13 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: हेलो पेट मे गैस होने पर क्या करे ?

1 Answers
सवाल
Answer: कई बार किसी प्रकार के भोजन के कारण भी गैस हो सकता है इसलिए आप नोटिस करते रहिए कि, आपको कौन से भोजन के कारण ज्यादा गैस एसिडिटी की समस्या होती है। और फिर आप उसे अवॉइड कर सकते हैं जैसे गोभी कुछ प्रकार की दालें कुछ प्रकार के फल जिससे आपको गैस होता है उन्हें अवॉइड कीजिए। पानी भरपूर मात्रा में पीजिए अगर आपको कब्ज की शिकायत है तो भी आपको गैस की समस्या हो सकती है इसके इसके लिए भरपूर मात्रा में पानी पीजिए और तरल पदार्थ लेते रहिए। गैस एसिडिटी की समस्या से निदान पाने के लिए बहुत ज्यादा मात्रा में एक बार ही भोजन नहीं कीजिए। खाना अच्छे से चबा-चबाकर खाइए और ऑयली तली हुई डीप फ्राई भोजन अवॉइड कीजिए। पीने के लिए हल्का गर्म पानी इस्तेमाल कीजिए इससे भी आपका खाना जल्दी pachega और गैस एसिडिटी की समस्या कम होगी। अगर आपको गैस एसिडिटी की समस्या बहुत ज्यादा है कि आपके पेट में बहुत ज्यादा दर्द हो जाता है तो आप जरूर एक बार डॉक्टर से मिलना और उनसे जरूर सलाह लीजिए।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: गैस होने पर क्या गरेलु उपचार करे ?
उत्तर: प्रेगनेंसी में कुछ भी खाने से बहोत जल्दी एसिडिटी या गैस हो जाता है. इसके लिए आप खाना एक बार में बहोत सारा न खाये. थोड़ा थोड़ा करके ज्यादा बार खाइये. अगर आपको प्रेगनेंसी में कोई कॉम्प्लीकेशन्स नहीं है और डॉ ने मना नहीं किया है तो आपसे हो सके उतना वाकिंग करे. ज्यादा पानी पिए. ये सब से आपको राहत मिलेगी. आप खाने के बाद आधा चम्मच अजवाइन पानी के साथ ले इससे भी आपको राहत होगी.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: पेट मे दर्द होने पर क्या करे
उत्तर: हेलो डियर, प्रेगनेंसी में पेट दर्द बच्चे के बढ़ते वजन के कारण पेट के निचले हिस्से me दबाव पड़ता है जिससे पेट में खिंचाव के कारण पेट के आसपास के हिस्सों में दर्द होता है इसके अलावा कभी-कभी गैस ,अपच , एसिडिटी ,कब्ज आदि के कारण भी प्रेगनेंसी में पेट दर्द होता है सामान्य पेट दर्द के लिए अदरक का रस ,पुदीने का रस ले |हींग को पानी में घोलकर पेट के आसपास लगाएं |10 से 12 गिलास पानी पिए | छाछ , दही खाएं |हल्का गुनगुने पानी में नमक व नीबू का रस डालकर पीए ,खाना खाने के बाद सौंफ या जीरा खाए पेट दर्द में राहत मिलेगी |
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: पेट खराब होने पर क्या करे ?
उत्तर: हेलो डिअर प्रेगनेंसी के टाइम digestive सिस्टम थोड़ा वीक हो जाता है और फ़ूड जल्दी डाइजेस्ट नही होता है। और अगर spicy, ऑयली फ़ूड खा ले तो प्रॉब्लम ज्यादा बढ़ जाती है। इसलिए लूज मोशन हो जाते है। जब तक लूज मोशन रहता है तब तक हल्का भोजन ही ले जैसे मूंग दाल खिचड़ी जो आसानी से हजाम होती है और साथ में दही जरुर ले। दलीय और ओट्स भी हल्का भोजन है ले सकती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें