18 weeks pregnant mother

Question: हाय मुझे ऐसे फील होता है की बेबी राइट साइड है तो मेँ बीच बीच में करवट चेंज करने के लिए राइट साइड सो सकती हूँ क्या

2 Answers
सवाल
Answer: इसमें कोई प्रॉब्लम नहीं है आप जब कंफर्टेबल फील करें तो करवट बदल सकते हैं लेकिन हां आपको एक बात ध्यान रखनी चाहिए प्रेगनेंसी में बाई करवट सोना सबसे अच्छा होता है दाहिनी यानी राइट side करवट सोने से आपके लीवर पर प्रेशर पड़ता है जिससे लीवर के ऑप्शन पर बुरा असर पड़ता है इससे आपका डाइजेशन बिगड़ सकता है और बच्चे के लिए पोषक तत्वों की कमी हो सकती है
Answer: जी हां. आप कोई भी करवट सोये जैसे आपको कम्फर्टेबल हो. इससे बच्चे को कोई परेशानी नहीं होती है. आप कोई चिंता ना करे.
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेम मुझे इंजेक्शन की सिकाइ करने के लिए पीठ के बल सोना पड़ता है मेम कोई प्रॉब्लम तो नही और मेम राइट साइड सो सकती हूँ
उत्तर: ज़्यादातर लेफ्ट साइड करकें सोएं ye आपके और आपके baby k liye फ़यदेमन्द hoga kabhi kabhi राइट साइड करकें भी सो सकती hai और पीठ के भार सोएं to अपने दोनों पैर मोड कर सोएं to ठीक रहेगा पर ज़्यादा तर लेफ्ट साइड करकें ही सोएं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: लेफ्ट करवट सोने पेन हो तो कुछ देर पोजिशन चेंज करने के लिए राइट साइड सही है या पीठ पर ?
उत्तर: thik h ya fir aap soft pillow ka use kr skte ho comfortable hoga
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो क्या मै राइट साइड सो सकती हु . मुझे लेफ्ट साइड सोने में दीकत होती है .. प्लीज़ कुछ तो बताये ..
उत्तर: हेलो डियर ,,aapko 28 week ki preganeci चल रही हैं।आपको सोने में जिस तरह से कंफर्ट फील हो आप उस तरह सो सकती हैं लेकिन प्रेगनेंसी में लेफ्ट करवट लेकर सोना बेहतर होता है क्योंकि इससे आपके ब्लड सरकुलेशन में सीधे-सीधे फायदा पहुंचता है| सीधे सोने से या पीठ के बल सोने से पेट में खिंचाव या दर्द की स्थिति बन सकती है इसलिए करवट लेकर सोना ही बेहतर होता है| बाई करवट लेकर सोने से खाना पचने में आसानी होती है साथ ही साथ कमर दर्द ,पीठ दर्द की समस्या में कमी आती है | इसलिए जहां तक संभव हो सके आप कोशिश करें कि आप बाई करवट लेकर ही सोएं|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Hi mam मै जब बैठी रहती हूँ तब मेरे छाती में दुध के निचे बहुत दर्द होता है उस पर कुछ उपाय है क्या ?
उत्तर: Hello, Dear ribs ki pain baht common hai akhir ke mahino Mai because baby ka weight or movement jyada ho jati hai or bar bar movement ke Kara ribs Mai pain hota hai.. pain Ko theek karne ke lea Aap apni peth Ko bilkul puchea karke sofa ya chair par baithe or pet Ko aage kare usse apka pet or breast Mai halka sa gap aaega or apko aram milega.. jyada tight kapde mat pehne us Karan bhi kabhi kabhi uncomfortable mehsoos hota hai..
»सभी उत्तरों को पढ़ें