37 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: हाइ mam mujhey buht jalan ho rhi है कुछ वी khane ko dil ni कर्ता . पani वी buht pi rhi हु . pls solution bataye

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर-अक्सर महिलाओं को पहली बार गर्भावस्था के दौरान एसिडिटी और छाती या पेट में जलन दरद और गैस होती है।गर्भावस्था के दौरान सीने में जलन और दरद एसिडिटी शरीर में हॉरमोनल बदलावों के कारण होती है। तैलीय या चटपटा मसालेदार खाना चॉकलेट, खट्टे फल, चाय और कॉफी, एसिडिटी को बढ़ाते है। एक गिलास ठंडा दूध या एक कटोरी दही लेने से एसिडिटी और जलन में आराम मिलता है।गर्भावस्था मे 12 गिलास पानी पीना चाहीये।एसीडिटि से बचने के लिये सोने से करीब तीन घंटे पहले खाना खा लेना चाहिए जीर्ण भोजन न करें जल्दी पचने वाले हल्के और सुपाच्य भोजन और फल फुल जूस हरी सब्जियां आदि लें।खाना खाने के कम से कम एक घंटे बाद ही सोना चाहिए जादा परेशानि होने पर डाक्टर से सलाह लें।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: हाइ डियर मेन 6 वीक प्रेगनेट हु मुझे इवनिंग ऑर मॉर्निंग सिकनेस रेहती है लेग्स वी पेन होते है मेन क्या करु ऑर कुछ कहने को दिल नि कर्ता
उत्तर: प्रेगनेंसी के शुरू के फर्स्ट ३ मंथ में ज्यादातर यह लक्छण आते ही है।। जिसमे आपको थकान , कमजोरि, उलटि, चक्कर आना स्वाभाविक है। शुरु में हमारे बॉडी में प्रेगनेंसी हॉर्मोन HCGबनता है और बहुत से हार्मोनल चेंजेस होते हैं जिसके कारण उल्टी जैसा फील होता है। उल्टी के निदान केलिय आप थोड़ी थोड़ी देर में कुछ न कुछ खाते रहिय। जिससे आपके बॉडी में शुगर की लेवल बढ़ेगी और आपको गैस अवं एसिडिटी के कारण उल्टी नहि आएगी। आप तरल पदार्थ का सेवन ज्यादा कीजिए जिससे बॉडी dehydrate नहीं होगी। संतुलित और पौष्टिक अहार लीजिए जो बेबी के विकासके लिए बहुत जरूरी है। अगर आपको बहुत ज्यादा उल्टी की समस्या हो रही है तो आप अपने डॉक्टर से पूछकर दवाई भी ले सकती हैं जो प्रेगनेंसी में सेफ हो इसलिए डॉक्टर की सलाह के बिना कोई भी दवाई उपयोग नहीं कीजिए। शुरू के कुछ मंथ बेबी जस्ट गर्भाशय में रुका रहता है उसे गर्भाशय के दिवार में अच्छे से जुङने के लिए कुछ जरुरी हॉर्मोन्स हमारी बॉडी में बनते है।। एक बार हमारी बॉडी अच्छे से प्रेगनेंसी के हॉर्मोन निकलना शुरू करदे तब आप हलके फुल्के काम कर सकती है। कभी कभी पेट में हल्का दर्द हो सकता है. हल्की spoting भी हो सकती हैं। जयादा एक्सेरशन ना करे। भारी सामान ना उठे। जयादा सीधी न चढ़े उतरे । आप चाय कॉफी का सेवन कम कीजिए और सॉफ्ट ड्रिंक अल्कोहल से दूर रहिए बॉडी को हिट करने वाले खाद्य पदार्थ थोड़ा अवॉइड कीजिए नहीं लीजिए जैसे पपीता अनानास तिल तिल के लड्डू गुड़ आप आम बैगन भी कम लीजिए. हप्पी रहे और पौष्टिक अहार ले। आप अपने खाने-पीने में खास ध्यान रखिए और संतुलित आहार लीजिए खाने में प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट ज्यादा लीजिए आप हल्का फैट वाला खाना भी खा सकती हैं जो आसानी से पचने वाला हो। आप अपने खाने में हरी पत्तेदार सब्जियां दाल चावल रोटी ग्रीन वेजिटेबल्स दूध अंडा यह सब ऐड कीजिए दिन में कम से कम दो से तीन फल खाने की कोशिश कीजिए फलों का जूस और तरल पदार्थ लेते रहिए यह सब पौष्टिक आहार आपके बेबी को ग्रोथ करने में बहुत मदद करेगा ज्यादा तकलीफ होने पर डॉ की सलाह ले। प्रेगनेंसी में यह समस्या आती है hormonal डिसबैलेंस होने के कारण हमारे हमें कभी भी घबराहट हो जाती है कभी भी हम खुश हो जाते हैं हमारा मूड स्विंग बहुत ज्यादा होता है इसके लिए आप बिल्कुल भी चिंता नहीं कीजिए प्रेग्नेंसी के जाने के बाद भी आप की डिलीवरी होने के बाद अपने आप ठीक हो जाएगा अभी आप अपने आप को खुश रखने की कोशिश कीजिए आप अपने मनपसंद का म्यूजिक सुन सकती है अपने पसंद के कपड़े पहन लिए अपने पसंद का भोजन कीजिए आप अच्छी किताबें पढ़ी है और अपने हस्बैंड से अच्छी बातें कीजिए आप थोड़ी देर साथ में टहलने भी निकल सकते हैं इससे आपका मन शांत रहेगा आप अपने मन की बातें शेयर किया कीजिए किसी से भी इससे आपको आराम महसूस होगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो मैम मेरे ट्विन्स बेबीज हाँ मेरे कुछ न खाने को दिल न करता जब थोड़ा खाती हो तो बहुत हैवी फील होता अ
उत्तर: हेलो डिअर प्रेग्नन्सी में एक्चुअली मैं ख़राब रेहना,भूख़ न लगन, कुछ सही से न खा पना नार्मल है।ये सब बॉडी में हार्मोनल चेंजेस की वजह से होता है। आपको भूख लगे या ना लगे पर फिर भी आप थोड़ा थोड़ा करके कुछ कुछ कहते रहे इससे आपको खाने का मैं करने लगेग। जो भी खायें चाहे क्वांटिटी कम लेइन, क्वांटिटी में धीरे धीरे सुधर आ जाएग। दिन में ३ बरी अच्छे से खाना लेने की बजाये आप दिन ६ बरी छोटे छोटे मील ले। ज़ायदा पानी और फ्लुइड्स जैसे कीजूस , मिल्क शकेस, कोकोनट वाटर ले जिसस खन्ने में ज़यादा से ज़यादा फाइबर और नुट्रिशन हो वो आप ज़यादा लें अपनी खाने में। आपका खन्ना खन्ना बोहोत ज़रूरी है आपके और आपके बेबी के लिए क्यूंकि अपने बेबी के लिए थोड़ा थोड़ा खाना खाएं आपका बेबी पूरी तरह आप पर डिपेंडेंट है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam mere chest me bahut jalan ho rhi hai mirchi khane ki wajah se koi solution bataye jisse thik ho jaye
उत्तर: इसके लिए आप खाना एक बार में बहोत सारा न खाये. थोड़ा थोड़ा करके ज्यादा बार खाइये. अगर आपको कोई कॉम्प्लीकेशन्स नहीं है तो आपसे हो सके उतना वाकिंग करे. ज्यादा पानी पिए. ये सब से आपको रहत मिलेगी. आप खाने के बाद आधा चम्मच अजवाइन पानी के साथ ले इससे भी आपको रहत होगी. पतली छाछ ले.
»सभी उत्तरों को पढ़ें