। जब बच्चा पूरी तरीके से डेवलप हो जाता है तो पेट में उसके लिए जगह कम पड़ने लगती है। जिसके कारण हमारे शारीरिक अंगों पर उसका दबाव पड़ता है ।जिसके कारण थकावट होती है। और स्टमक लंगस पर भी दबाव पड़ता है और उनके काम थोडे प्रभावित होते हैं। लंगस पर दबाव पड़ने से घबराहट बेचैनी सांस लेने में दिक्कत और चक्कर आना और सिर दर्द होता है। और स्टमक पर दबाव पड़ने से भूख नहीं लगती और एसिडिटी होती है जिसके कारण गले और सीने में जलन होती है और उल्टी होती है। ब्लैडर पर दबाव पड़ने के कारण पेड़ू में दर्द होता है और बार बार सुसु आती है। आप ज्यादा से ज्यादा ज्यादा पानी पीजिए। सुबह शाम वाॅक करें ज्यादा देर एक ही पोजीशन पर ना बैठे और ना ही सोए रेस्ट ले
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: पेट और कमर में दर्द रहता है क्या ये नॉर्मल है
उत्तर: Agr pain Halka hai to Normal Hai... jada hone pr doctor ki salaah se dwai le..
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे पेट में दर्द और कमर में दर्द रहता है
उत्तर: पीठ प्रेगनेंसी में kmar दर्द होना एक सामान्य बात है प्रेग्नेंसी के समय दर्द के अनेक कारण हो सकते हैं इस समय बच्चे का आकार बढ़ते जाता है जिसके कारण पेट में तनाव की स्थिति या फैलाव बढ़ते जाता है जिससे kmar में दर्द होने लगता है इसके अलावा हमारी बॉडी ऐसे हारमोंस को रिलीज करती है जोकि डिलीवरी के समय हड्डी को लचीला बनाता है और किस हार्मोन से kmar पर प्रभाव पड़ता है जिसके कारण बैक पेन होता है जैसे-जैसे डिलीवरी का समय आता जाता है खुदा पेट की मांसपेशियां जो पसलियों की हड्डी तक होती है बीच से अलग होने लगती है जिसके कारण kmar में दर्द होने लगता है पेट दर्द को कम करने के लिए आप कुछ घरेलू उपाय कर सकते हैं १: बहुत अधिक देर तक आप खड़े ना रहे या बहुत देरी तक एक ही अवस्था में बैठी ना रहे २: बैटरी के लिए ऐसी कुर्सियों का प्रयोग करें जो आपके पीठ को बिल्कुल सीधी रखती हो या आप तकिए गद्दे का भी प्रयोग पीठ को सीधी करने के लिए ३: घर में सावधानी बरतें अधिक भारीभरकम या ऐसे काम जिसने अधिक मेहनत की जरूरत हो उसे ना करें एक ही तरफ करवट लेकर सोए घुटनों को क्रॉस ना करें सोने के लिए नरम गद्दे का प्रयोग करें एकाएक बिस्तर से नहीं उठा पहले धीरे से उठा उसके बाद ही आप जमीन पर खड़े होइए अधिक टाइट कपड़े ना पहने क्योंकि इससे रक्त संचरण सही नहीं होगा और कमर में दर्द होगा इसी प्रकार हाई हील्स के का प्रयोग ना करें क्योंकि हाई हील से कमर दर्द बढ़ सकता है इस प्रकार के कुछ उपाय अपनाकर आप पीठ दर्द व कमर दर्द से आपको आराम मिलेगा इसके आलवा आप अपने पेरो की गर्म तेल से मलिस करे गुनगुने पानी में नमक डालकर पेरो को डुबोएं इससे पैर दर्द में राहत मिलेगी प्रेगनेंसी में पेट दर्द गैस अपच के कारण हो सकती है प्रेगनेंसी में पेट दर्द गैस अपच के कारण हो सकती है पेट दर्द को दूर करने के लिए फाइबर युक्त आहार लें जिससे कि पेट की समस्या कम होगी और पेट दर्द में भी कम हो जाएगी आप पुदीने की पत्तियों को पानी में मिलाकर इसका सेवन करें इससे भी पेट दर्द में कमी आएगी अत्यधिक टाइट कपड़े ना पहने हल्के और ढीले ढाले कपड़े पहने जिससे पेट दर्द की समस्या कम होगी
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो मेम मुझे पीठ में और कमर में दर्द हो रहा है क्या ये दर्द होना ठीक है
उत्तर: हेलो डियर गर्भावस्था में कमर और पीठ में दर्द होना सामान्य बात है आप बिल्कुल भी मत घबराइए जैसे-जैसे गर्भावस्था अपनी चरम सीमा की तरफ बढ़ती है वैसे वैसे आपके पीठ और कमर में दर्द बढ़ता है क्योंकि बच्चे का पूरा वजन। आपकी पीठ और पेट पर पड़ता है जिसकी वजह से आपके पेट में और पीठ में दर्द होता है आप अपनी पीठ और कमर का दर्द करना दूर करने के लिए निम्न उपाय कर सकती है पीठ का दर्द दूर करने के लिए आपको सुबह-सुबह थोड़ा बहुत टहलना चाहिए और व्यायाम भी करना चाहिए। आप जब भी सोए पीठ के बल ना सोए बल्कि आप एक तरफ को करवट लेकर सोए । आप अपने आहार पर भी ध्यान रखें संतुलित और पौष्टिक भोजन ही लें। आप अपनी पीठ और कमर का दर्द दूर करने के लिये गुनगुना सरसों का तेल लगाकर मालिश भी कर सकती है
»सभी उत्तरों को पढ़ें