कुछ दिनों का बच्चा

Question: हलों डॉक्टर मेरी बेबी 4 जनवरी को हुई है ऑर 2 दिन से uske प्राइवेट पार्ट मे ब्लड आ रहा है क्या ये नॉर्मल है या डॉक्टर ko dikhau

1 Answers
सवाल
Answer: जी नहीं. प्राइवेट पार्ट में खून आना नार्मल बात नहीं है. आप डॉ से इस बात की जांच करवाए.
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी बच्ची दिन मे 4 या 5 बार पोट्टि कर रही है ..क्या ये नॉर्मल है या डॉक्टर को दिखायें ?
उत्तर: हेलो गलत तरीके से दूध पिलाने से ये पॉटी की प्रॉब्लम आती है या बेबी का पेट खराब होता है। दूध पिलाते समय आप सबसे पहले एक ब्रेस्ट के दूध को पिलाएं जब एक ब्रेस्ट का दूध खत्म हो जाये तब दूसरे साइड के ब्रेस्ट से पिलाये ब्रेस्ट में ऊपर ऊपर का दूध पतला होता है और अंदर का दूध गाढ़ा होता है पतले दूध को पीने से बच्चे की प्यास बुझती है और गाढ़ा दूध को पीने से बच्चे की भूख मिटती है ऊपर ऊपर का दूध पीला देने से बच्चे को बार बार भूख लगती है और बच्चा उस दूध को पीने से झाग वाली पॉटी, ग्रीन पॉटी,छिछड़ा पॉटी ,ड्राई,या बार बार पॉटी करता है। बच्चा होगा 1 दिन में 10 बार पॉटी करें या 10 दिन में 1 बार पॉटी करें तो भी नॉर्मल है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी डिलेवरी को 4 मंथ हो गये है ऑर मुझे फ़िर पिरियड आ गये क्या ये नॉर्मल है या डॉक्टर से consernt karu
उत्तर: hello dear इसमें कोई परेशानी वाली बात नहीं अक्सर डिलीवरी के बाद कई औरतों को पीरियड लगभग 1 साल तक नहीं आती पर इसमें कभी भी गर्भधारण होने की संभावना बनी रहती है और जिस का अनुमान लगाना भी मुश्किल होता है पर जैसा कि आपने लिखा है आपको भी 4 महीने हुए हैं डिलीवरी हुए और आप को पीरियड स्टार्ट हो गया तो इसमें कोई घबराने वाली बात नहीं अक्सर कई महिलाओं के साथ ऐसा भी होता है कि उन्हें डिलीवरी के बाद जल्द से जल्द पीरियड स्टार्ट हो जाता है इसमें अच्छी बात यह है कि आप को गर्भधारण होने की संभावना रहने पर आपको पता चल जाता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हलों डॉक्टर मेरे प्राइवेट पार्ट में वहुत दर्द हो रहा है ऑर पैरो में भी क्या ऐ नॉर्मल है ?????
उत्तर: अभी आपको ३८ वीक हुए है. अभी पेट में बढ़ रहे वजन के कारन और बदलते होर्मोनेस के कारन पेट के स्नायु और आंत पे दबाव बढ़ता है और इस वजह से वजाइना में या थाइस में दर्द या वाइट डिस्चार्ज होता है. कभी कभी जलन भी होती है. इसमें गभरiने वाली बात नहीं है. इसके लिए आप खाना एक बार में बहोत सारा न खाये. थोड़ा थोड़ा करके ज्यादा बार खाइये. अगर आपकी प्रेगनेंसी में कोई कम्प्लीकेशन नहीं है तो हो सके उतना वाकिंग करे. ज्यादा पानी पिए. ये सब से आपको रहत मिलेगी.
»सभी उत्तरों को पढ़ें